पीरियड के दर्द से निजात पाने के 10 आसान उपाय

पीरियड के दर्द के उपाय

मासिक धर्म के दौरान होने वाली असहनीय पीड़ा हर महिला के लिए एक ऐसी समस्या है जिससे वे निजात तो नहीं पा सकती लेकिन दर्द दूर करने के उपाय अवश्य तलाशती रहती हैं। 

मासिक धर्म या माहवारी के दौरान होने वाली ऐंठन को डाइस्मेनोरेहा कहा जाता है जो गर्भाशय की मांसपेशियों के संकुचन और विश्राम के कारण होती है। माहवारी में दर्द कई कारण से होता हैं। उनमें से कुछ निम्न हैं:

  • रक्त का तेज़ बहाव
  • पहला बच्चा होने के समय
  • यदि आपकी उम्र 20 से कम है या फिर आपका मासिक धर्म कुछ समय पूर्व ही शुरू हुआ है
  • अत्यधिक प्रवाह या प्रोस्टाग्लैंडीन नामक एक हार्मोन के प्रति संवेदनशीलता

मासिक धर्म के समय आपको सावधानी बरतनी चाहिए और मासिक पीड़ा को दूर करने के लिए घरेलु उपाय अपनाने चाहिए। आइये आज हम आपको पीरियड दर्द के निवारण के कुछ आसान उपायों के बारे में बताते हैं

1. अदरक

अदरक मासिक धर्म के दर्द से निजात पाने का एक बहुत ही अच्छा उपाय है। इसमें ऐसे एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो आपको दर्द से छुटकारा दिलाते हैं। 

सामग्री:
  • अदरक की एक गाँठ
  • 1 कप गर्म पानी
  • शहद
कैसे इस्तेमाल करें?
  • गर्म पानी में अदरक की गाँठ को 10 मिनट के लिए उबाल लें
  • इसे ठंडा होने दें। फिर इसमें शहद डाल दें।
  • इसे पी लें

दर्द होने पर इसे दिन में तीन बार पीयें। यहाँ ध्यान रहे कि आप अदरक को चाय के रूप में या शहद के साथ लें। ज्यादा मात्रा में खाने से अदरक के नुकसान भी हो सकते हैं।

2. ग्रीन टी

ग्रीन टी में कैतेचिन नामक पदार्थ होते हैं जो इसे चिकित्सीय गुण प्रदान करते हैं। ये एक प्राकृतिक एंटीओक्सीडैन्ट होती है जो मासिक पीड़ा और सूजन को ठीक कर देता है। (पढ़िए: ग्रीन टी पीने के फायदे)

सामग्री:
  • 1 चम्मच ग्रीन टी की पत्ती
  • 1 कप पानी
  • शहद
कैसे इस्तेमाल करें?
  • गर्म पानी में ग्रीन टी लीव्स को उबाल लें
  • 3-5 मिनट तक सिम पर उबलने दें और छान लें
  • इसे ठंडा होने दें। फिर इसमें शहद डाल दें।
  • इसे पी लें

दर्द होने पर इसे दिन में तीन-चार बार पीयें। (जानिये: ग्रीन टी बनाने की विधि)

3. अचार का रस

अचार के रस में प्रचुर मात्रा में सोडियम पाया जाता है जो मासिक धर्म के कारण होने वाले दर्द से राहत देता है। 

सामग्री:
  • 1/2 कप अचार का रस
कैसे इस्तेमाल करें?
  • आधा कप अचार का रस पी लें।

इसे आप एक बार ले सकते हैं, कोशिश करें कि दर्द शुरू होने के तुरंत बाद ले लें। 

ध्यान रखें

अचार के रस को खाली पेट न लें। 

4. योगर्ट

योगर्ट में भारी मात्रा में कैल्शियम और कुछ मात्रा में विटामिन डी पाया जाता है। ये दोनों ही तत्व मासिक धर्म के दर्द के निवारण में उपयोगी होते हैं। 

सामग्री:
  • 1 कप सादा योगर्ट
कैसे इस्तेमाल करें?
  • एक कप सादा योगर्ट खा लें।

इसे दिन में 3-4 बार लें। 

5. सेंधा नमक

सेंधा नमक में भारी मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है जो दर्द निवारक की तरह काम करता है।

सामग्री:
  • 1-2 कप सेंधा नमक
  • नहाने का पानी
कैसे इस्तेमाल करें?
  • गर्म पानी में 1-2 कप सेंधा नमक डाल लें।
  • इस पानी में 15-20 मिनट बैठ जायें।

इसे अपना मासिक धर्म शुरू होने के 3-4 दिन पहले करें। 

6. मेथी

मेथी में लाइसिन जैसे तत्व पाए जाते हैं जो दर्द निवारण में उपयोगी होते हैं।

सामग्री:
  • 2 चम्मच मेथी के दाने
  • 1 गिलास पानी
कैसे इस्तेमाल करें?
  • मेथी के दानों को रातभर पानी में डालकर रख दें
  • इसे सुबह खाली पेट ले लें

इस मिश्रण को अपना मासिक धर्म शुरू होने से 2-3 पहले से लें।

7. एलो वेरा का रस

एलो वेरा के एंटीइंफ्लेमेटरी गुण मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द से राहत देते हैं

सामग्री:
  • 1/4 कप एलो वेरा रस
कैसे इस्तेमाल करें?
  • इसे रोज़ लें। 

इसे मासिक धर्म शुरू होने के 1 हफ्ते पहले से रोज़ दिन में एक बार लें। (जानिये: एलो वेरा जूस बनाने की विधि)

8. नीम्बू का रस

नींबू में एंटीइम्फ्लाम्मातोरी गुण होते हैं जो दर्द से राहत देते हैं और इसमें मौजूद विटामिन सी आपके रिप्रोडक्टिव सिस्टम को स्वस्थ रखता है

सामग्री:
  • 1/2 नीम्बू
  • 1 गिलास पानी
  • शहद
कैसे इस्तेमाल करें?
  • गर्म पानी के गिलास में नीम्बू निचोड़ लें।
  • इसमें शहद डालकर पी लें। 

रोज़ सुबह खाली पेट नींबू पानी लें। (पढ़िए: नींबू के अन्य फायदे)

9. गर्म गद्दी(हीटिंग पैड)

हीटिंग पैड पीरियड दर्द के लिए

गर्म चीजों से सिकाई करना दर्द निवारण का एक बेहतरीन तरीका माना गया है। शोध में पाया गया है कि हीटिंग पैड से सिकाई करना कुछ दर्द निवारक दवाइयों के मुकाबले काम करता है और दर्द से राहत देता है।

सामग्री:
  • 1 हीटिंग पैड(गर्म गद्दी)
कैसे इस्तेमाल करें?
  • एक हीटिंग पैड या हॉट वाटर बैग लें
  • इसे अपने पेट के निचले हिस्से पर रखकर 10 मिनट तक सिकाई करें
  • इसके अलावा आप एक कपडे को गर्म पानी में भिगोकर भी सिकाई कर सकते हैं

जब तक आपको दर्द से राहत न मिले तब तक इसे करें।

10. कैमोमाइल टी

कैमोमाइल टी पीरियड के दर्द के लिए

कैमोमाइल एक ऐसा पौधा है जो मासिक धर्म से होने वाले दर्द के लिए जाना जाता है। ये गर्भाशय की मांसपेशियों को भी राहत देता है।

सामग्री:
  • 1 कैमोमाइल टी बैग
  • 1 कप गर्म पानी
  • शहद
कैसे इस्तेमाल करें?
  • कैमोमाइल टी बैग को 10 मिनट के लिए गर्म पानी में डाल दें।
  • इसे ठंडा होने दें फिर उसमें शहद डाल दें।
  • इसे रोज़ पीयें।

मासिक धर्म शुरू होने से 1 हफ्ते पहले से आपको इस चाय को रोज़ दो बार पीना चाहिए।

सम्बंधित लेख:

1. पीरियड जल्दी लाने के उपाय
2. चेहरे से मस्से हटाने के उपाय
3. झड़ते बाल रोकने के उपाय
4. गोरा होनें के उपाय
5. पेट कम करने के उपाय

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here