Tue. Sep 26th, 2023
    सुबह खाली पेट नींबू पानी

    क्या आप मोटापे से परेशान हैं, और आपकी त्वचा भी बेजान होती जा रही है और अपनी चमक खो रही है? अगर ऐसा है तो फिर आप को सुबह नींबू  पानी पीना शुरू कर देना चाहिए। अरे, ज्यादा सोचिए मत नींबू पानी की बात हो रही है, नींबू का जूस पीने की नहीं। नींबू-पानी में कई प्रकार के न्यूट्रिशन और पोषक तत्व मौजूद होते हैं। और सबसे अच्छी बात तो यह है कि नींबू पानी बनाना बहुत ही आसान और सस्ता है। सुबह खली पेट नींबू पानी पीने से शरीर का पाचनतंत्र ठीक ढंग से काम करना शुरू कर देता है, इतना ही नहीं शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत हो जाती है। अगर सीधे शब्दों में कहें तो नींबू पानी का सेवन आपके शरीर के लिए बेहद फायदेमंद है और आपके शरीर से सभी प्रकार की बीमारियों को दूर रखता है।  इस आर्टिकल में हम आपको नींबू पानी बनाने की विधि के साथ-साथ उससे होने वाले अन्य फायदों के विषय में बताएंगे हम आपको यह भी बताएंगे कि नींबू पानी का कितने मात्रा में सेवन करना चाहिए। तो क्या आप तैयार हैं इस आर्टिकल को पढ़ने के लिए और इसका फायदा उठाने के लिए? तो चलिए फिर।

    नींबू लिम्प सिस्टम को हाइड्रेटेड रखता है:

    दिनभर की व्यस्तता के कारण शरीर में होने वाले तरल द्रव्यों की कमी को नियमित रूप से नींबू पानी के सेवन से नहीं होती है। इसलिए जब भी आपको प्यास लगे या शरीर में पानी का स्तर कम हो जाए और ऊर्जा ख़त्म होती हुई मह्सूस हो ऐसे में नींबू पानी एक बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है।

    रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ता है:

    नींबू  में विटामिन सी की पर्याप्त मात्रा होने के कारण ये शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में बहुत ही कारगर है। साथ ही इसमें पोटेशियम की भरपूर मात्रा में होता है जो दिमाग के कोशिकाओं का संचालन सही रूप से कराता है। यह ठंड आदि से बचने में भी व्यक्ति की सहायता करता है। इसके अलाव  सी की मात्रा भरपूर होने के कारण यह अन्य खाद्य पदार्थो से मिलने वाले आयरन को शरीर तक पूर्ण रूप में पहुँचता है।

    घाव भरने में सहायक:

    नींबू में विटामिन सी की भरपूर मात्रा मौजूद होने के कारण चोट लग जाने या अन्य किसी ऐसी स्थिति में घाव को जल्दी भरने में काफी सहायक होता है। इसके साथ ही यह हड्डियों को मजबूत बनाता है और इतना ही नहीं शरीर के उत्तको को भी मजबूत बनता है, विटामिन सी के कारण  घुटनों और जोड़ों में कोई दिक्कत नहीं होती है।

    दमकती त्वचा दे:

    सभी कॉस्मेटिक और चेहरे को दाग धब्बों मुक्त रखने वाले चीजों को अपने मेकअप लिस्ट से हटा दें, और रोज सुबह बस एक ग्लास नींबू पानी पीने की आदत डालें। यह शरीर से विषैले तत्वों को निकालकर चेहरे को दाग धब्बों से मुक्त बनाता है, झुर्रियों से छुटकारा देता है।  रोजाना नींबू पानी पीने से आपकी स्किन चमकदार और स्वस्थ बनी रहेगी। (सम्बंधित: गोरा होनें के घरेलु उपाय)

    शरीर का पीएच स्तर संतुलित रखता है:

    अम्लीय होने के बावजूद  भी जब नींबू का रस शरीर के अंदर पहुँचता है तो इसका प्रभाव क्षारीय हो जाता है। और यह शरीर के अंदर होने वाली मेटाबॉलिज्म की प्रक्रिया में सहायक होता है। इसलिए रोजाना नींबू पानी पीने से एसिडिटी से भी राहत मिलता है।

    पाचन में सहायक:

    नींबू का रस की परमाणु संरचना हमारे लार के पाचन रस के समान है। इसलिए, यह भोजन को सरल पदार्थों में विभाजित करने में मदद करता है,और पाचन प्रक्रिया में सहायता से पित्त के रस के उत्पादन को भी प्रोत्साहित करता है। इसलिए, यदि एसिडिटी महसूस कर रहे हैं, तो नींबू पानी की कोशिश करें इससे राहत मिलती है।

    रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ता है:

    नींबू  में विटामिन सी की पर्याप्त मात्रा होने के कारण ये शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में बहुत ही कारगर है। साथ ही इसमें पोटेशियम की भरपूर मात्रा में होता है जो दिमाग के कोशिकाओं का संचालन सही रूप से कराता है। यह ठंड आदि से बचने में भी व्यक्ति की सहायता करता है। इसके अलाव  सी की मात्रा भरपूर होने के कारण यह अन्य खाद्य पदार्थो से मिलने वाले आयरन को शरीर तक पूर्ण रूप में पहुँचता है।

     

    शरीर को ऊर्जावान बनाये रखता है:

    सुबह सुबह नींबू पानी पीने के कारण व्यक्ति पूरे दिन की भागादौड़ी के लिए तैयार हो जाता है, उसको भरपूर मात्रा में ऊर्जा प्राप्त हो जाती है। नींबू पानी मूड को हल्का बनाता है और व्यक्ति को हल्का और ऊर्जावान मह्सूस कराता है। नींबू पानी पीने से तनाव आदि से लड़ने के लेया भी पर्याप्त मात्रा में ऊर्जा मिलती है, जो ना चाहते हुए भी आजकल के व्यस्त जीवनशैली का भाग है।

    वजन कम करने में मददगार:

    नींबू में पाया जाने वाला पेक्टिन फाइबर शरीर को भूख महसूस नहीं होने देता , जिसके कारण व्यक्ति को भूखा महसूस नहीं होता और वो असमय स्नैक्स इत्यादि नहीं खाता।  इसके अलावा नींबू पानी शरीर से विषैले तत्वों को बाहर निकालकर वजन कम करने में हमारी मदद करता है।

    विषैले तत्वों को बाहर निकालता है:

    नींबू पानी के सेवन से यूरिन के साथ शरीर से अन्य विषैले तत्व बाहर निकल जाते हैं, साथ ही यह शरीर को यूरिनल इन्फेक्शन से भी बचाता है। नींबू पानी शरीर में एन्ज़ाइम की प्रक्रिया को भी बेहतर करता है।

    खैर ये तो बात हुई नींबू पानी से होने वाले फायदों की अब बारी आती है कि नींबू पानी बनाया कैसे जाए तो चलिए आपको बताते हैं, नींबू पानी बनाने के कई मुख्य तरीके –

    नींबू पानी:

    नींबू को स्लाइस में काट कर एक ग्लास ठंडे पानी में रख कर रात भर छोड़ दें फिर सुबह उठकर उसको पी लें , इससे आपको कई फायदे हैं पहला तो यह विटामिन सी से भरपूर है दूसरा बहुत ही सस्ता और आसानी से उपलब्ध हो जाता है, शरीर की क्षमता बढ़ाता।

    शहद नींबू पानी:

    गर्म पानी में नींबू का एक टुकड़ा डाल लें और शहद मिला लें और पीने से पहले शहद को पानी में अच्छी तरह मिला लें ऐसा करने से शहद में मिलने वाला  जीवाणुरोधी एजेंट  माइक्रोबियल संक्रमण फैलने से रोकता है।

    दालचीनी नींबू पानी:

    दालचीनी की डंडी को एक कप पानी में नींबूं के टुकड़े के साथ रातभर छोड़ दें और सुबह इसका सेवन करें ऐसा करने से शरीर से विषैले पदार्थ बाहर निकल जाते हैं, और वजन कम करने में सहायता मिलती है।

    ध्यान देने योग्य बातें:

    • नींबू पानी के ज्यादा सेवन से एसिडिटी भी हो सकती है
    • पेट की अल्सर से पीड़ित लोगों को नींबू पानी नहीं पीना चाहिए
    • बच्चों को नींबू पानी पीने के लिए अनुमति देने से पहले डॉक्टर से परामर्श करेंतो, इष्टतम स्वास्थ्य प्राप्त करने के लिए नींबू पानी पीना शुरू करें पर ऊपर बताई गयी बातों का ध्यान अवश्य रखें।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *