शनिवार, जनवरी 18, 2020

नीम के फायदे चेहरे और त्वचा के लिए

Must Read

नाभिकीय भौतिकी क्या है?

नाभिकीय भौतिकी भौतिकी का क्षेत्र है जो परमाणु नाभिक का अध्ययन करता है। दूसरे शब्दों में, नाभिकीय भौतिकी नाभिक...

परमाणु भौतिकी क्या है?

परमाणु भौतिकी का परिचय (Introduction to Atomic Physics) परमाणु ऊर्जा परमाणु रिएक्टरों और परमाणु हथियारों दोनों के लिए शक्ति का...

राष्ट्रीय एकता पर निबंध

राष्ट्रीय एकता का महत्व: राष्ट्रीय एकता लोगों के बीच उनके जाति, पंथ, धर्म या लिंग के बावजूद बंधन और एकजुटता...

नीम का नाम सुनते ही, हमारे चेहरे बिगड़ जाते हैं। इनकी कड़वाहट हमें पसंद नहीं आती है। लेकिन इसी कड़वाहट के पीछे बहुत सारे नीम के फायदे छुपे हुए हैं। आयुर्वेद में नीम को चिकित्सक फायदों के लिए इस्तेमाल किया जाता है। हम नीम को कई प्रकारों में इस्तेमाल करते हैं। जैसे कि – नीम फेस पैक, नीम का पानी, नीम शहद, नीम का साबुन, और नीम का तेल। लेकिन नीम को इस्तेमाल करने का सबसे आसान तरीका है उसका पेस्ट बनाकर।

नीम के पेस्ट को बनाना बहुत आसान होता है। इसके लिए नीम के पत्तों को थोड़े पानी के साथ पीस देना होता है।

चेहरे के लिए नीम के फायदे (benefits of neem in hindi)

त्वचा पर नीम फेस पैक
नीम फेस पैक

इस पेस्ट को रोज़ाना इस्तेमाल करने से हमारी त्वचा को बहुत फायदे होते हैं। इनमें से कुछ, निम्न हैं:

चोट के निशान के लिए

नीम के पेस्ट से किसी भी प्रकार के निशान हमारे चेहरे से घट जाते हैं। इसके लिए

  1. हम अगर नीम के पेस्ट में थोड़ी सी हल्दी डालकर इस्तेमाल करेंगे, तो हमारे चेहरे और त्वचा पर इसका ज़्यादा असर पड़ता है।
  2. हर रोज़ इस्तेमाल करने पर, हमें फरक साफ नज़र आते हैं।

बेदाग त्वचा (neem for skin)

नीम पत्ते के पेस्ट से, हमारी त्वचा बेदाग हो सकती है। इसके लिए

  1. हमें नीम के पत्ते और तुल्सी को, थोड़े गुलाब जल के साथ पीस लेना चाहिए।
  2. अब इस पेस्ट का इस्तेमाल कर, हमारी त्वचा ज़रूर खिलेगी।
  3. दोनों तुल्सी और नीम के पत्ते, हमारे शरीर के बैक्टीरिया से लड़ते हैं। इसलिए, हमें ले फायदा प्राप्त होता है।

रंजकता (pigmentation) का इलाज

अगर हमें रंजकता की समस्या परेशान कर रही है, तो:

  1. चन्ने का आटा और नीम के पत्तों का एक पेस्ट बनाइए।
  2. उसमें थोड़ा नीम्बू डालिए।
  3. अब अपने चेहरे पर इस पैक को लगा लीजिए।
  4. पंद्रह मिनट बाद, अपना मुँह धो लें।

नीम का तेल और नींबू का रस को अपनाने से, आपकी समस्या का हल कुछ ही दिनों में हो जाएगा।

तेल पर नियंत्रण

नीम के पत्ते हमारे चेहरे को तैलीय होने से बचाते हैं। हमारे चेहरे पर हम तेल का नियंत्रण कुछ इस तरह से कर सकते हैं:

  1. नीम के पत्ते, योगर्ट और नीम्बू का एक पेस्ट बनाएँ।
  2. अपने चेहरे पर इसे लगाकर, 20 मिनट बाद, अपना चेहरा धो लें।
  3. नीम का तेल बालों के लिए भी लाभदायक है।

मोइस्चराइसर

नीम के पत्तों को हम एक मोइस्चराइसर के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं। ये करना काफी आसान है। इसके लिए:

  1. सबसे पहले शहद और नीम के पत्तों को मिलाकर, उनका एक पेस्ट बनाएँ।
  2. अपने चेहरे पर इसे करीबन 15 मिनट तक लगा कर, अपना चेहरा धो लें।

इससे हमारी त्वचा को पानी का तत्व उचित संख्या में मिल जाएगा।

चेहरे का निखार (neem for face glow)

त्वचा के निखार के लिए, नीम के पत्ते सबसे ज़्यादा फायदेमंद होते हैं।

  1. सबसे पहले नीम के पत्तों के साथ, गुलाब की कुछ पंखुड़ियाँ ले लीजिए।
  2. इसमें थोड़ा गुलाब जल डालकर, इसे पीस लें।
  3. इस पेस्ट को अब हम अपने चेहरे पर लगा सकते हैं।
  4. थोड़ी देर बाद जब हम अपना चेहरा धोते हैं, तो हमारी त्वचा बिल्कुल मुलायम और निखरती हुई नज़र आती है।

त्वचा के रोग का इलाज

नीम के पत्तों में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो बैक्टीरिया से लड़ते हैं। इसके कारण कई प्रकार के त्वचा के रोग हमसे दूर रहते हैं।

ये थे नीम के पत्तों के कुछ फायदे, हमारी त्वचा के ओर। यहाँ ये जानना ज़रूरी है कि नीम एक ऐसा पत्ता है जो किसी भी प्रकार के परेशानी या बीमारी को हमसे दूर रखता है। नीम के उपकरण को तो बहुत्त ही आसानी से मिल जाते हैं। लेकिन जो नीम का पेस्ट हम घर पर बनाते हैं, वो बनाने में आसान तो है ही, लेकिन घर बैठे-बैठे हम इसके फायदे अपनाते हैं। इसके कारण हमें किसी भी प्रकार के अनुचित मिलावट की चिंता भी नहीं रहती है।

अगर आपका इस विषय में कोई भी सवाल या सुझाव हो, तो आप नीचे कमेंट कर सकते हैं।

सम्बंधित लेख:

- Advertisement -

2 टिप्पणी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

नाभिकीय भौतिकी क्या है?

नाभिकीय भौतिकी भौतिकी का क्षेत्र है जो परमाणु नाभिक का अध्ययन करता है। दूसरे शब्दों में, नाभिकीय भौतिकी नाभिक...

परमाणु भौतिकी क्या है?

परमाणु भौतिकी का परिचय (Introduction to Atomic Physics) परमाणु ऊर्जा परमाणु रिएक्टरों और परमाणु हथियारों दोनों के लिए शक्ति का स्रोत है। यह ऊर्जा परमाणुओं...

राष्ट्रीय एकता पर निबंध

राष्ट्रीय एकता का महत्व: राष्ट्रीय एकता लोगों के बीच उनके जाति, पंथ, धर्म या लिंग के बावजूद बंधन और एकजुटता है। यह एक देश में...

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को दिए निर्देश, संविधान को पाठ्यक्रम में शामिल करने पर 3 महीने में ले फैसला

देश के प्रत्येक तहसील में एक केंद्रीय विद्यालय खोलने और प्राइमरी स्कूल के पाठ्यक्रम में भारतीय संविधान को शामिल करने की मांग वाली याचिका...

पाकिस्तान : कट्टरपंथी संगठन के 86 सदस्यों को आतंकवादी रोधी अदालत ने सुनाई 55-55 साल कैद की सजा

पाकिस्तान के रावलपिंडी में एक आतंकवाद रोधी अदालत ने कट्टरपंथी संगठन तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (टीएलपी) के 86 सदस्यों व समर्थकों को कुल मिलाकर 4738 साल...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -