बुधवार, फ़रवरी 19, 2020

बालों के लिए नीम के तेल का प्रयोग कैसे करें?

Must Read

डोनाल्ड ट्रम्प की अहमदाबाद की 3 घंटे की यात्रा के लिए 80 करोड़ रुपये खर्च करेगी गुजरात सरकार: रिपोर्ट

समाचार एजेंसी रायटर ने बुधवार को सूचना दी कि अहमदाबाद में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की...

डोनाल्ड ट्रम्प के दौरे की तैयारियां भारतियों की ‘गुलाम मानसिकता’ को दर्शाता है: शिवसेना

शिवसेना (Shivsena) ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की बहुप्रतीक्षित यात्रा की चल रही...

“अरविंद केजरीवाल को कभी आतंकवादी नहीं कहा”: प्रकाश जावड़ेकर

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने शुक्रवार को इस बात से इनकार किया कि उन्होंने कभी दिल्ली के...

आपके बालों की हर तरह की समस्या के लिए नीम का तेल एक प्राकृतिक उपाय होता है। इसे नीम के फल और उसके बीज से प्राप्त किया जाता है।

नीम के तेल के फायदे को देखते हुए इसे प्राचीन काल से ही अनेक चिकित्सीय समस्याओं का समाधान करने के लिए इस्तेमाल किया जाता रहा है।

इसमें बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने की क्षमता पायी जाती है। ये शरीर से विषैले पदार्थ निकाल देता है और रक्त को पूर्णतः साफ़ कर देता है।

विषय-सूचि

नीम का तेल बालों के लिए भी बहुत ही लाभकारी होता है। इसमें एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं।

नीम के पेड़ का प्रत्येक भाग उपयोग में लाया जाया सकता है। इसमें इसकी पत्तियां, फल, छाल और तेल शामिल हैं।

बालों के लिए नीम के तेल के फायदे:

नीम का तेल बालों की जड़ों को मजबूत करता है

बालों में अतिरिक्त तेल के उत्पादन से बाल टूटने और झड़ने लगते हैं क्योंकि छिद्र बंद हो जाते हैं। इससे जड़ों में सूजन भी हो जाती है जिससे जडें कमज़ोर पड़ जाती हैं।

नीम का तेल इन समस्याओं का निवारण करता है। ये जड़ों की सफाई  करता है और जड़ों तक रक्त का संचार बढाता है जिससे बालों की जडें मज़बूत हो जाती हैं।

इसके एंटीफंगल और एंटीइंफ्लेमेटरी गुणों के कारण इसमें यह क्षमता होती है। इसमें फैटी एसिड की भी भारी मात्रा पायी जाती है जिससे जडें को पोषण मिलता है।

नीम का तेल दे रूसी से निजात

नीम का तेल रूसी से निजात पाने का प्राकृतिक उपाय होता है।

ये कई तरह के फंगी के खिलाफ प्रतिरक्षा कार्यवाही करता है जो रूसी के लिए ज़िम्मेदार होते हैं।

अनेक एंटीडैंड्रफ शैम्पू में नीम का तेल इस्तेमाल किया जाता है। नियमित रूप से नीम के तेल का प्रयोग करने से बालों में रूसी उत्पन्न ही नहीं होती है।

नीम का तेल बालों को स्वस्थ बनाता है

नीम के तेल में ऐसे एंटीओक्सीडैन्ट्स होते हैं जो इसके नियमित इस्तेमाल के बाद बालों को पोषण प्रदान करते हैं और उन्हें स्वस्थ रखते हैं।

प्राकृतिक तेलों का इस्तेमाल करने के  साथ आप बालों में विटामिन के सप्लीमेंट भी लगा सकते हैं।

नीम के तेल से रूखे बाल से निजात मिलती है

नीम का तेल बालों के लिए कंडीशनर की तरह काम करता है।

नीम के तेल का प्रयोग करने से बालों में चमक आती है और उन्हें नमी भी मिलती है। इसके प्रयोग के लिए नीम के तेल की कुछ बूँदें अपने शैम्पू में डाल लें और 3-5 मिनट तक उसे लगा रहने दें।

बालों को धोने और सुखाने के बाद वो अधिक चमकदार और स्वस्थ हो जाते हैं।

नीम का तेल लगाने से जुओं की समस्या ख़त्म होती है

नीम का तेल जुओं की समस्या का प्राकृतिक समाधान होता है।

जुओं को नीम की गंध पसंद नहीं आती है जिसके कारण वे बालों में से निकल जाते हैं। रातभर बालों में नीम का तेल लगाये रखने से जुए मर जाते हैं।

सुबह उठकर आप इन्हें कंघे से साफ़ कर सकते हैं। इस प्रक्रिया को हर दूसरे दिन 5-6 बार अपनाने से जुओं से छुटकारा मिलता है।

नीम का तेल बालों का विकास करता है

एंटीओक्सीडैन्ट्स की प्रचुर मात्रा होने के कारण नीम का तेल बालों को बढ़ने में सहायता करता है।

ये जड़ों को क्षति से बचाता है और बालों को स्वस्थ रखता है। तनाव, पर्यायवरण और दवाइयों के कारण बालों को होने वाली क्षति से ये बालों को बचाता है।

नियमित रूप से इसका प्रयोग करने से बालों की जडें मज़बूत होती हैं, रक्त का संचार सुधर जाता है और बालों के बढ़ने की गति भी सुधर जाती है।

नीम के तेल से दो मुंहे बाल खत्म होते हैं

नीम के तेल में ख़राब बालों को सुधरने की क्षमता पायी जाती है।

जो भी तेल आप बालों के लिए इस्तेमाल करते हैं उसमें कुछ बूँदें नीम के तेल की मिला लें और इसे बालों में और जड़ों में अच्छी तरह लगा लें।

इसे कुछ घंटों तक लगा रहने दें फिर शैम्पू कर लें।

बालों की समस्या एक्जिमा से छुटकारा मिलता है

एक्जिमा त्वचा से सम्बंधित ऐसी समस्या होती है जिसके कारण त्वचा में रूखापन, खुजली और त्वचा में लालपन की समस्या पैदा हो जाती है।

इसमें मौजूद एंटीइंफ्लेमेटरी पदार्थ लालपन और खुजली से निजात पाने में उपयोगी होते हैं।

नीम के तेल में प्रचुर मात्रा में फैटी एसिड पाए जाते हैं जिसके कारण ये आसानी से त्वचा में समां जाता है और नमी प्रदान करता है।

नीम एक ऐनाल्जेसिक भी होता है जो त्वचा के रूखेपन को भी दूर करता है।

समय से पहले बालों का सफ़ेद होना

नियमित रूप से नीम का तेल लगाने से बाल जल्दी सफ़ेद नहीं होते हैं और त्वचा में संक्रमण भी नहीं होता है।

यदि होर्मोन में गड़बड़ी के कारण आपके बाल सफ़ेद हो रहे हैं तो नीम के तेल का प्रयोग इसका निवारण करता है।

हालांकि, जो बाल पहले ही सफ़ेद हो चुके हैं उनको नीम का तेल काला नहीं कर पाता है।

रूखी, बेजान त्वचा

इसमें मौजूद फैटी एसिड के कारण नीम का तेल बालों को नमी प्रदान करने के लिए लाभदायक होता है।

ये बालों का रूखापन दूर करके उनको स्वस्थ और चमकदार बना देता है।

क्यों करें नीम के तेल का इस्तेमाल?

नीम में कई आयुर्वेदिक गुण होते हैं जिसके कारण यह कई तरह की त्वचा और बेजान बालों से सम्बंधित समस्या को दूर करने के लिए उपयोगी होता है।

इसमें एंटीफंगल और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होने के साथ ही कई प्रकार के फैटी एसिड और विटामिन ई भी पाया जाता है।

रसायन युक्त पदार्थों के मुकाबले ये त्वचा के लिए अधिक गुणवान एवं उपयोगी होता है। ये कई दवाई की दुकानों पर काफी कम दामों में मिलता है।

बालों में नीम का तेल का प्रयोग कैसे करें?

  • शैम्पू में

नीम के तेल को अपने रोज़ के रूटीन में शामिल करें।

इसे अपने शैम्पू के साथ मिलाने के लिए एक साधारण सा शैम्पू लें, ये कोई बच्चों वाला शैम्पू या कोई प्राकृतिक शैम्पू हो सकता है। प्रति 100 एमएल शैम्पू में 1-5 एमएल शैम्पू मिला।

आप अपने प्रयोग के अनुसार नीम के तेल की मात्रा बदल सकते हैं। प्रतिदिन इस्तेमाल करने वालों के लिए इसकी थोड़ी मात्रा ही काफी रहती है।

यदि आपको कोई त्वचा सम्बंधित परेशानी है या फिर रूसी की समस्या है तो नीम के तेल की मात्रा बढ़ा दें।

एक बार में उतना ही शैम्पू और नीम के तेल का मिश्रण तैयार करें जितनी आपको आवश्यकता हो क्योंकि ये ज्यादा देर तक नहीं रखा जा सकता है।

  • ओइल ट्रीटमेंट

नियमित रूप से आप जो भी तेल अपने बालों के लिए इस्तेमाल करते हैं उसमें नीम का तेल मिलाया जा सकता है।

प्रति 100 एमएल तेल के साथ 2-5 एमएल नीम का तेल मिला लें। इसकी गंध काफी तेज़ होती है तो आप इसमें कुछ बूँदें लैवेंडर के तेल की या चन्दन के तेल की डाल सकते हैं।

सारी चीजों को साथ में मिला लें और जड़ों में मालिश करें। इसे एक घंटे के लिए छोड़ दें और यदि समस्या अधिक है तो रातभर लगा रहने दें फिर सुबह शैम्पू कर लें।

  • डीप कंडीशनिंग ट्रीटमेंट

इस प्रक्रिया के लिए नीम का तेल अपने बालों में और उसकी जड़ों में लगा लें।

अपने बालों को एक गर्म तौलिये से गर्म कर लें और 20 मिनट तक ऐसे ही रहने दें। इससे नीम का तेल आपके बालों में चला जायेगा और बालों को अधिक चमकदार और स्वस्थ बनाएगा।

  • नीम का पेस्ट

सूखे नीम के चूर्ण के साथ पानी मिलाकर पेस्ट बना लें और उससे बालों जड़ों की मालिश करें।

इससे जड़ों को नमी मिलती है और उनकी सफाई भी हो जाती है।

इसे 30 मिनट तक बालों में लगा रहने दें फिर शैम्पू कर लें।

  • हेयर मास्क

नीम के तेल का हेयर मास्क बालों को पोषण प्रदान करने के साथ ही उन्हें स्वस्थ भी बनाता है।

हेयर मास्क बनाने के लिए 3 बड़े चम्मच नारियल के तेल के साथ 1 बड़ा चम्मच शहद, 3 बड़े चम्मच नीम का तेल और 3 बड़े चम्मच आंवले का तेल मिला लें।

अपनी उँगलियों से इसे अपने बालों की जड़ों से शुरू करते हुए पूरे बालों में लगा लें और बालों को ऊपर समेट लें। इस पर एक तौलिया लपेट लें या शावर कैप पहन लें और इसे रातभर लगा रहने दें।

सुबह शैम्पू कर लें। एक प्रक्रिया का पालन हफ्ते में एक बार करें।

  • डैंड्रफ ट्रीटमेंट

नीम का तेल बालों की जड़ों में होने वाले संक्रमण से लड़ता है और नीम्बू इनको रोकने में मदद करता है।

नीम के तेल और नीम्बू के छिलके को एक कटोरी में मिला लें और अपनी उँगलियों से बालों की जड़ों में इसे लगाकर मालिश करें।

10-15 मिनट तक मालिश करें और फिर 30 मिनट के लिए और लगा रहने दें। फिर शैम्पू कर लें।

यदि ये मिश्रण आपकी त्वचा के लिए ज्यादा स्ट्रोंग रहे तो इसमें कोई दूसरा तेल मिला लें।

  • नीमा का तेल प्राकृतिक बालों के लिए

नीम के तेल को शैम्पू से पहले के ट्रीटमेंट के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

1-2 बूँद नीम का तेल नारियल के तेल के साथ मिला लें और इससे मालिश करें फिर इसे रातभर लगा रहने दें। सुबह शैम्पू कर लें।

रूखी और बेजान त्वचा से निजात पाने के लिए आप इसे शेया बटर के साथ भी मिला सकते हैं।

इसके लिए 1 चम्मच नीम का तेल 3 बड़े चम्मच शेया बटर के साथ मिला लें। इन दोनों को मिलाने से बालों में चमक आ जाती है और बाल स्वस्थ हो जाते हैं।

नीम का तेल लगाने के टिप्स

  • इसे ठंडी जगह पर रखें जहाँ धूप न आती हो। ये सामान्य तापमान पर ही जैम जाता है तो आप इसे गर्म पानी में डालकर पिघला सकते हैं।
  • इसे उबलते हुए पानी पर न रखें क्योंकि उससे ये खराब हो जाता है।
  • इसकी गंध बहुत तेज़ होती है तो इसमें कुछ बूँदें खुशबूदार तेल की मिला लें।
  • इसे हमेशा अपने पसंदीदा तेल के साथ मिलकर पतला कर लें।
  • इसे आँखों से दूर रखें।
  • इसका सेवन करना या इससे खाना पकाना हानिकारक होता है।
  • कुछ लोगों को इससे एलर्जी भी हो सकती है।

इस लेख में हमनें चर्चा की कि किस तरह हम नीम का तेल बालों में लगा सकते हैं।

इस विषय में यदि आपका कुछ सुझाव या सवाल है, तो आप नीचे कमेंट के जरिये उसे पूछ सकते हैं।

ये भी पढ़ें:

  1. सरसों का तेल बालों के लिए: फायदे और लगाने का तरीका
- Advertisement -

3 टिप्पणी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

डोनाल्ड ट्रम्प की अहमदाबाद की 3 घंटे की यात्रा के लिए 80 करोड़ रुपये खर्च करेगी गुजरात सरकार: रिपोर्ट

समाचार एजेंसी रायटर ने बुधवार को सूचना दी कि अहमदाबाद में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की...

डोनाल्ड ट्रम्प के दौरे की तैयारियां भारतियों की ‘गुलाम मानसिकता’ को दर्शाता है: शिवसेना

शिवसेना (Shivsena) ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की बहुप्रतीक्षित यात्रा की चल रही तैयारी भारतीयों की "गुलाम मानसिकता"...

“अरविंद केजरीवाल को कभी आतंकवादी नहीं कहा”: प्रकाश जावड़ेकर

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने शुक्रवार को इस बात से इनकार किया कि उन्होंने कभी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal)...

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत नें नागरिकता क़ानून के खिलाफ विरोध में लिया भाग

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने शुक्रवार को मांग की कि केंद्र देश में शांति और सद्भाव बनाए रखने के लिए संशोधित...

जम्मू कश्मीर मामले में भारत का तुर्की को जवाब; ‘आंतरिक मामलों में दखल ना दें’

भारत ने शुक्रवार को अपनी पाकिस्तान यात्रा के दौरान जम्मू और कश्मीर पर तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन की टिप्पणियों का जवाब दिया...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -