मंगलवार, नवम्बर 19, 2019

नीम साबुन के 10 बेहतरीन फायदे

Must Read

जेएनयू छात्र मार्च के संबंध में दो मामले दर्ज, भीड़ के बीच स्पेशल सीपी की मौजूदगी बनी चर्चा का विषय

फीस बढ़ोतरी से नाराज जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्रों द्वारा सोमवार को दिल्ली की सड़कों पर बवाल मचाए जाने...

बिग बाउट लीग: पंजाब टीम में शामिल हुई एमसी मेरीकॉम, निखत जरीन, पिंकी रानी से होगी टक्कर

छह बार विश्व चैम्पियन और ओलंपिक पदक विजेता भारतीय महिला मुक्केबाज एमसी मेरीकॉम को यहां पहली बिग बाउट लीग...

लोकसभा में दिल्ली में वायु प्रदूषण को लेकर बोले सांसद गौतम गंभीर, मुद्दे का राजनीतिकरण बंद करें

संसद के शीतकालीन सत्र में मंगलवार को लोकसभा में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण के गंभीर स्तर पर...

इस दशक में रासायनिक दवाओं का जड़ी-बूटियों के साथ में प्रयोग करके स्वास्थ्य दुनिया चलाई जा रही है। इसी प्रकार सौंदर्य उत्पाद बनाए जाते है, जैसे, नीम की साबुन।

नीम की साबुन सभी प्रकार की त्वचा के लिए उपयुक्त है क्योंकि यह एक ऐसी जड़ी-बूटी है जिसमें रासायनिक दवाएं नहीं मिलाई जाती, इसलिए यह त्वचा पर कोई भी बुरा प्रभाव नहीं डालती।

नीम की साबुन नीम के तेल से स्वास्थ्य लाभ देने के लिए बनाई जाती है। नीम का तेल एक वानस्पतिक तेल है जो नीम के पेड़ से निकाला जाता है।

नीम के पेड़ भारतीय उपमहाद्वीप में विख्यात रूप में मिलते है। ये पेड़ महाद्वीप व अर्ध – महाद्वीप में मिलते है। नीम के तेल का प्रयोग खाना पकाने के लिए नहीं किया जाता है।

नीम के फायदे
नीम

भारत में नीम का प्रयोग सौंदर्य – उत्पाद जैसे कि साबुन, पाउडर, क्रीम आदि बनाने के लिए किया जाता है। तेल का प्रयोग आमतौर पर बालों व त्वचा की देखभाल के लिए किया जाता है।

नीम में कई प्रकार के तत्व होते है जो हमारी तव्चा व शरीर के लिए लाभदायक होते है जैसे :

  • विटामिन ई
  • एंटीऑक्सिडेंट्स
  • कीटाणु विरोधी कण

नीम साबुन के फायदे (neem soap benefits in hindi)

नीम की साबुन से दाद से छुटकारा मिलता है

नीम की साबुन में मौजूद नीम के तेल में जीवाणु रोधक व कवक रोधक गुण होते है।

दाद कवक व जीवाणु द्वारा फैलाया गया एक त्वचा – संबंधी रोग है जिसके इलाज़ के लिए नीम ही सबसे बेहतर उपाय है क्योंकि यह विभिन्न त्वचा के रोगों से बचाता है।

नीम साबुन से त्वचा में चमक आती है (neem soap benefits for face in hindi)

नीम की साबुन का प्रतिदिन उपयोग त्वचा को स्वस्थ बनाता है जिससे कि वह साफ व चमकदार लगती है।

इसका कारण यह है कि नीम की साबुन में विटामिन ए मौजूद रहता है जो कि त्वचा के लिए एक बहुत ही जरूरी तत्व माना जाता है।

नीम से दाग़ साफ़ होते हैं (neem soap for spots in hindi)

नीम की साबुन में प्रज्वलन – रोधी गुण होता है जो कि त्वचा से दाग़ हटाते है तथा प्रज्वलन होने से भी बचाव करते है।

नीम त्वचा को जीवाणुओं से मुक्त करता है (neem soap for germs in hindi)

नीम की साबुन में जीवाणुरोधी गुण है। चिकित्सकीय रूप से देखा जाए तो यह ई – कॉलाई जैसे जीवाणुओं को मारने में सक्षम है।

इसलिए इन जीवाणुओं से होने वाली सभी समस्याओं का विनाश हो जाता है।

यह कील की समस्या को खत्म करता है

नीम की साबुन का इस्तेमाल करके हम अपने चेहरे पर होने वाली कील से छुटकारा पा सकते है। क्योंकि इसके एंटीऑक्सिडेंट्स गुण त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद करते है।

नीम साबुन के लाभ झुर्रियां हटाने में

झुर्रियों की समस्या बहुत आम है खासतौर पर यह कामकाजी महिलाओं में होती है। नीम की साबुन ऐसी महिलाओं के लिए बहुत अधिक फायदेमंद साबित हो सकती है।

नीम की साबुन में मौजूद नीम छिद्र के अंदर चला जाता है और झुर्रियों को हटाने के साथ – साथ चेहरे पर से निशान हटाने में मदद करती है।

नीम साबुन से छिद्र कम होते हैं

नीम की साबुन त्वचा के छिद्र को सिकुड़ने में मदद करता है जिससे कि त्वचा कोमल बनती है, जबकि बाकी सौंदर्य साबुन त्वचा को छाया – युक्त बनाती है।

नीम की साबुन बिना जलन व रूखापन लाए छिद्र बन्द करती है।

यह त्वचा से अतिरिक्त तेल निकालती है

कील होने का एक मुख्य कारण ये भी है कि अलग – अलग प्रकार की त्वचा से तेल निकलता है। इससे कील बनती है।

नीम की साबुन त्वचा से अतिरिक्त तेल निकालने में मदद करता है, मुख्य रूप से चेहरे से निकालती है।

नीम साबुन से खुजली से मुक्ति मिलती है

खुजली त्वचा का एक सामान्य प्रज्वलन रोग है अर्थात् बहुत से लोग इससे प्रभावित होते है।

नीम त्वचा को खुजली से छुटकारा दिलाता है क्योंकि यह प्रज्वलन-रोधी व दर्दनाशक है।

नियमित रूप से नीम की साबुन का उपयोग करने से खुजली जल्दी ठीक हो जाती है।

यह साबुन मृत कोशिकाओं को हटाती है

नीम की साबुन में मृत कोशिकाओं को निकालने की योग्यता होती है। ये मृत कोशिकाएं हमारी त्वचा को अस्वस्थ व रूखा दर्शाती है।

इन मृत कोशिकाओं को हटाने के बाद नई कोशिकाएं जन्म ले लेती है।

सावधानी:

आपको नीम की साबुन से होने वाले नकारात्मक प्रभावों के बारे में चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

प्रतिदिन इसका प्रयोग करने से त्वचा स्वस्थ रहती है लेकिन ध्यान रहें कि साबुन में कोई भी रासायनिक तत्व शामिल ना हों।

बाजार में पतंजलि नीम साबुन, मार्गो नीम साबुन आदि उपलब्ध हैं, जिनका इस्तेमाल आप कर सकते हैं।

इस विषय में यदि आपका कोई सवाल या सुझाव है, तो आप उसे नीचे कमेंट के जरिये हमसे पूछ सकते हैं।

सम्बंधित लेख:

- Advertisement -

12 टिप्पणी

  1. मेरे शरीर पे खुजली जयादा आती हैं पुरे शरीर पे लाल दाग जयादा हैं मुजको डोकटर ने केलामाईन लोशन और कलोटरीमाजोल कीम दीया हें जो में हररोज लगाता हुं में आज ही नीम साबुन लाया हुं नीम साबुन से मीट जायेगा

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

जेएनयू छात्र मार्च के संबंध में दो मामले दर्ज, भीड़ के बीच स्पेशल सीपी की मौजूदगी बनी चर्चा का विषय

फीस बढ़ोतरी से नाराज जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्रों द्वारा सोमवार को दिल्ली की सड़कों पर बवाल मचाए जाने...

बिग बाउट लीग: पंजाब टीम में शामिल हुई एमसी मेरीकॉम, निखत जरीन, पिंकी रानी से होगी टक्कर

छह बार विश्व चैम्पियन और ओलंपिक पदक विजेता भारतीय महिला मुक्केबाज एमसी मेरीकॉम को यहां पहली बिग बाउट लीग की ड्राफ्ट प्रक्रिया में एनसीआर...

लोकसभा में दिल्ली में वायु प्रदूषण को लेकर बोले सांसद गौतम गंभीर, मुद्दे का राजनीतिकरण बंद करें

संसद के शीतकालीन सत्र में मंगलवार को लोकसभा में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण के गंभीर स्तर पर पहुंच जाने का मुद्दा उठाया...

हालैंड में डच सांसद की हत्या के आरोप में पाकिस्तानी नागरिक को 10 साल की जेल

हालैंड में एक अदालत ने इस्लाम के बारे में विवादित विचार व्यक्त करने वाले एक धुर दक्षिणपंथी सांसद की हत्या की साजिश के जुर्म...

हीरो इलेक्ट्रिक ने सुपरसिख रन के चौथे संस्करण की घोषणा की

भारत के सबसे बड़े इलेक्ट्रिक ब्रांड हीरो इलेक्ट्रिक ने मंगलवार को यहां वन रेस सुपरसिख रन के चौथे संस्करण के आयोजन की घोषणा की।...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -