दा इंडियन वायर » लोग » काजोल की जीवनी
लोग

काजोल की जीवनी

kajol's Biography

काजोल भारतीय फिल्मो की बहुत ही लोकप्रिय अभिनेत्री हैं। उन्होंने अपने अभिनय की वजह से ना केवल भारत में बल्कि विदेशो से भी अधिक मात्रा में लोकप्रियता प्राप्त की थी। काजोल को एक समय पर हिंदी सिनेमा की सबसे महंगी अभिनेत्री के रूप में देखा जाता था। काजोल ने हिंदी फिल्मो के अलावा अपना डेब्यू तमिल फिल्मो में भी किया है।

काजोल के द्वारा अभिनय किए गए फिल्मो की बात करे तो उन्होंने ‘बाज़ीगर’, ‘करन अर्जुन’, ‘हलचल’, ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’, ‘इश्क़’, ‘प्यार किया तो डरना क्या’, ‘दुश्मन’, ‘प्यार तो होना ही था’, ‘कुछ कुछ होता है’, ‘हम आपके दिल में रहते हैं’, ‘कभी ख़ुशी कभी गम’, ‘फना’, ‘माय नाम इस खान’, ‘दिलवाले’, ‘तन्हाजी’ जैसी बड़ी बड़ी फिल्मो में अभिनय किया है।

काजोल ने बहुत ही कम समय में बहुत अधिक मात्रा में लोकप्रियता को हासिल किया है। उन्होंने हिंदी सिनेमा में दिए अपने योगदान को वजह से कई सारे सम्मानों को भी अपने नाम किया है। काजोल को ज़्यादा तर अभिनेता शाहरुख़ खान के साथ फिल्मो में अभिनय करते हुए देखा गया है।

काजोल का प्रारंभिक जीवन

काजोल का जन्म 05 अगस्त 1974 को मुंबई, महाराष्ट्र में हुआ था। काजोल के पिता का नाम स्वर्गीय ‘शोमू मुख़र्जी’ था जो पेशे से फिल्ममेकर थे। उनकी माँ का नाम ‘तनूजा’ है जो एक अभिनेत्री रह चुकी है। काजोल की एक बहन भी हैं जिनका नाम ‘तनीषा मुख़र्जी’ है। तनीषा भी पेशे से अभिनेत्री हैं। अभिनेत्री रानी मुख़र्जी, शरबीना मुख़र्जी और मोहनीश बहल काजोल के कजन हैं।

काजोल ने अपने स्कूल की पढाई ‘सट. जोसफ’स कॉन्वेंट स्कूल’, महाराष्ट्र से शुरू की थी लेकिन उन्होंने अपने अभिनय के सफर की शुरुआत करने के लिए अपने स्कूल की पढाई बीच में ही छोड़ दी थी। काजोल को अपने स्कूल के दिनों में अभिनय करने के अलावा डांस करने का भी बहुत शौक रहा है।

व्यवसाय जीवन

काजोल का फिल्मो का शुरुआती सफर

काजोल ने अपने अभिनय के व्यवसाय की शुरुआत अपनी 16 साल की उम्र में ही शुरू कर दी थी। काजोल की पहली फिल्म साल 1992 में रिलीज़ हुई थी जिसका नाम ‘बेखुदी’ था। इस फिल्म के निर्देशक ‘राहुल रवैल’ थे। फिल्म में काजोल ने ‘राधिका’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इस फिल्म में मुख्य किरदारों को काजोल, कमल सदनाह, अजय मनकोटिआ, तनूजा और कुलभूषण खरबंदा ने अभिनय किया था। यह फिल्म बॉक्स ऑफिस में फ्लॉप फिल्मो की सूचि में दर्ज हुई थी।

साल 1993 में काजोल ने फिल्म ‘बाज़ीगर’ में अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘अब्बास- मुस्तान’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘प्रिया चोपड़ा’ नाम का किरदार अभिनय किया था। इस फिल्म में काजोल के साथ शाहरुख़ खान ने मुख्य किरदार को दर्शाया था। यह फिल्म काजोल की पहली हिट फिल्म थी।

साल 1994 की काजोल की पहली फिल्म का नाम ‘उधार की ज़िंदगी’ था। इस फिल्म के निर्देशक ‘के. वि. राजू’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘सीता’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इस फिल्म में मुख्य किरदारों को जीतेन्द्र, मौसिमी चटर्जी और काजोल ने अभिनय किया था।

उसी साल काजोल की अगली फिल्म का नाम ‘यह दिल्लगी’ था, जिसके निर्देशक ‘नरेश मल्होत्रा’ थे। इस फिल्म में काजोल ने ‘सपना’ नाम का किरदार अभिनय किया था। इस फिल्म में मुख्य किरदारों को अक्षय कुमार, सैफ अली खान और काजोल ने अभिनय किया था।

काजोल का फिल्मो का सफल सफर

साल 1995 में काजोल ने सबसे पहले फिल्म ‘करन अर्जुन’ में अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘राकेश रोशन’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘सोनिआ सक्सेना’ नाम का किरदार अभिनय किया था। फिल्म में मुख्य किरदारों को सलमान खान, शाहरुख़ खान, काजोल, ममता कुलकर्णी, राखी और जॉनी लीवर ने अभिनय किया था। इसके बाद उसी साल काजोल को फिल्म ‘ताक़त’ में देखा गया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘तलत जनि’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘कविता’ नाम के किरदार को दर्शाया था।

उस साल की काजोल की ब्लॉकबस्टर फिल्म का नाम ‘दिलवाले दुल्हनियां ले जाएंगे’ था। इस फिल्म के निर्देशक ‘आदित्य चोपड़ा’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘सिमरन सिंह’ नाम का किरदार अभिनय किया था। फिल्म में मुख्य किरदारों को काजोल और शाहरुख़ खान ने अभिनय किया था। यह फिल्म उस साल की सबसे अधिक कमाई करने वाली फिल्म के रूप में सामने आई थी। उसी साल काजोल को फिल्म ‘हलचल’ और ‘गुंडाराज’ में भी अभिनय करते हुए देखा गया था।

साल 1996 में काजोल ने एक ही फिल्म में अभिनय किया था। इस फिल्म का नाम ‘बम्बई का बाबू’ था और फिल्म में काजोल ने ‘नेहा’ नाम का किरदार अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘विक्रम भट्ट’ थे। फिल्म में काजोल, सैफ अली खान और अतुल अग्निहोत्री ने मुख्य किरदारों को दर्शाया था।

साल 1997 की शुरुआत काजोल ने फिल्म ‘गुप्त: द हिडन ट्रूथ’ में अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘राजीव राय’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘ईशा दीवान’ नाम का किरदार अभिनय किया था। इसके बाद उस साल काजोल ने फिल्म ‘हमेशा’ में अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘संजय गुप्ता’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘रानी’ और ‘रेशमा शर्मा’ नाम का किरदार अभिनय किया था।

उस साल की काजोल की बॉकबस्टर फिल्म ‘इश्क़’ थी। इस फिल्म के निर्देशक ‘इंद्रा कुमार’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘काजल’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इस फिल्म में मुख्य किरदारों को आमिर खान, अजय देवगन, काजोल और जूही चावला ने अभिनय किया था। यह फिल्म दर्शको को बहुत पसंद आई थी। उसी साल काजोल ने फिल्म ‘मिनसारा कनवू’ नाम की तमिल फिल्म में भी अभिनय किया था।

साल 1998 में काजोल ने फिल्म ‘प्यार किया तो डरना क्या’ में अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘सोहेल खान’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘मुस्कान ठाकुर’ नाम का किरदार अभिनय किया था। फिल्म में काजोल के साथ अभिनेता सलमान खान और अरबाज़ खान ने मुख्य किरदारों को दर्शाया था। यह फिल्म भी बॉक्स ऑफिस में सुपरहिट फिल्मो की सूचि में शामिल हुई थी।

उसी साल काजोल ने फिल्म ‘प्यार तो होना ही था’ में अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘अनीज़ बज़्मी’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘संजना’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इस फिल्म में मुख्य किरदारों को काजोल और अजय देवगन ने अभिनय किया था। यह फिल्म बॉक्स ऑफिस में सुपरहिट रही थी। उसी साल काजोल ने एक और सुपरहिट फिल्म में अभिनय किया था जिसका नाम ‘दुश्मन’ था।

काजोल की फिल्म ‘कुछ कुछ होता है’ ने भी बॉक्स ऑफिस में बेहतरीन कमाई की थी। यह फिल्म भी साल 1998 में ही रिलीज़ हुई थी और फिल्म के निर्देशक ‘करन जौहर’ थे। फिल्म में मुख्य किरदारों को शाहरुख़ खान, काजोल और रानी मुख़र्जी ने अभिनय किया था। फिल्म को दर्शको ने बहुत पसंद किया था।

साल 1999 में काजोल ने फिल्म ‘दिल क्या करे’ में अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘प्रकाश झा’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘नंदिता राय’ नाम का किरदार अभिनय किया था। इस फिल्म में मुख्य किरदारों को अजय देवगन, काजोल और महिमा चौधरी ने अभिनय किया था। इसके बाद उसी साल काजोल को फिल्म ‘होते होते प्यार हो गया’ में देखा गया था। फिल्म के निर्देशक ‘फ़िरोज़ ईरानी’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘पिंकी’ नाम के किरदार को दर्शाया था।

उसी साल काजोल ने फिल्म ‘हम आपके दिल में रहते हैं’ में भी अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘सतीश कौशिक’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘मेघा’ नाम के किरदार को दर्शाया था। फिल्म में काजोल के साथ अभिनेता अनिल कपूर ने मुख्य किरदार को दर्शाया था और फिल्म को दर्शको ने बहुत पसंद किया था। यह फिल्म भी बॉक्स ऑफिस में ब्लॉकबस्टर फिल्मो की सूचि में दर्ज की गई थी।

साल 2001 की शुरुआत काजोल ने फिल्म ‘कुछ खट्टा कुछ मीठा’ के साथ की थी। इस फिल्म के निर्देशक ‘राहुल रैवाल’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘स्वीटी’ और ‘टीना खन्ना’ नाम का किरदार अभिनय किया था।

उसी साल काजोल एक और ब्लॉकबस्टर फिल्म में अभिनय करते हुए दिखाई दीं थीं। इस फिल्म का नाम ‘कभी ख़ुशी कभी ग़म’ था और फिल्म के निर्देशक ‘करन जौहर’ थे। फिल्म में काजोल ने ‘अंजलि शर्मा रायचंद’ नाम का किरदार अभिनय किया था। फिल्म में मुख्य किरदारों को काजोल, करीना कपूर, जया बच्चन, अमिताभ बच्चन, शाहरुख़ खान और ऋतिक रोशन ने अभिनय किया था। फिल्म को दर्शको ने बहुत पसंद किया था।

साल 2006 में काजोल ने फिल्म ‘फ़ना’ के साथ एक बार फिर फिल्मो की सुनिया में अपनी वापसी की थी। उस फिल्म के निर्देशक ‘कुनाल कोहली’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘जूनि अली बैग’ नाम का किरदार अभिनय किया था। इस फिल्म में मुख्य किरदारों को आमिर खान और काजोल ने अभिनय किया था। फिल्म को दर्शको ने बहुत पसंद किया था और फिल्म ने कई सारे अवार्ड्स को अपने नाम भी किया था।

काजोल का फिल्मो का बाद का सफर

साल 2008 में काजोल को फिल्म ‘यू मी और हम’ में देखा गया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘अजय देवगन’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘पिया’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इसके बाद उसी साल काजोल ने फिल्म ‘रब ने बना दी जोड़ी’ के गाने ‘फिर मिलेंगे चलते चलते’ में अपनी मुख्य उपस्थिति दर्शाई थी।

साल 2010 में एक बार फिर काजोल एक हिट फिल्म में अभिनय करते हुए दिखाई दीं थीं। इस फिल्म का नाम ‘माय नेम इस खान’ था और फिल्म में काजोल ने ‘मंदिरा खान’ नाम का किरदार अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘करन जौहर’ थे और फिल्म में काजोल के साथ अभिनेता शाहरुख़ खान ने मुख्य किरदार को दर्शाया था। फिल्म को दर्शक ने बहुत पसंद किया था और फिल्म ने भी बॉक्स ऑफिस में बेहतरीन कमाई के साथ अपना नाम ब्लॉकबस्टर फिल्मो की सूचि में दर्ज किया था।

साल 2015 में काजोल ने फिल्म ‘दिलवाले’ में अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘रोहित शेट्टी’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘मीरा देव मलिक’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इस फिल्म में मुख्य किरदारों को काजोल, शाहरुख़ खान, वरुण धवन और कृति सेनन ने अभिनय किया था। यह फिल्म भी दर्शको को पसंद आई थी और फिल्म को सफल फिल्मो की सूचि में दर्ज किया गया था।

साल 2018 में काजोल को फिल्म ‘हेलीकॉप्टर इला’ में देखा गया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘प्रदीप सरकार’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘इला रैतुकार’ नाम के किरदार को दर्शाया था।

साल 2020 की बात करे तो उस साल काजोल ने फिल्म ‘तन्हाजी: द उनसंग वॉर्रिएर’ में अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘ओम रौत’ थे और फिल्म में काजोल ने ‘सावित्रिबाई मालुसरे’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इस फिल्म में मुख्य किरदारों को अजय देवगन, सैफ अली खान, काजोल और जगपति बाबू ने अभिनय किया था।

पुरस्कार और उपलब्धियां

  • साल 1996 में फिल्म ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ के लिए ‘बेस्ट एक्ट्रेस’ का अवार्ड मिला था।
  • साल 1998 में फिल्म ‘गुप्त: द हिडन ट्रूथ’ के लिए ‘बेस्ट विलन’ का अवार्ड मिला था।
  • साल 2002 में फिल्म ‘कभी ख़ुशी कभी ग़म’ के लिए ‘बेस्ट एक्ट्रेस’ का अवार्ड मिला था।
  • साल 2002 में ‘राजीव गाँधी अवार्ड्स’ से सम्मानित किया गया था।
  • साल 2007 में फिल्म ‘फ़ना’ के लिए ‘बेस्ट एक्ट्रेस’ का अवार्ड मिला था।
  • साल 2008 में ‘करमवीर पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया था।
  • साल 2011 में फिल्म ‘माय नाम इस खान’ के लिए ‘बेस्ट एक्ट्रेस’ का अवार्ड मिला था।
  • साल 2011 में ‘पद्मा श्री’ अवार्ड से सम्मानित किया गया था।
  • साल 2016 में फिल्म ‘दिलवाले’ के लिए अभिनेता शाहरुख़ खान के साथ ‘बेस्ट जोड़ी’ का अवार्ड मिला था।

काजोल का निजी जीवन

काजोल की लव लाइफ की बात करे तो काजोल ने सबसे पहले दक्षिण फिल्मो के अभिनेता ‘कार्तिक’ को डेट किया था। कार्तिक के साथ काजोल का रिश्ता कुछ ज़्यादा समय तक चल नहीं पाया था। इसके बाद काजोल की मुलाकात अभिनेता अजय देवगन के साथ हुई थी। दोनों ने एक साथ कई फिल्मो में अभिनय किया था। अजय और काजोल ने एक दूसरे को कुछ सालो तक डेट किया था। जब काजोल और अजय की मुलाक़ात हुई थी उस समय अजय अभिनेत्री करिश्मा कपूर को डेट कर रहे थे।

काजोल और अजय ने 24 फरवारी 1999 को एक दूसरे से शादी की थी। उन दोनों की एक बेटी है और एक बेटा है। काजोल की बेटी का नाम ‘न्यासा देवगन’ है और उनके बेटे का नाम ‘युग देवगन’ है। काजोल के पसंदीदा चीज़ो की बात करे तो उन्हें खाने में पिज़्ज़ा, सलाद और ऑलिवस और फ्रेंच फ्राइज खाना पसंद है। काजोल के पसंदीदा अभिनेता अजय देवगन और शाहरुख़ खान हैं। अभिनेत्रियों में उन्हें श्रीदेवी पसंद हैं। काजोल का पसंदीदा रंग सफ़ेद है। काजोल के पसंदीदा निर्देशक ‘आदित्य चोपड़ा’ हैं।

आप अपने सवाल और सुझाव नीचे कमेंट में लिख सकते हैं।

यह लेख आपको कैसा लगा?

नीचे रेटिंग देकर हमें बताइये, ताकि इसे और बेहतर बनाया जा सके

औसत रेटिंग 4.7 / 5. कुल रेटिंग : 86

कोई रेटिंग नहीं, कृपया रेटिंग दीजिये

यदि यह लेख आपको पसंद आया,

सोशल मीडिया पर हमारे साथ जुड़ें

हमें खेद है की यह लेख आपको पसंद नहीं आया,

हमें इसे और बेहतर बनाने के लिए आपके सुझाव चाहिए

कृपया हमें बताएं हम इसमें क्या सुधार कर सकते है?

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!