शनिवार, जनवरी 18, 2020

सेब का सिरका पीने के 19 बेहतरीन फायदे

Must Read

नाभिकीय भौतिकी क्या है?

नाभिकीय भौतिकी भौतिकी का क्षेत्र है जो परमाणु नाभिक का अध्ययन करता है। दूसरे शब्दों में, नाभिकीय भौतिकी नाभिक...

परमाणु भौतिकी क्या है?

परमाणु भौतिकी का परिचय (Introduction to Atomic Physics) परमाणु ऊर्जा परमाणु रिएक्टरों और परमाणु हथियारों दोनों के लिए शक्ति का...

राष्ट्रीय एकता पर निबंध

राष्ट्रीय एकता का महत्व: राष्ट्रीय एकता लोगों के बीच उनके जाति, पंथ, धर्म या लिंग के बावजूद बंधन और एकजुटता...

सिरके का इस्तेमाल सदियों से होता चला आ रहा है, कभी घर के काम में कभी खाना आदि बनाने में। इन सभी में सबसे प्रसिद्ध सिरका सेब का सिरका है। सेब में मौजूद अनेक पौषक तत्व इसे सेहत के लिए बहुत फायदेमंद बनाते है। (सम्बंधित: सेब खाने के फायदे)

एसिडिक एसिड और मैलिक एसिड के मौजूदगी के कारण इसका स्वाद खट्टा होता है। सेब के सिरके का इस्तेमाल खाने में, सलाद में एवं अन्य सौन्दर्य कारणों से किया जाता है।

इस लेख के जरिये हम सेब के सिरके का सेवन करनें से शरीर को होनें वाले फायदों के बारे में चर्चा करेंगे।

विषय-सूचि

सेब का सिरका के फायदे

सेब का सिरका रक्तचाप को सामान्य रखता है

एप्पल विनेगर यानी सेब का सिरका शरीर में पीएच स्तर को सामान्य बनाये रखता है जो रक्तचाप को कम करने में सहायता करता है।

सेब का सिरका शरीर में उपस्थित वसा को तोड़ता है, जिससे रक्त का संचार सामान्य रूप से होता है। इस सिरके में पोटैशियम की मात्रा होने के कारण ये रक्तचाप उच्च नहीं होने देता।

सेब का सिरका कैंसर से बचाव करता है

कई अध्यनों के मुताबिक एप्पल विनेगर कैंसर के ट्रीटमेंट में सहायक होता है। एनोफेजियल कैंसर के इलाज में यह सिरका कारगर पाया गया है।

कुछ अन्य अध्ययन इस बात से मेल नहीं खाते हैं, इसलिए सेवन के समय डॉक्टर की सलाह लेना उचित है।

सेब का सिरका पाचन में मदद करता है

सेब साइडर सिरका में मैलिक एसिड में एंटीबायोटिक गुण होते हैं जो आंत की अनियमितता को दूर करते है।

एप्पल साइडर सिरका को भी प्रीबायोटिक माना जाता है, यह आपके पेट में लाभकारी बैक्टीरिया को विकसित करने में मदद करता है और इसके साथ ही स्वस्थ पाचन तंत्र को बनाए रखता है।

सेब का सिरका दांतों को सफ़ेद करता है

एप्पल विनेगर प्राकृतिक रूप से सफाई एजेंट के रूप में काम करता है। दांतों से दाग-धब्बे हटाने के अलावा ये विभिन्न प्रकार बैक्टीरिया का  करता है जो मसूड़ों को हानि पहुंचाते हैं।

आधे कप विनेगर को एक कप पानी ब्रश करने के बाद उस पानी से मुँह धुल लेने से बैक्टीरिया के खात्में के अलावा दांतों में प्राकृतिक रूप से चमक आ जाती है।

यहाँ लेकिन ध्यान रहे, कि यदि आप सेब फल खाते हैं, तो यह आपके दांतों की ऊपरी सतह के लिए हानिकारक हो सकता है। (सम्बंधित: सेब खाने के नुकसान)

सेब का सिरका पीएच स्तर को सामान्य बनाये रखता है

अगर शरीर को सुचारु रूप से कार्यरत रखना है तो शरीर में पीएच स्तर को सामान्य बनाना सबसे जरुरी है। एप्पल विनेगर शरीर में क्षारीय पीएच स्तर बनाये रखने में मदद करता है।

सेब का सिरका में एंटीऑक्सिडेंट गुण

ऐप्पल साइडर सिरका  में कुछ बायोएक्टिव कंपाउंड पाए जाते हैं जैसे एसिटिक एसिड, कैटचिन, गैलिक एसिड, कैफीक एसिड आदि इसी कारण इसमें शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट गुण होता है।

ये एंटीऑक्सीडेंट गुण फ्री रेडिकल के हानिकारक प्रभावों को रोकते हैं जो डीएनए सेल को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं।

सेब का सिरका पोषक तत्वों के अवशोषण में सहायक

यदि आपके भोजन के पोषक तत्व ठीक से अवशोषित नहीं होते हैं, तो यह विनेगर पेट में एसिड का स्तर उचित पोषक तत्व अवशोषण को सक्षम करता है। ऐप्पल साइडर सिरका मेटाबोलिज्म बढ़ाता है, जो अंततः उचित पोषक तत्व अवशोषण करता है।

सेब का सिरका ऊर्जा को बढ़ाता है

दिन भर सुस्त और थका हुआ महसूस करना, इससे बुरा कुछ और नहीं हो सकता। ऐसे में सेब के सिरके के 2 चम्मच एक गिलास पानी में डाल कर पीने से शरीर में स्फूर्ति और ऊर्जा का संचार हो जाता है।

यहाँ यह ध्यान रखें कि सेब के सिरके का सेवन खाली पेट ना करें। खाली पेट इसका सेवन करनें से शरीर में शुगर की मात्रा बढ़ सकती है। आप इसे खाना खाने के बाद खा सकते हैं। (सम्बंधित: सेब खाने का सही समय)

सेब का सिरका सन बर्न को ठीक करें

एप्पल साइडर सिरका आपकी त्वचा के पीएच स्तर को बहाल करने में मदद करता है। जिससे यह आसानी से धूप की कालिमा का इलाज कर सकता है, बस नहाने के पानी में एक कप सिरका डालकर स्नान करें, सन बर्न ठीक हो जाते हैं।

सेब का सिरका में ऑस्टियोपोरोसिस में मददगार

सेब साइडर सिरका भी ऑस्टियोपोरोसिस को रोकने में मदद करता है। इसका प्रयोग कमजोर हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए अकेले या शहद के भी किया जा सकता है।

सेब का सिरका गले की खराश को ठीक करता है

सिरका के एंटीबैक्टीरियल गुण गले के संक्रमण और खराश के इलाज में मददगार साबित होता है।

इसके लिए बस एक चम्मच सिरका एक कप पानी में डाल  कर धीरे-धीरे उसका सेवन दिन में दो तीन बार करें इससे आपके गले को आराम मिलेगा।

सेब का सिरका हिचकी रोकने में सहायक

हिचकी कोई जानलेवा बीमारी नहीं है पर जब भी हिचकी आती है तो इरिटेशन होने लग जाती है ऐसे में सिरका का सेवन करने से दिमाग का ध्यान सिरके की कड़वाहट पर चला जाता है और हिचकी अपने आप बंद हो जाती है।

सेब का सिरका पैर के तनाव और जकड़न को कम करता है

पोटेशियम का निम्न स्तर पैर की ऐंठन और जकड़न का एक कारण हो सकता है। एप्पल सिरके में, पोटेशियम की उच्च मात्रा होने के कारण यह पैर की ऐंठन कम कर सकता है।

चिकित्सकों के अनुसार, सेब साइडर सिरका, जब पानी और शहद के साथ लिया जाता है, मांसपेशियों की ऐंठन को कम करता है।

सेब का सिरका वार्ट्स के इलाज में कारगर

वायरस के कारण त्वचा पर छोटे मांस के टुकड़े उभर आते हैं लेकिन उनके बारे में चिंता करने की आवश्यकता नहीं है, सुपर साइडर विनेगर को त्वचा के उस भाग पर लगाकर बैंडेज लगा देने और सुबह निकाल देने से कुछ दिनों बाद वार्ट्स ख़त्म हो जाता है।

सेब का सिरका प्राकृतिक डिओड्रेंट का काम करता है

बाजार में उपलब्ध डिओड्रेंट में केमिकल मिले होते हैं। सिरका प्राकृतिक रूप से डिओड्रेंट का काम करता है।

आपको बस इतना करना होगा कि आपके अंडरआर्म पर थोड़ा सा सिरका लगाना होगा, यह शरीर की गंध को कम कर देगा सिरके के गंध की चिंता ना करें ये सूखने के बाद नहीं आता।

सेब का सिरका में ऐन्टीफंगल गुण होते हैं

बालों में रूसी की कारक फंगस मैलेसेजिया फरफर एप्पल विनेगर के ऐन्टीफंगल गुण के से समाप्त किया जा सकता है।

पानी और सेब के सिरके की आधी-आधी मात्रा मिलाकर रख लें और रूसी समाप्त होने तक नियमित रूप से सिर में लगायें।

सेब का सिरका के फायदे नाक के लिए

अगर आप साइनस से परेशान रहते हैं और आम सर्दी के कारण बहती हुई अपनी नाक से परेशान हो गए हैं? तो यह सिरका आपके लिए मददगार है।

1 चम्मच शहद और 2 चम्मच सिरके को  गुनगुने पानी के साथ लेने से साइनस इन्फेक्शन और बंद नाक से छुटकारा मिल सकता है।

सेब का सिरका चेहरे की त्वचा के लिए

इसका प्रयोग एक फेस क्लिएंज़र के तौर पर किया जाता है। इसे पानी के साथ मिलाकर रुई से चेहरे पर लगाये।

ये आपके चेहरे को अच्छी रंगत देगा और एक बढ़िया डिटॉक्स होने के कारण यह सिरका चहरे के दानों से छुटकारा पाने में भी मदद करता है। (यह भी पढ़ें: चेहरे को गोरा करने के उपाय)

सेब का सिरका के फायदे हाथ और पैर के लिए

पैरों से दुर्गंध आना एक समस्या है, एक टब या बालटी में गरम पानी के साथ आधा कप सिरका मिलाकर कुछ मिनटों के लिए अपने हाथ और पैर इसके अंदर डालें।  जब आप अपने हाथ पैर धोयेंगे ,डेड सैल्स पैर से अलग हो जाएंगे और धीरे धीरे दुर्गन्ध की समस्या ख़त्म हो जाएगी।

ऊपर बताई गयी बातें सेब के सिरके को एक रामबाण सिद्ध करती है। इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद यकीनन आपके किचन में एप्पल वेंफगर की बोतल तो जरूर होनी चाहिए, सिरके के इन फायदों के बारे में अपने सगे सम्बन्धियों को भी बताएं।

सम्बंधित लेख:

  1. सेब का सिरका बनाने की विधि
- Advertisement -

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

नाभिकीय भौतिकी क्या है?

नाभिकीय भौतिकी भौतिकी का क्षेत्र है जो परमाणु नाभिक का अध्ययन करता है। दूसरे शब्दों में, नाभिकीय भौतिकी नाभिक...

परमाणु भौतिकी क्या है?

परमाणु भौतिकी का परिचय (Introduction to Atomic Physics) परमाणु ऊर्जा परमाणु रिएक्टरों और परमाणु हथियारों दोनों के लिए शक्ति का स्रोत है। यह ऊर्जा परमाणुओं...

राष्ट्रीय एकता पर निबंध

राष्ट्रीय एकता का महत्व: राष्ट्रीय एकता लोगों के बीच उनके जाति, पंथ, धर्म या लिंग के बावजूद बंधन और एकजुटता है। यह एक देश में...

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को दिए निर्देश, संविधान को पाठ्यक्रम में शामिल करने पर 3 महीने में ले फैसला

देश के प्रत्येक तहसील में एक केंद्रीय विद्यालय खोलने और प्राइमरी स्कूल के पाठ्यक्रम में भारतीय संविधान को शामिल करने की मांग वाली याचिका...

पाकिस्तान : कट्टरपंथी संगठन के 86 सदस्यों को आतंकवादी रोधी अदालत ने सुनाई 55-55 साल कैद की सजा

पाकिस्तान के रावलपिंडी में एक आतंकवाद रोधी अदालत ने कट्टरपंथी संगठन तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (टीएलपी) के 86 सदस्यों व समर्थकों को कुल मिलाकर 4738 साल...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -