“माय नेम इस खान” के नौ साल पूरे होने पर, निर्देशक करण जौहर ने शाहरुख़ खान और काजोल के लिए किया हार्दिक पोस्ट

शाहरुख़ खान और काजोल की जोड़ी बॉलीवुड की सबसे पसंदीदा जोड़ी में से एक है। और उसपे अगर करण जौहर भी मिल जाए तो बड़े पर्दे पर जादू बिखरना तो तय है। ऐसे ही नौ साल बाद जब सुपरस्टार शाहरुख़ और काजोल फिल्म “माय नेम इस खान” के लिए साथ आये तो दर्शकों के दिलों के साथ साथ बॉक्स ऑफिस पर भी फ़तेह पा ली।

रिजवान खान के अमेरिका के राष्ट्रपति से मिलने तक के सफ़र को नौ साल पूरे हो चुके हैं और इसलिए निर्देशक करण जौहर ने अपने ट्विटर के माध्यम से एक हार्दिक पोस्ट किया है। उन्होंने लिखा-“माय नेम इस खान के नौ साल। मैं खुद को धन्य मानता हूँ कि मैं ये कहानी बता पाया। इसे रचने के लिए शुक्रिया शिबानी। और शुक्रिया शाहरुख़, रिजवान के किरदार को इतने खूबसूरत और शानदार तरीके से जीने के लिए और शुक्रिया काजोल तुम्हारी आँखें, तुम्हारी शांति और बाकी चीजों के लिए।”

अभिनेता वरुण धवन जिन्होंने इस फिल्म में सहायक निर्देशक के तौर पर काम किया था, उन्होंने भी एक पुरानी तस्वीर साझा की है। उन्होंने लिखा-“माय नेम इस खान के नौ साल। एक ऐसी फिल्म जिससे मैंने बहुत कुछ सीखा। इसने व्यावहारिक रूप से मेरी ज़िन्दगी बदल दी। और मेरे पास ये इकलौती तस्वीर है जिसमे अभिषेक वर्मन मुस्कुरा रहे हैं। शुक्रिया करण जौहर।”

बाद में, करण ने भी ट्वीट का जवाब देते हुए बताया कि फिल्म से जुड़ी बहुत सी यादगार बातें हैं और अभिनेता सिद्धार्थ मल्होत्रा भी फिल्म की प्रोडक्शन टीम का हिस्सा थे। पोस्ट यहाँ देखिये-

फिल्म में, शाहरुख़ ने रिजवान खान नाम के एक मुस्लिम पुरुष का किरदार निभाया था जिसे आस्पेर्गर सिंड्रोम होता है। काजोल के किरदार का नाम मंदिरा होता है और वे एक सिंगल मदर होती है जिसकी बाद में रिजवान से शादी हो जाती है। उनकी ज़िन्दगी बदल जाती है जब मंदिरा के बेटे की एक मुस्लिम पिता होने के कारण हत्या हो जाती है।

किंग खान और काजोल दोनों को फिल्म में अपने अपने प्रदर्शन के लिए बहुत सराहना मिली थी और उन दोनों की केमिस्ट्री ने सभी का दिल जीत लिया था। फिल्म की कहानी काफी अलग थी और बड़े पर्दे पर लोगों को एक नए किस्म की फिल्म देखने को मिली थी जो पहले कभी नहीं बनी। फिल्म ने कमाई भी जबरदस्त की थी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here