शुक्रवार, दिसम्बर 13, 2019

पाकिस्तान दिवस की परेड में शामिल होंगे चीनी लड़ाकू विमान

Must Read

उत्तर प्रदेश में भूख और ठंड से सरकारी गौशाला में 22 गायों की मौत, 2 कर्मचारी निलंबित

उत्तर प्रदेश में बांदा जिले की अतर्रा कान्हा पशु आश्रय केंद्र (सरकारी गौशाला) में कथित रूप से भूख और...

‘मर्दानी 2’ में रानी मुखर्जी के काम की ट्विटर पर सराहना

गोपी पुथरण निर्देशित फिल्म 'मर्दानी 2' शुक्रवार को रिलीज की गई। फिल्म में रानी मुखर्जी मुख्य किरदार में हैं।...

चिली विमान हादसे में किसी के बचने की उम्मीद कम

चिली की वायुसेना ने कहा है कि अधिकारियों ने अंटार्कटिका के लिए रवाना हुए 38 लोगों के साथ दुर्घटनाग्रस्त...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

चीनी वायु सेना के जे-10 लड़ाकू विमान 23 मार्च को पाकिस्तानी दिवस में आयोजित परेड में शामिल होंगे। ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक पीपल लिब्रेशन आर्मी की वायु सेना के बायीं एरोबेटिक टीम शनिवार को पाकिस्तान पंहुच चुकी है ताकि फ्लाइट परफॉरमेंस की तैयारी कर सके।

रिपोर्ट के मुताबिक चीन, सऊदी अरब और तुर्की इस परेड में शामिल होगा। साथ ही मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद इस सम्मेलन में मुख्य अतिथि होंगे।

शंघाई अकेडमी ऑफ़ सोशल साइंस के रिसर्च फेलो हुई जहियोंग ने कहा कि “चीन का लड़ाकू विमानों को परेड में शामिल होने के लिए भेजना दोनों देशों की मज़बूत दोस्ती को प्रदर्शित करता है। पाकिस्तान चीन का सदाबहार दोस्त है।”

हाल ही में चीन ने जेएफ-17 लड़ाकू विमानों को संयुक्त रूप से अपग्रेड करने की योजना को सार्वजनिक किया था। पाकिस्तान की वायु सेना ZDK-03 एयरक्राफ्ट का भी संचालन करेगी जिसे पाकिस्तान ने विकसित किया है। यह एयरक्राफ्ट हवाई खोज और युद्धक्षेत्र की सटीक जानकारी को मुहैया करने में सक्षम है।

रिपोर्ट के अनुसार चीन नार्थ इंडस्ट्री कारपोरेशन द्वारा विकसित एमबीटी-200 मुख्या बैटल टैंक को पाकिस्तानी आर्मी ने अल खालिद नाम दे रखा है। साथ ही पाकिस्तान चीन के एचजे-8 टैंक मिसाइल और एफएम 90 एयर डिफेन्स मिसाइल का भी संचालन करेगा।

pakistan national day parade
पाकिस्तान की राष्ट्रिय परेड हर साल 14 अगस्त को आयोजित की जाती है

उन्होंने बताया कि “पाकिस्तानी मिलिट्री के विकास में चीन ने काफी योगदान दिया है। पाकिस्तान की चीन दशकों से राष्ट्रीय रक्षा इंडस्ट्री में सहयोग कर रहा है।”

चीन अपने पड़ोसी मुल्क के साथ सीपीईसी समेत अधिक संयुक्त विकासशील परियोजना को कर सकते है और साथ ही भविष्य में हथियारों का अधिक सौदा भी कर सकते हैं।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

उत्तर प्रदेश में भूख और ठंड से सरकारी गौशाला में 22 गायों की मौत, 2 कर्मचारी निलंबित

उत्तर प्रदेश में बांदा जिले की अतर्रा कान्हा पशु आश्रय केंद्र (सरकारी गौशाला) में कथित रूप से भूख और...

‘मर्दानी 2’ में रानी मुखर्जी के काम की ट्विटर पर सराहना

गोपी पुथरण निर्देशित फिल्म 'मर्दानी 2' शुक्रवार को रिलीज की गई। फिल्म में रानी मुखर्जी मुख्य किरदार में हैं। फिल्म को देखने के बाद...

चिली विमान हादसे में किसी के बचने की उम्मीद कम

चिली की वायुसेना ने कहा है कि अधिकारियों ने अंटार्कटिका के लिए रवाना हुए 38 लोगों के साथ दुर्घटनाग्रस्त सैन्य विमान से किसी भी...

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : अब संथाल, कोयलांचल में बिछेगी सियासी बिसात

झारखंड विधानसभा चुनाव के तीन चरणों का मतदान समाप्त हो जाने के बाद अब दो चरणों का मतदान शेष है। शेष दो चरणों के...

अरुणाचल के लोवर डिबांग वैली में जेके टायर ऑरेंज 4गुणा4 फ्यूरी शुरू

देश की सबसे कठिन और सबसे रोमांचक ऑफ रोडिंग प्रतियोगिताओं में से एक जेके टायर ऑरेंज 4गुणा4 फ्यूरी का शुक्रवार को यहां लोवर डिबांग...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -