दा इंडियन वायर » स्वास्थ्य » दिमाग तेज कैसे करें? घरेलु उपाय और नुस्खे
स्वास्थ्य

दिमाग तेज कैसे करें? घरेलु उपाय और नुस्खे

यदि आप रोज़मर्रा में अक्सर चीजें भूल जाते हैं और आपकी याददाश्त दिन प्रतिदिन कमज़ोर होती जा रही है तो यह अवश्य ही आपके लिए चिंता का विषय है। ऐसा प्रतीत होता है मानो उम्र के साथ हमारी याददाश्त भी कमजोर हो रही हो लेकिन क्या वास्तव में इसके निवारण के कोई उपाय नहीं हैं या फिर हम उनसे अनभिज्ञ हैं।

वास्तविकता यह है कि हमारी याददाश्त सिर्फ उम्र के कारण ही कमज़ोर हो ऐसा आवश्यक नहीं है। ऐसा भी हो सकता है कि इसके कुछ अन्य कारण हों। कई बार हमारी आदतें, हमारा खानपान आदि भी इसके लिए ज़िम्मेदार होते हैं। ऐसे में अपनी याददाश्त तेज करने के लिए आप कई घरेलु उपाय कर सकते हैं।

दिमाग तेज करने के उपाय (brain sharp tips in hindi)

आइये जानते हैं कि वे ऐसे कौनसे उपाय हैं जिनको अपनाकर हम अपनी याददाश्त और दिमाग तेज़ कर सकते हैं।

1. एक बार में एक काम करें

कई लोगों की आदत होती है कि वे बहुत सारे काम एक साथ करते हैं। ऐसे लोगों को भूलने की समस्या अधिक होती है। इसका कारण यह है कि जब हम एक ही समय पर अनेक कार्यों में अपना समर्पण दे देते हैं तो हमारा ध्यान एक जगह न रहकर कई जगह विभाजित हो जाता है जिसके कारण हम चीजें भूलने लगते हैं।

उदाहरण स्वरुप ले लीजिये कि जब आप बातें करते हुए कोई किताब नहीं पढ़ पाते हैं क्योंकि आपका दिमाग एकाग्रचित नहीं रह पाता है। शोध के अनुसार आपके मस्तिष्क को कोई भी चीज़ याद रखने के लिए लगभग 8 सेकंड का समय लगता है तो यदि आप फ़ोन पर बात करते हुए अपनी चाभी को मेज़ पर रख देते हैं तो आप इसको भूल जायेंगे इसकी सम्भावना अधिक है।

इसके अतिरिक्त यदि आप कोई बात जोर से बोल देते हैं तो वह आपको ज्यादा याद रहती है

2. दिमाग तेज करने के लिए व्यायाम करें (brain sharp exercise in hindi)

व्यायाम करने से हमारे शरीर का रक्त चाप बढ़ जाता है जिससे हमारा दिमाग भी तेज़ होता है। दौड़, तैराकी अथवा साइकिल चलाना आदि किसी भी प्रकार का व्यायाम यदि प्रतिदिन 30 मिनट के लिए कर लिया जाए तो इसका हमारे दिमाग पर बहुत अच्छा असर पड़ता है।

व्यायाम हमारे मस्तिष्क में मौजूद हिप्पोकैम्पस को बड़ा कर देता है जिसको मस्तिष्क के मेमोरी सेण्टर के नाम से जाना जाता है। असल में, ऐसी गतिविधियाँ जिनमें हाथ और आँखों के समन्वय की आवश्यकता होती है, वे दिमाग को तेज़ करती हैं।

यदि आप बहुत व्यस्त है तो केवल 10 मिनट निकाल कर सैर पर चले जाये। सुबह सैर करने के बहुत से फायदे हैं।

3. पूरी नींद लें (good sleep for sharp brain in hindi)

कई अध्ययनों में ये बात साबित हुई है कि जिन लोगों की नींद पूरी नहीं होती है उन्हें स्वास्थ्य सम्बन्धी कई समस्याएं झेलनी पड़ती हैं। इसमें याददाश्त कमज़ोर होना भी शामिल है। जो लोग नींद पूरी नहीं करते उनमें भूलने की बीमारी अधिक पायी जाती है।

ऐसे में आपको यह जानना चाहिए कि आपको कितने घंटे सोना चाहिए?

शोधकर्ताओं का मानना है कि हर किसी को प्रतिदिन 7-8 घंटे की नींद लेना आवश्यक होता है। इसके अतिरिक्त झपकियाँ भी फायदेमंद होती है। 

सोने से मस्तिष्क के नयूरोंस के बीच का बंधन मज़बूत हो जाता है। विशेषज्ञों के मानना है कि यदि आपको तुरंत नींद नहीं आती है तो आप सोने से पहले एक कप गर्म दूध का सेवन कर सकते हैं। (पढ़ें: दूध पीने के फायदे)

4. दिमाग तेज करने के लिए आयुर्वेद का लें सहारा (ayurved for sharp brain in hindi)

अश्वगंधा के फायदे शरीर के लिए ढेरों हैं।

अश्वगंधा का उपयोग पुराने समय से आयुर्वेद में किया जाता रहा है। इसमें ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जो नर्व सेल को खराब होने से रोकते हैं और याददाश्त को तेज़ करने का काम करते हैं।

अश्वगंधा का सेवन पाउडर के रूप में या फिर टेबलेट के रूप में भी किया जा सकता है। अश्वगंधा दिमाग तेज करने में और एकाग्रता बढाने में उपयोगी होता है। साथ ही यह अल्झाइमर, पार्किन्सन और अन्य मस्तिष्क की बीमारियों से बचाता है। 

इसके अतिरिक्त फिश ओइल भी नयूरोंस को विकास को बढाता है और पागलपन के खतरे को कम कर देता है। इसमें डीएचए होता है, जो याददाश्त को तेज़ करता है।

5. स्वयं को आयोजित रखें

यदि आपका घर बिखरा हुआ है, तो इसकी अधिक सम्भावना है कि आप चीजों को ज्यादा भूलेंगे। अपने घर को और अपने आस पास के वातावरण को आयोजित करके रखेंगे तो आप चीजों को अत्यधिक याद रख पाएंगे।

घर में मौजूद हर चीज़ की जगह सुनिश्चित कर लें और उसे वहीं रखें ताकि आप उसे समय पर वहीं पा सकें। अपने हर काम की एक सूची तैयार कर लें और उसके अनुसार ही उन कार्यों को करें। इससे आपका हर काम समय पर पूर्ण हो पायेगा। हर कार्य को स्वयं लिखने से वो याद रहता है।

6. दिमाग तेज करने के लिए ध्यान लगायें (meditation for sharp brain in hindi)

2015 में युसीएलए ब्रेन मैपिंग सेण्टर द्वारा किये गए एक अध्ययन में यह पाया गया है था कि हमारा मस्तिष्क 20 की उम्र के बाद से आकार और घनिष्टता दोनों में ही घटने लगता है। मैडिटेशन इस समस्या से निजात पाने का एक अच्छा तरीका साबित होता है।

मैडिटेशन करने वाले लोग पागलपन, अल्झाइमर और पार्किन्सन जैसी बिमारियों से दूर रहते हैं। मैडिटेशन करने से शरीर में सकारात्मक उर्जा भर जाती है जिससे आपकी एकाग्रता बढती है और आप हर कार्य के प्रति अधिक सक्रिय हो जाते हैं। इसके अतिरिक्त मेडिटेशन करने से तनाव भी कम हो जाता है

7. तनाव को संतुलित करें

अत्यधिक तनाव और डिप्रेशन आपके ब्रेन सेल को खराब कर देता है और मस्तिष्क को हानि पहुंचाकर याददाश्त कमज़ोर कर देता है। इससे निजात पाने के लिए सबसे उपयोगी कार्य जो आप कर सकते हैं वह है हँसना। अत्यधिक हंसने वालों का मस्तिष्क अधिक मज़बूत रहता है।

हंसने से आपके मस्तिष्क के विभिन्न भाग सक्रीय हो जाते हैं जिससे तनाव का स्तर घट जाता है। लोगों से घुलने मिलने और बातचीत करने से भी तनाव कम हो जाता है। इसलिए कभी भी किसी ऐसे कार्यक्रम का न्योता न ठुकरायें जहाँ आपको अनेक लोगों से मिलने का मौका मिल रहा हो

8. उचित प्रकार का भोजन लें (brain sharp foods in hindi)

हमारा मस्तिष्क हमारे शरीर की उर्जा का अधिकतम भाग अपने उपयोग में लेता है। यही कारण है कि उचित आहार का जितना असर आपके शरीर पर पड़ता है उतना ही आपकी मस्तिष्क पर भी होता है।

दिमाग को तेज़ करने वाले भोजन में विभिन्न फल, एंटीओक्सीडैन्ट्स से भरपूर भोजन, हरी पत्तेदार सब्जियां और कई प्रकार के अनाज शामिल होते हैं। निम्न प्रकार के भोजन आपके मस्तिष्क को स्वस्थ रखते हैं।

  • विटामिन सी और बी
  • नट्स
  • बेरी
  • हरी पत्तेदार सब्जियां
  • एवोकाडो
  • टमाटर
  • अनाज
  • मछली
  • रेड वाइन

9. दिमाग तेज करें किताबें पढ़कर

पढने से आपके दिमाग में तरल की मात्रा और आपका भावनात्मक इंटेलिजेंस बढ़ जाता है। इसके अतिरिक्त शोधकर्ताओं ने यह भी पाया है कि पढने से आपके मस्तिष्क में एक सफ़ेद पदार्थ का निर्माण होता है जो सिस्टम वाइड संचार में सहायक होता है।

यह आपके मस्तिष्क में आने वाले जानकारी को अधिक कुशलता से प्रोसेस करता है और आपकी एकाग्रता बढाता है

10. वेटलिफ्टिंग करें

शोध में पाया गया है कि हफ्ते में दो बार वेटलिफ्टिंग करने से आपके मस्तिष्क की कार्य कुशलता में सुधार होता है। इसके साथ ही ये उम्रदराज़ लोगों को पागलपन की बीमारी के खतरे से भी बचाता है।

11. दूसरी भाषा सीखें

शोधकर्ताओं ने पाया है कि जो लोग एक से अधिक भाषाओँ का ज्ञान रखते हैं उनका मस्तिष्क अधिक स्वस्थ रहता है क्योंकि वे मस्तिष्क की कम शक्ति का प्रयोग करते हैं

एक कनाडाई अध्ययन से पता चला है कि जो लोग दो भाषाओं में बात करते हैं, वे जानकारी को अधिक आर्थिक रूप से संसाधित करते थे। इसके अलावा, बहुभाषी होने की वजह से आप अन्य संस्कृतियों की अधिक खुले रूप से यात्रा कर सकते हैं, जिससे यात्रा अधिक मज़ेदार बन  जाती है।

12. चेस खेलें

अध्ययनों से पता चलता है कि शतरंज खिलाड़ियों में पैटर्न रिकग्निशन अधिक पाया जाता है क्योंकि वे निर्णय लेने के लिए मस्तिष्क के दोनों पक्षों का उपयोग करते हैं।

शतरंज आपकी मेमोरी कौशल में भी सुधार के लिए अच्छा है क्योंकि गेम आपको हर समय कई प्रकार की संभावनाओं को ध्यान में रखने के लिए मजबूर करता है।

13. चोपस्टिक से खाएं

यदि आप चम्मच का प्रयोग करते हैं तो उसे त्यागकर चोपस्टिक का प्रयोग करना शुरू कर दें। ये आपके मस्तिष्क के सेल्स के बीच का संतुलन स्थिर रखता है।

न्यूरोबोलॉजिस्ट लॉरेंस काटज ने अपनी पुस्तक “कीप योर ब्रेन अलाइव” में कहा है, जिसमें मानसिक फिटनेस में सुधार के लिए 83 मस्तिष्क के व्यायाम हैं। चोपस्टिक आपको अधिक दिमाग लगाकर खाने के लिए मजबूर करता है जो न केवल आपके मस्तिष्क के लिए, बल्कि पाचन और कैलोरी खपत के लिए भी बहुत अच्छा होता है।

14. सकारात्मक सोच रखें

सकारात्मक सोच रखने से आपका मस्तिष्क कई प्रकार से सुधर सकता है और इसकी कार्य करने की क्षमता भी बढ़ जाती है। वैज्ञानिकों ने साबित कर दिया है कि यदि आप अपने विचार प्रक्रियाओं को दिमाग की प्रथाओं के माध्यम से जानबूझ कर बदलते हैं, तो आप अपने दिमाग को सही सोच से बायीं ओर ले जा सकते हैं।

इसके अतिरिक्त आप कम परेशान होंगे, अधिक ऊर्जा भरे रहेंगे और सम्पूर्ण रूप से खुश रहेंगे।

15. नृत्य करें

शोध में पाया गया है कि नृत्य करने वालों का दिमाग अधिक तेज़ चलता है क्योंकि नृत्य करते वक़्त उन्हें शारीरिक एवं मानसिक रूप से संयोजन बिठाना पड़ता है। 

यह उम्र के प्रभावों को कम करता है और चलने या दौड़ने से होनें वाले फायदे से अधिक फायदेमंद होता है।

दिमाग तेज करने के अन्य उपाय (other tips to sharp brain in hindi)

  • प्रोटीन युक्त भोजन करें
  • सुबह दौड़ लगायें
  • नयी-नयी चीजें करें
  • व्यायाम करें
  • ज्यादा से ज्यादा प्रैक्टिस करें

About the author

दिव्या

6 Comments

Click here to post a comment

  • mujhe dimag tej kkarna hai. mujhe class mein kuch yaad nahi rehta hai. main pichle saal kai vishay mein fail bhi ho gaya tha. ab bataye main kya upay karon?

    • जगदीश, दिमाग को तेज करने के उपाय हमनें इस लेख में बताये हैं। इसके अलावा जब भी आप पढाई करें, तो ध्यान लगाकर करें। पास में मोबाइल आदि होने की वजह से पढ़ाई नहीं हो पाती है।

  • मैं पढ़ाई में बहुत कमजोर हूँ मेरे मार्क्स बहुत कम आते हैं क्या कोई ऐसी दवाई है जिससे मेरा दिमाग बहुत तेज़ चले ओर मेरे अपने आप सब याद हो जाए?

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!