शक्ति कपूर की जीवनी

Must Read

राहुल गांधी को कोरोनावायरस की पूरी जानकारी नहीं: बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा

मोदी सरकार द्वारा COVID-19 स्थिति को संभालने की आलोचना के लिए राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर हमला करते हुए,...

कार्तिक आर्यन ने आगामी फिल्म ‘दोस्ताना 2’ के बारे में दी रोचक जानकारी

अभिनेता कार्तिक आर्यन (Kartik Aaryan) आज बॉलीवुड में सबसे अधिक मांग वाले अभिनेताओं में आसानी से शामिल हैं। टाइम्स...

भारत में कोरोनावायरस के मामले 1.5 लाख के करीब, पढ़ें पूरी जानकारी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज कहा है कि 6,535 नए संक्रमणों के बाद भारत में कोरोनोवायरस बीमारी (COVID-19) के...

शक्ति कपूर भारतीय फिल्मो के मशहूर अभिनेता हैं। उन्होंने अपनी पहचान एक हीरो के रूप में नहीं बल्कि एक विलन के रूप में बनाई है। शक्ति कपूर ने भारतीय टेलीविज़न के रियलिटी शो ‘बिग बॉस’ के 5वें सीजन में भाग भी लिया था। शक्ति ने अभिनेता कादर खान के साथ 1980 से 1990 के दशक तक लगभग 100 फिल्मो में अभिनय किया था। उन सभी फिल्मो में शक्ति को नकारात्मक किरदारों को दर्शाते हुए देखा गया था।

शक्ति कपूर के द्वारा अभिनय किए गए फिल्मो की बात करे तो उन्होंने ‘दिल से दिल तक’, ‘किस्मत’, ‘खुदा कसम’, ‘आपस की बात’, ‘हिमतवाला’, ‘मेरा फैसला’, ‘मक़सद’, ‘होशियार’, ‘मोहब्बत’, ‘वफादार’, ‘त्यागी’, ‘पुलिस वाला’, ‘अंदाज़’, ‘कुली न. 1’, ‘हीरो न. 1’, ‘दीवाना मस्ताना’, ‘हम आपके दिल में रहते हैं’, ‘राजा बाबू’, ‘अखियों से गोली मारे’, ‘हंगामा’, ‘दे दना दन’, ‘दोस्ती ज़िंदाबाद’ जैसी कई सारी हिट फिल्मो में अभिनय किया है।

शक्ति कपूर का प्रारंभिक जीवन

शक्ति कपूर का जन्म 03 सितम्बर 1958 को दिल्ली में हुआ था। शक्ति के पिता का नाम ‘सिकंदर लाल कपूर’ था जो पेशे से एक टेलर थे। उनकी माँ का नाम ‘सुशीला कपूर’ था जो घर परिवार को सम्हालने का काम करती थीं। शक्ति के दो भाई हैं और एक बहन हैं। उनके भाइयो के नाम ‘परवीन कपूर’ और ‘रमी कपूर’ है और उनकी बहन का नाम ‘रेनू कपूर’ है। शक्ति का असली नाम ‘सुनील सिकंदरलाल कपूर’ था लेकिन अभिनेता सुनील दत्त ने फिल्म ‘रॉकी’ के समय सुनील का नाम को बदल कर शक्ति नाम रखा था।

शक्ति कपूर ने अपने स्कूल की पढाई ‘हौली चाइल्ड’, दिल्ली से शुरू की थी। इसके बाद उन्होंने ‘फ्रैंक अन्थोनी पब्लिक स्कूल’, दिल्ली में कुछ समय तक पढाई की थी। शक्ति ने ‘सालवन पब्लिक स्कूल’, दिल्ली से अपनी स्कूल की पढाई पूरी की थी। शक्ति को उनके ख़राब बर्ताव की वजह से स्कूल से निकाला जाता था, जिसकी वजह से उन्होंने तीन स्कूल में पढ़कर अपनी स्कूल की पढाई पूरी की थी। इसके बाद शक्ति ने ‘किरोरी मॉल कॉलेज’, दिल्ली से अपनी ग्रेजुएशन की पढाई को पूरा किया था।

शक्ति कपूर का व्यवसाय जीवन

शक्ति कपूर का फिल्मो का शुरुआती सफर

शक्ति कपूर ने फिल्मो में अपने अभिनय की शुरुआत साल 1975 से की थी। उनकी पहली फिल्म का नाम ‘दो जासूस’ था जिसमे उन्होंने ‘आनंद’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इसके बाद साल 1977 में शक्ति ने फिल्म ‘कसम खून की’, ‘अलीबाबा मरजीना’ और ‘खेल खिलाड़ी का’ में अभिनय किया था।

साल 1978 और साल 1979 में शक्ति ने फिल्म ‘दिल से मिले दिल’, ‘दरवाजा’, ‘सरगम’ और ‘जानी दुश्मन’ में अभिनय किया था। साल 1980 में शक्ति ने फिल्म ‘यारी दुश्मनी’, ‘नज़राना प्यार का’, ‘मोर्चा’, ‘बंबई का महाराजा’, ‘आशा’, ‘क़ुरबानी’ और ‘किस्मत’ में अभिनय किया था।

साल 1981 में शक्ति ने फिल्म ‘रॉकी’ में अभिनय किया था। इस फिल्म में उन्होंने ‘आर.डी.’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इस फिल्म में मुख्य किरदारों को संजय दत्त, राखी, रीना रॉय और शक्ति कपूर ने अभिनय किया था। इस फिल्म के बाद से शक्ति कपूर को उनके इसी नाम से जाना जाता था। उसी साल उन्होंने फिल्म ‘नसीब’ और ‘वारदात’ में भी अपने अभिनय को दर्शाया था।

उस साल शक्ति ने फिल्म ‘तजुर्बा’ में भी अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘निखिल सैनी’ थे और फिल्म में शक्ति ने मुख्य किरदार को दर्शाया था। उस साल की उनकी अगली फिल्म का नाम ‘खुदा कसम’ था जिसमे उन्होंने ‘खन्ना’ नाम के किरदार को दर्शाया था। फिल्म के निर्देशक ‘के. सी. बोकड़िआ’ थे और फिल्म में सनी देओल और तब्बू ने मुख्य किरदार दर्शाया था। उस साल की शक्ति की बाकी फिल्मो के नाम ‘अरमान’, ‘आपस की बात’ और ‘मेरी आवाज़ सुनो’ हैं।

साल 1982 में शक्ति ने फिल्म ‘सत्ते पे सत्ता’ में अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘राज एन. सिप्पी’ थे और फिल्म में शक्ति ने ‘मंगल आनंद’ नाम के किरदार को दर्शाया था। फिल्म में मुख्य किरदारों को अमिताभ बच्चन, हेमा मालिनी, रनजीत कौर, अमजद खान, शक्ति कपूर और सुधीर ने अभिनय किया था। इसके बाद शक्ति ने फिल्म ‘अपना बना लो’ और ‘बदले की आग’ में अभिनय किया था।

उसी साल शक्ति ने फिल्म ‘स्वामी दादा’ ने भी अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘देव आनंद‘ थे और फिल्म में शक्ति ने ‘जग्गू’ नाम के किरदार को दर्शाया था। साल का अंत शक्ति ने फिल्म ‘मेहंदी’ के साथ किया था।

साल 1983 में शक्ति को फिल्म ‘मैं आवारा हूँ’ में अभिनय करते हुए देखा गया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘अशीम एस. समानता’ थे और फिल्म में शक्ति ने ‘कुंदन’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इस फिल्म में मुख्य किरदारों को राज बब्बर और संजय दत्त ने अभिनय किया था और शक्ति कपूर ने फिल्म में नकारात्मक किरदार ही दर्शाया था। इसके बाद उस साल शक्ति ने फिल्म ‘हीरो’, ‘चोर पुलिस’ और ‘महान’ में अभिनय किया था।

उसी साल शक्ति को फिल्म ‘हिम्मतवाला’ में देखा गया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘के. रघुवेन्द्र राओ’ थे और फिल्म में शक्ति ने ‘शक्ति एन. गोपालदास’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इस फिल्म में मुख्य किरदारों को जीतेन्द्र और श्रीदेवी ने अभिनय किया था और इस फिल्म में भी शक्ति ने नकारात्मक किरदार ही अभिनय किया था। उसी साल की शक्ति की कुछ और फिल्मो के नाम ‘जानी दोस्त’, ‘जीत हमारी’, ‘क़यामत’ और ‘मवाली’ थे।

साल 1984 में शक्ति को फिल्म ‘ज़ख़्मी शेर’ में देखा गया था। इस फिल्म में उन्होंने ‘अर्सोनिस्ट’ नाम के किरदार को दर्शाया था और फिल्म के निर्देशक ‘दसरी नारायण राओ’ थे। इस फिल्म में जीतेन्द्र और डिंपल कपाडिया ने मुख्य किरदार को दर्शाया था। इसके बाद शक्ति को फिल्म ‘यह देश’ में देखा गया था जहाँ उनके किरदार का नाम ‘धरमदास’ था। इसके बाद उस साल शक्ति ने फिल्म ‘मेरा फैसला’ में भी अभिनय किया था। इस फिल्म में उन्होंने ‘टोनी’ नाम के किरदार को दर्शाया था।

उसी साल शक्ति को फिल्म ‘तोहफा’ में देखा गया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘के. रघुवेन्द्र राओ’ थे। इसके बाद उस साल की शक्ति की अगली फिल्म का नाम ‘बाज़ी’ था, जिसके निर्देशक ‘राज एन. सिप्पी’ थे। इस फिल्म में शक्ति ने ‘रॉकी’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इसके बाद शक्ति ने फिल्म ‘इन्साफ कौन करेगा’, ‘हैसियत’, ‘हम हैं लाजवाब’ और ‘इंतेहा’ में अभिनय किया था।

साल 1985 से साल 1989 तक शक्ति ने बहुत सी हिट फिल्मो में अभिनय किया था। उन सभी हिट फिल्मो के नाम ‘ज़ुल्म का बदला’, ‘मेरा साथी’, ‘दो दिलों की दास्तान’, ‘मोहब्बत’, ‘बादल’, ‘मेरा धरम’, ‘दोस्ती दुश्मनी’, ‘आग और शोला’, ‘दिलवाले’, ‘परिवार’, ‘वतन के रखवाले’, ‘इंसानियत का दुश्मन’, ‘इन्साफ’, ‘सिन्दूर’, ‘साज़िश’, ‘मर मिटेंगे’, ‘खतरों के खिलाडी’, ‘वक़्त की आवाज़’, ‘मजबूर’, ‘नफरत की आंधी’, ‘गुरु’, ‘जैसी करनी वैसी भरनी’ और ‘आखरी ग़ुलाम’ हैं।

साल 1990 में शक्ति ने फिल्म ‘वीरू दादा’ में अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘के. आर. रेड्डी’ थे और फिल्म में शक्ति ने ‘जगराज’ नाम का किरदार अभिनय किया था। इसके बाद उसी साल शक्ति को फिल्म ‘प्यार का देवता’ में देखा गया था। इस फिल्म में शक्ति ने ‘दिलीप’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इस फिल्म में मुख्य किरदारों को मिथुन चक्रवर्ती, माधुरी दीक्षित और निरुपा रॉय ने अभिनय किया था।

उस साल की शक्ति की अगली फिल्म ‘जीने दो’ थी। इस फिल्म में शक्ति ने इंस्पेक्टर ‘हिम्मत सिंह’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इसके बाद शक्ति को फिल्म ‘इज़्ज़तदार’ में ‘जेद्दा शंकर’ नाम के किरदार को दर्शाते हुए देखा गया था। उसी साल की शक्ति की अगली फिल्म ‘गुनाहों के देवता’ थी। इस फिल्म के निर्देशक ‘केवल शर्मा’ थे और फिल्म में शक्ति ने नकली ‘इंस्पेक्टर भिंडे’ नाम के किरदार को दर्शाया था।

उसी साल की शक्ति की कुछ और फिल्मो के नाम ‘बदनाम’, ‘आग का गोला’, ‘बाप नम्बरी बेटा दस नम्बरी’, ‘अमीरी गरीबी’, ‘जमाई राजा’ और ‘बाग़ी: ए रिबेल फॉर लव’ थे।

साल 1991 में शक्ति ने फिल्म ‘यारा दिलदार’ में अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘मिर्ज़ा ब्रदर’ थे और फिल्म में शक्ति ने ‘रमैया’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इसके बाद उन्हें फिल्म ‘मस्त कलंदर’ में देखा गया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘राहुल रवैल’ थे और फिल्म में शक्ति ने इंस्पेक्टर ‘शेर सिंह’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इसके बाद शक्ति ने अगली फिल्म ‘खून का क़र्ज़’ में अभिनय किया था। इस फिल्म में भी उन्होंने इंस्पेक्टर का किरदार अभिनय किया था जिसका नाम ‘दिलावर’ था।

उसी साल शक्ति कपूर को फिल्म ‘धरम संकट’ में देखा गया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘एन. डी. कोठारी’ थे और फिल्म में शक्ति ने ‘हीरालाल’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इस फिल्म में मुख्य किरदारों को विनोद खन्ना और अमृता सिंह ने अभिनय किया था। उस साल का अंत शक्ति ने फिल्म ‘झूठी शान’ के साथ किया था।

साल 1992 में सबसे पहले शक्ति ने फिल्म ‘विरोधी’ में अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘राजकुमार कोहली’ थे और फिल्म में शक्ति ने ‘प्रताप’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इसके बाद उस साल शक्ति ने फिल्म ‘प्यार हुआ चोरी चोरी’ में अभिनय किया था जहाँ उन्होंने ‘बिशम्बर’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इसके बाद उस साल की शक्ति की अगली फिल्म का नाम ‘नागिन और लूटेरे’ था। इस फिल्म में शक्ति को ‘तांत्रिक’ के किरदार को दर्शाते हुए देखा गया था।

उस साल शक्ति को फिल्म ‘मेरे साजन साथ निभाना’ में भी देखा गया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘राजेश वकील’ थे और फिल्म में शक्ति ने ‘भोला’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इसके बाद उसी साल उन्होंने फिल्म ‘इसी का नाम ज़िंदगी’, ‘इन्साफ की देवी’, ‘शोला और शबनम’, ‘सूर्यवंशी’, ‘अधर्म’, ‘साहेबज़ादा’, ‘त्यागी’, ‘ज़िन्दगी एक जुआ’, ‘परस्मनी’, ‘बोल राधा बोल’, ‘खिलाडी’, ‘घर जमाई’, ‘गीत’, ‘बसंती टाँगेवाला’ और ‘गंगा बानी शोला’ में भी अपने अभिनय को दर्शाया था।

साल 1993 से साल 1995 तक शक्ति को फिल्म ‘आँखें’, ‘दिव्या शक्ति’, ‘कृष्णा अवतार’, ‘पुलिस वाला’, ‘परदेसी’, ‘आदमी’, ‘दिल तेरा आशिक़’, ‘दलाल’, ‘आखरी शेतवनी’, ‘शतरंज’, ‘खुद्दार’, ‘अंदाज़’, ‘राजा बाबू’, ‘प्रेम शक्ति’, ‘अंदाज़ अपना अपना’, ‘आग’, ‘लाडला’, ‘मैं खिलाडी तू अनाड़ी’, ‘बेवफा सनम’, ‘कुली न. 1’, ‘याराना’ और ‘दिया और तूफ़ान’ जैसी फिल्मो में अभिनय करते हुए देखा गया था।

साल 1996 में शक्ति ने फिल्म ‘नमक’ में अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘केवल शर्मा’ थे और फिल्म में शक्ति ने ‘जगदीश आर. नाथ’ नाम का किरदार अभिनय किया था। इसके बाद उन्होंने फिल्म ‘एक था राजा’ में अभिनय किया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘रतन जैन’ थे और फिल्म में शक्ति ने ‘लखपत’ नाम के किरदार को दर्शाया था। इसके बाद शक्ति ने फिल्म ‘दिल तेरा दीवाना’ में अभिनय किया था। इस फिल्म में उन्होंने ‘अम्बानी’ नाम के किरदार को दर्शाया था और फिल्म के निर्देशक ‘लॉरेंस डी’सूजा’ थे।

उसी साल शक्ति ने फिल्म ‘लोफर’ में अभिनय किया था जिसके निर्देशक ‘डेविड धवन’ थे। इस फिल्म में शक्ति ने ‘भीकू- रवि मामा’ नाम का किरदार अभिनय किया था। इसके बाद शक्ति ने फिल्म ‘हम हैं खलनायक’ में अभिनय किया था। इस फिल्म में शक्ति ने ‘टिक्का सिंह’ और ‘शक्ति सिंह’ नाम के किरदार को दर्शाया था। साल का अंत शक्ति ने फिल्म ‘खिलौना’ के साथ किया था।

साल 1997 से साल 2000 तक शक्ति ने ‘नसीब’, ‘सनम’, ‘दादागिरी’, ‘जुड़वा’, ‘हीरो न. 1’, ‘मेरे सपनो की रानी’, ‘लोहा’, ‘ज़ंजीर’, ‘बरसात की रात’, ‘हीरो हिंदुस्तानी’, ‘मेहंदी’, ‘हिम्मतवाला’, ‘हम आपके दिल में रहते हैं’, ‘लाल बादशाह’, ‘जान समजा करो’, ‘राजाजी’, ‘हिंदुस्तान की कसम’, ‘मुर्दा घर’, ‘हम साथ साथ हैं’, ‘मेरी जंग एक ऐलान’, ‘जल्लाद न. 1’, ‘भाई ठाकुर’, ‘बुलंदी’, ‘फिर भी दिल है हिंदुस्तानी’, ‘बाग़ी’, ‘चल मेरे भाई’, ‘हम तो मोहब्बत करेंगे’ ‘जिस देश में गंगा रहता है’, ‘कहीं प्यार ना हो जाए’, और ‘आज का रावण’ जैसी फिल्मो में अभिनय किया था।

साल 2001 में शक्ति ने फिल्म ‘मेरी अदालत’ में अभिनय किया था। इस फिल्म में उन्होंने शराबी पुलिस वाले का किरदार अभिनय किया था। इसके बाद उन्हे फिल्म ‘जोड़ी न. 1’ में देखा गया था। उसी साल की उनकी एक और फिल्म का नाम ‘अर्जुन देवा’ था। उस फिल्म में शक्ति ने ‘बड़े ठाकुर जगावर चौधरी’ नाम का किरदार अभिनय किया था।

उसी साल शक्ति को फिल्म ‘आमदनी अट्ठनी खर्चा रुपैया’ में भी देखा गया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘के. रघुवेन्द्र राओ’ थे और फिल्म में शक्ति ने ‘ढोकलू’ नाम के किरदार को दर्शाया था। उस साल का अंत शक्ति ने फिल्म ‘स्टाइल’ के साथ किया था।

साल 2003 से साल 2008 तक शक्ति ने फिल्म ‘रेशमा और सुल्तान’, ‘तुझे मेरी कसम’, ‘हंगामा’, ‘शिकार’, ‘हलचल’, ‘मुसाफिर’, ‘जुर्म’, ‘एक से बढकर एक’, ‘बरसात’, ‘लव इन जापान’, ‘चुप चुप के’, ‘शादी करके फस गया यार’, ‘भागम भाग’, ‘जन्म जन्म के साथ’, ‘खुशबू’, ‘विक्टोरिया हाउस’ में अभिनय किया था।

साल 2009 में शक्ति को फिल्म ‘दे दना दन’ में देखा गया था। इस फिल्म के निर्देशक ‘प्रियादर्शन’ थे और फिल्म में शक्ति ने ‘मूसा हिरपुरवाला’ नाम का किरदार अभिनय किया था। इसके बाद उन्हें साल 2011 में फिल्म ‘बिन भुलाय बाराती’ में देखा गया था।

साल 2013 में शक्ति ने फिल्म ‘दीवाना मैं दीवाना’ में अभिनय किया था, जहाँ उनके किरदार का नाम ‘बसंत कुमार’ है। इसके बाद साल 2015 में शक्ति ने फिल्म ‘मैं हूँ राजनीकन्त’ में अभिनय किया था। इस फिल्म में शक्ति ने ‘बच्चन’ नाम के किरदार को दर्शाया था। साल 2017 में शक्ति को फिल्म ‘रक्तदार’ में देखा गया था। इस फिल्म में उन्होंने ‘रानी’ नाम के किरदार को दर्शाया था।

साल 2020 में शक्ति कपूर को फिल्म ‘हंगामा 2’ में देखा जाएगा।

शक्ति कपूर का निजी जीवन

शक्ति कपूर ने साल 1982 में ‘शिवांगी कोहलपुर’ से शादी की थी। शिवांगी अभिनेत्री पद्मिनी और तेजस्विनी की बड़ी बहन हैं। शक्ति और शिवांगी के दो बच्चे हैं जिनमे से एक बेटा हैं और एक बेटी है। उनके बेटे का नाम ‘सिद्धार्थ कपूर’ है और बेटी का नाम ‘श्रद्धा कपूर‘ है। शक्ति के दोनों बच्चे अभिनेता हैं।

यह लेख आपको कैसा लगा?

नीचे रेटिंग देकर हमें बताइये, ताकि इसे और बेहतर बनाया जा सके

औसत रेटिंग 4.7 / 5. कुल रेटिंग : 86

यदि यह लेख आपको पसंद आया,

सोशल मीडिया पर हमारे साथ जुड़ें

हमें खेद है की यह लेख आपको पसंद नहीं आया,

हमें इसे और बेहतर बनाने के लिए आपके सुझाव चाहिए

इस लेख से सम्बंधित अपने सवाल और सुझाव आप नीचे कमेंट में लिख सकते हैं।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

राहुल गांधी को कोरोनावायरस की पूरी जानकारी नहीं: बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा

मोदी सरकार द्वारा COVID-19 स्थिति को संभालने की आलोचना के लिए राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर हमला करते हुए,...

कार्तिक आर्यन ने आगामी फिल्म ‘दोस्ताना 2’ के बारे में दी रोचक जानकारी

अभिनेता कार्तिक आर्यन (Kartik Aaryan) आज बॉलीवुड में सबसे अधिक मांग वाले अभिनेताओं में आसानी से शामिल हैं। टाइम्स ऑफ इंडिया की हालिया रिपोर्ट में,...

भारत में कोरोनावायरस के मामले 1.5 लाख के करीब, पढ़ें पूरी जानकारी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज कहा है कि 6,535 नए संक्रमणों के बाद भारत में कोरोनोवायरस बीमारी (COVID-19) के कुल मामले 145,380 तक पहुँच...

कबीर सिंह के लिए पुरुष्कार ना मिलने पर शाहिद कपूर ने दिया यह जवाब

कल मंगलवार शाम को शाहिद कपूर (Shahid Kapoor) ने ट्विटर पर अपने प्रशंसकों से बात करने की योजना बनायी और लोगों से सवाल पूछने...

सिक्किम के बाद लद्दाख में भारत और चीन की सेना में टकराव

सिक्किम में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प की खबरों के बाद उत्तरी सीमा पर दोनों देशों के सैनिकों के बीच टकराव की...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -