Sun. Apr 14th, 2024
    राबड़ी देवी को 'अंगूठा छाप' बुलाने पर राम विलास पासवान की बेटी ने दिया अपने पिता के ही खिलाफ धरना

    लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) के प्रमुख और केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान की बेटी आशा पासवान ने रविवार को अपने ही पिता के खिलाफ बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी को ‘अंगूठा छाप’ बुलाने के लिए उनके खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया है।

    पटना एयरपोर्ट के पास स्थित लोक जनशक्ति पार्टी कार्यालय के सामने, आशा ने कई महिला कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर धरना दिया। महिलाओं ने हाथों में पोस्टर और बैनर पकड़ रखे थे। वे चाहते थे कि राम विलास पासवान राबड़ी देवी से मांफी मांगे।

    आशा ने कहा-“मेरे पिता को अपने शब्द वापस लेने चाहिए और मांफी मांगनी चाहिए। उन्हें हर महिला का सम्मान करना चाहिए।”

    एक दिन पहले, आशा पासवान ने अपने पिता पर राबड़ी देवी का अपमान करने का इलज़ाम लगाया था। राबड़ी देवी, पूर्व मुख्य मंत्री और राजद नेता लालू प्रसाद यादव की पत्नी हैं।

    आशा पासवान, रामविलास पासवान और उनकी पहली पत्नी राज कुमारी देवी की बेटी हैं। आशा पासवान के पति अनिल साधु राजद नेता हैं और राजद नेता लालू प्रसाद के बेटे तेजस्वी यादव के करीबी माने जाते हैं।

    राबड़ी देवी को निशाना बनाते हुए, राम विलास ने शुक्रवार को कहा था कि राजद केवल नारे लगाने और ‘अंगूठा छाप’ को मुख्यमंत्री बनाने में विश्वास रखता है।

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *