Tue. Apr 16th, 2024
    नसीरुद्दीन शाह को अपने बच्चो के लिए नहीं लगता ये देश सुरक्षित

    नसीरुद्दीन शाह को पिछले दिनों से हो रहे विवादों के चलते अजमेर लिटरेचर फेस्टिवल से दूर रहने के लिए कहा गया है।

    अजमेर में मीडिया से बातचीत के दौरान नसीरुद्दीन ने कहा है कि, “जो कुछ भी मैंने पहले कहा था वह एक चिंतित भारतीय व्यक्ति के रूप में कहा था। मैंने ऐसा क्या कह दिया जो मुझे गद्दार बुलाया जा रहा है? मैं अपने देश के बारे में जिससे मैं प्यार करता हूँ, अपनी चिंता व्यक्त कर रहा हूँ। वह मेरा घर है। क्या यह गुनाह है?”

    नसीरुद्दीन शाह के बयान पर हुए विवाद के एक दिन बाद ही उत्तर प्रदेश के नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष अमित जानी ने शाह के लिए मुंबई से कराची का टिकट बुक कराया है। यह पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस 14 अगस्त का है।

    अमित जानी ने कहा है कि, “अगर वह भारत में रहने से डर रहे हैं तो उन्हें पाकिस्तान रवाना होने में देर नहीं करनी चाहिये। मैंने उनके लिए 14 अगस्त की एक टिकट बुक कर दी है। यह पाकिस्तान का स्वतंत्रता दिवस है। इससे कम से कम भारत का एक गद्दार तो कम होगा।”

    इसके बाद अमित ने कहा कि, “यदि शाह पाकिस्तान नहीं जाएंगे तो कम से कम उन्हें हनुमान चालीसा पढ़नी शुरू कर देनी चाहिए क्योंकि बीजेपी एम एल सी भुक्कल नवाब ने कहा है कि हनुमान मुस्लिम थे।”

    पिछले दिनों नसीरुद्दीन ने एक इंटरव्यू में कहा था कि, “हम देख रहे हैं कि एक पुलिस इंस्पेक्टर की मौत से ज्यादा अहमियत गाय की मौत को दी जा रही है।

    और ऐसे माहौल में मुझे अपने औलादों के बारे में सोचकर फिक्र होती है। मुझे डर लगता है कि कल को मेरे बच्चे बाहर निकलेंगे तो भीड़ उन्हें घेरकर पूछ सकती हो कि तुम कौन हो? हिंदू या मुसलमान? ऐसे में वह क्या जवाब देंगे। इस स्थिति में सुधार की जरूरत है और जिन्न को बोतल में बंद करना होगा।”

    इंटरव्यू यहाँ देखें:

    https://youtu.be/Uh18VUfQJvA

    यह भी पढ़ें: चार अभिनेत्रियों के साथ आ रहे हैं कंगना रानौत की फ़िल्म क्वीन के चार रीमेक, देखें टीज़र

    By साक्षी सिंह

    Writer, Theatre Artist and Bellydancer

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *