शुक्रवार, दिसम्बर 13, 2019

डेंगू में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं?

Must Read

मानव विकास के मामले में पाकिस्तान दक्षिण एशिया में भी फिसड्डी

मानव विकास सूचकांक (एचडीआई) की ताजा रैंकिंग में पाकिस्तान के बीते साल के मुकाबले एक स्थान और पीछे खिसकर...

वनडे सीरीज में टी-20 विश्व कप की तैयारियों पर होगा ध्यान : भरत अरुण

भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने कहा है कि बेशक भारत रविवार से विंडीज के खिलाफ तीन...

सलमान खान की पटकथा पर कभी भरोसा नहीं करते पिता सलीम खान

सलमान खान ने कहा कि उनके पिता और प्रसिद्ध पटकथा लेखक सलीम खान अपने सुपरस्टार बेटे की पटकथा पर...

किसी समय में डेंगू एक लाइलाज बीमारी हुआ करती थी। विकास के साथ साथ इस बीमारी का इलाज खोज लिया गया लेकिन फिर भी डेंगू ख़तरनाक होता है।

यदि आप डेंगू के मरीज़ हैं और आप इस समस्या से छुटकारा पाना चाहते हैं तो यह आवश्यक है कि आपके आहार में वे पदार्थ शामिल हों जो आपके शरीर को डेंगू से लड़ने की शक्ति दें।

आइए आपको बताते हैं कि किन पदार्थों का सेवन करके आप डेंगू की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

डेंगू में क्या खाना चाहिए?

1. नारियल के पानी का सेवन करके करें डेंगू का इलाज

नारियल का मीठा पानी किसको पसंद नहीं होगा? हम अक्सर अपने शौक के कारण नारियल का पानी पीते हैं लेकिन क्या आपको पता है कि यह शौक कितना लाभदायक है?

जी हाँ, यदि आप नारियल का पानी पीते हैं तो आपको अनेक पोषक तत्व मिलते हैं। यदि आपको डेंगू है और ऐसे में आप नारियल का पानी पीते हैं तो डेंगू का इससे बेहतर इलाज और कोई नहीं हो सकता।

डेंगू के कारण शरीर में डिहाइड्रेशन हो जाता है। इस समस्या से निजात पाने के लिए हम नारियल का पानी पी सकते हैं।

आप सोच रहे होंगे कि डिहाइड्रेशन से छुटकारा पाने के लिए हम साधारण पानी क्यों न पिएं।

इसका कारण है कि नारियल के पानी में वे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो डेंगू को ख़त्म करने में सहायक होते हैं लेकिन साधारण पानी में इतने पोषक तत्व नहीं होते।

2. नीम की पत्तियाँ करती हैं डेंगू का भरपूर इलाज

नीम की पत्तियाँ लगभग हर मर्ज़ की दवा होती हैं। सदियों से नीम की पत्तियों का प्रयोग अनेक प्रकार के रोगों के उपचार में होता आ रहा है।

आज भी डेंगू के घरेलू उपचार में नीम की पत्तियों का प्रयोग होता है। आप नीम की पत्तियों को उबालकर नीम के पानी का सेवन दिन रात कर सकते हैं। ऐसा करने से आपको डेंगू की समस्या से राहत मिल जाएगी।

इसके अतिरिक्त बाज़ारों में नीम से युक्त कई ऐसी औषधियां उपलब्ध हैं जो डेंगू का भरपूर इलाज करती हैं लेकिन एक बात का ख़याल अवश्य रखें कि इन दवाइयों को लेने से पूर्व डॉक्टर की सलाह ज़रूरी है।

3. संतरे का सेवन करने से होता है डेंगू में आराम

संतरे में विटामिन सी की प्रचुर मात्रा पाई जाती है। यही कारण है कि संतरा हमारे प्रतिरक्षा तंत्र को सुदृढ़ करता है। संतरे में और भी कई प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं जोकि डेंगू से लड़ने में हमारे शरीर की मदद करते हैं।

इसके अलावा जो सबसे महत्त्वपूर्ण तथ्य है वह यह है कि संतरा एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है जोकि शरीर को जल्दी रिकवर करने के लिए प्रेरित करता है। कुल मिलाकर संतरे का सेवन करके हम डेंगू की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

4. तुलसी की चाय का सेवन करें 

भारत में घर के आंगन में तुलसी का पेड़ अवश्य लगाया जाता है। ऐसा इसलिए किया जाता है क्योंकि तुलसी वातावरण को शुद्ध करता है और हानिकारक रोगाणुओं को ख़त्म कर देता है।

तुलसी सिर्फ़ वातावरण की गंदगी ही नहीं बल्कि शरीर में मौजूद गंदगी का भी ख़ात्मा करता है। जी हाँ, यदि आप नियमित रूप से तुलसी की चाय पीते हैं तो आप डेंगू से लेकर कैंसर तक की समस्या से बच सकते हैं।

इसके अलावा डेंगू की समस्या से छुटकारा पाने के लिए हमें हर्बल टी का सेवन करना चाहिए। हर्बल टी डेंगू फीवर या डेंगू के बुखार को कम करने की क्षमता रखता है।

हर्बल चाय के अंतर्गत हम अदरक की चाय, तुलसी की चाय या अन्य किसी प्राकृतिक गुणों से भरपूर चाय का सेवन कर सकते हैं।

5. मसालेदार और तले भुने पदार्थों से बचें

अत्यधिक मसालेदार और तले भुने पदार्थ रोगों को जन्म देते हैं इसलिए यदि आपको डेंगू हो गया हो तो आपको इन पदार्थों को पूरी तरह अनदेखा करना चाहिए।

मसालेदार और तले भुने पदार्थ पेट में क़ब्ज़ और अन्य कई पाचन संबंधी समस्याओं को जन्म देते हैं। इस कारण डेंगू के पेशेंट की हालत काफ़ी बिगड़ सकती है अतः डेंगू को ध्यान में रखते हुए इन पदार्थों से पूर्णतः बचें।

हमें वैसे भी मसालेदार और तले भुने पदार्थों का सेवन कम करना चाहिए लेकिन यदि हमें डेंगू की समस्या हो रही हो तो ऐसे में इन पदार्थों का सेवन कम न करके बल्कि रोक ही देना चाहिए।

6. सब्ज़ियों के जूस का सेवन करके होता है लाभ

हरी सब्ज़ियां समस्त प्रकार की शारीरिक समस्याओं का भरपूर इलाज करती हैं। हरी सब्ज़ियों में अनेक ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो डेंगू वायरस को ख़त्म करने में सहायक होते हैं। उदाहरण के तौर पर हरी सब्ज़ियों में पाया जाने वाला कैल्शियम और पोटैशियम।

ये दोनों ही तत्व रक्त में रेड ब्लड सेल्स की मात्रा को बढ़ाते हैं जिससे कि प्रतिरक्षा तंत्र मज़बूत होता है। डेंगू के पेशेंट को नियमित रुप से सब्ज़ियों के जूस का सेवन करना चाहिए। यह डेंगू की समस्या को ख़त्म करने में काफ़ी सहायता करता है।

7. पपीता खाएं

कहते हैं कि यदि फ़िट रहना है तो पपीता खाना चाहिए। यह बात बिलकुल सत्य हैं क्योंकि पपीते में पाए जाने वाले पोषक तत्व शरीर को बिलकुल फ़िट एंड फ़ाइन रखने में सहायता प्रदान करते हैं।

शोधों में इस बात को सिद्ध किया गया है कि पपीते के बीज में डेंगू फैलाने वाले वायरस के ज़हर को मारने की क्षमता होती है।

इसका मतलब यह है कि पपीते के बीजों का सेवन करके डेंगू के पेशेंट को काफ़ी आराम मिल सकता है। इसके अतिरिक्त एक और शोध में यह पाया गया है कि पपीता रक्त में नई प्लेटलेट्स को जल्दी बनने के लिए प्रेरित करता है जिससे कि प्रतिरक्षा तंत्र मज़बूत हो जाता है।

इस तरह हम कह सकते हैं कि पपीता डेंगू के पेशेंट के लिए वास्तव में वरदान है।

तो इस तरह आप डेंगू की समस्या से निजात पा सकते हैं। डेंगू का प्रमुख कारण मच्छर होता है इसलिए यह बहुत ज़रूरी होता है कि हम अपने आस पास का वातावरण स्वच्छ रखें जिससे कि मच्छर पैदा न होने पाएँ।

डेंगू में मेडिकल इलाज के साथ साथ आपको अपने ख़ान पान का भी ख़याल रखना चाहिए ताकि आपकी हालत बिगड़ने ना पाए।

यहाँ दिए गए पदार्थों को आप डेंगू से छुटकारा पाने के लिए खा सकते हैं किंतु डॉक्टर की सलाह पहले नंबर पर आती है। किसी भी पदार्थ को यूज़ करने से पहले डॉक्टरी परामर्श अवश्य लें ताकि एलर्जी की समस्या होने पर बात बिगड़ने ना पाए।

इस लेख से सम्बंधित यदि आपका कोई भी सवाल या सुझाव है, तो आप उसे नीचे कमेंट में लिख सकते हैं।

- Advertisement -

2 टिप्पणी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

मानव विकास के मामले में पाकिस्तान दक्षिण एशिया में भी फिसड्डी

मानव विकास सूचकांक (एचडीआई) की ताजा रैंकिंग में पाकिस्तान के बीते साल के मुकाबले एक स्थान और पीछे खिसकर...

वनडे सीरीज में टी-20 विश्व कप की तैयारियों पर होगा ध्यान : भरत अरुण

भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने कहा है कि बेशक भारत रविवार से विंडीज के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज की...

सलमान खान की पटकथा पर कभी भरोसा नहीं करते पिता सलीम खान

सलमान खान ने कहा कि उनके पिता और प्रसिद्ध पटकथा लेखक सलीम खान अपने सुपरस्टार बेटे की पटकथा पर कभी भरोसा नहीं करते। 'दबंग...

हम नए नागरिकता कानून के खिलाफ हैं : दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि उनकी पार्टी नागरिकता संशोधन विधेयक (कैब) के खिलाफ है, जो अब कानून बन गया...

महंगाई जनित सुस्ती पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहती : वित्त मंत्री नर्मला सीतारमण

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को महंगाई जनित सुस्ती (स्टैगफ्लेशन) पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि मैंने सुना है...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -