दा इंडियन वायर » स्वास्थ्य » तैरने के फायदे, तरीके, उपाय
स्वास्थ्य

तैरने के फायदे, तरीके, उपाय

तैरने के फायदे benefits of swimming in hindi

क्या आप अपने आप को तंदरुस्त रखने के लिए व्यायाम के प्रयोग से खुश नहीं हैं? यह कोई नयी बात नहीं है और ये आर्टिकल आपके लिए ही लिखा गया है। इसका विषय है तैरने के फायदे।

तैरना भी एक तरह का व्यायाम ही होता है – सिर्फ थोड़ा ज़्यादा मज़ेदार और पसीने से दूर्। लेकिन कैसे? ये जानने के लिए, आगे पढ़िए।

तैरने के फायदे

घटता हुआ वज़न

सबसे पहले तो तैरने की वजह से हमारे शरीर के कैलरीज़ कम होते हैं। कैलरीज़ एक ऐसा तत्व है जिस्का हमारे वज़न के साथ सीधा समबंध है।

इसलिए जब हमारे कैलरीज़ कम होते हैं, हमारा वज़न भी उसके साथ ही कम हो जाता है। तो बिना किसी व्यायाम की मेहनत को लिए, हम तैरने के मज़े के साथ ही अपना वज़न घटा सकतें हैं।

हड्डियों की शक्ति

अक्सर देखा जाता है कि बढ़ती उम्र के साथ, शरीर की हड्डियाँ कमज़ोर पड़ जाती हैं – खासकर की औरतों में। इसका एक बहुत ही फायदेमंद इलाज है तैरना।

तैरने से, और कई दूसरे व्यायाम करने से, हड्डियाँ कमज़ोर होने से बच जाती हैं और जोड़ों के दर्द सें भी हमें राहत मिलती है।

हृदय की सुरक्षा

तैरना उन लोगों क़े लिए काफी फायदेमंद साबित हुआ है जिन्हें अलग अलग प्रकार के दिल के रोग हैं। यदि आपको लगे कि रोज़ के व्यायाम से आप थक जाएँगे, तो तैरना आपका इलाज है।

बहुत से रिसर्च और स्तडीज़ इस बात का प्रमाण है कि तैरना हमारे दिल के लिए एक बहुत ही फायदेमंद उपयोग है।

बच्चों को सेलेब्रल पाल्सी से दूर रखे

सेलेब्रल पाल्सी एक ऐसा रोग जो बच्चों के चलने-फिरने के तत्व को काफी दिक्कत देता है।

घर पर किए गए व्यायाम ऐसे बच्चों के लिए अच्छे होते हैं, लेकिन तैरने से बच्चे मौज-मस्ती के संग अपनी सेहत भी बनाते हैं। इससे उनके मन पर अपने रोग को लेकर, नकारात्मक भाव भी दूर रहते हैं।

बेहतर फ्लेक्सिबिलिटी

जैसा कि पहले बताया गया है, तैरने से हमारे शरीर के जोड़े मज़बूत हो जाते हैं। इस मज़बूती के कारण हमारा शरीर बहुत फ्लेक्सिबिल हों जाता है।

शरीर की अच्छी कुओर्डिनेशन

क्योँकि तैरने क़े लिए हमारे हाथ, पैर और सिर के बीच एक अच्छी समान्यता की ज़रूरत है, तैरने से हमारे शरीर में एक तरह का नियंत्रण और कुओर्डिनेशन पाया जाता है।

अस्थमा का इलाज

अस्थमा एक ऐसी बीमारी है जिससे लोगों को साँस लेने में तक्लीफ होती है। बहुत रिसर्च के बाद यह साबित हुआ है कि घर पर किए गए व्यायाम से ज़्यादा, तैरना इस रोग के लिए अच्छा इलाज है।

बेहतरीन नींद

तैरने से हमारे नींद पर भी अच्छा असर पड़ता है। तैरना एक बहुत ही अच्छा व्यायाम पाया गया है जो पानी में करने के कारण हमें कुछ ज़्यादा ही थकावट देता है।

यह इसलिए क्योँकि तैरने के समय, हमारा पूरा शरीर एक साथ काम करता है और इस थकावट के बाद, आपको अच्छी नींद प्राप्त होगी।

बेहतरीन मानसिक सेहत

मानसिक रोग कुछ ऐसे होते हैं जिन्हें किन्ही भी हालत में नजरअंदाज नहीं किए जा सकते।

रिसर्च ने बताया है कि, ऐसे लोगों को तैरने से काफी फायदा होता है, और उनका मन काफी सकारात्मक और खुश साबित होता है।

एजिंग में समय लगना

रिसर्च ने बताया है कि तैरने से हम जवान नज़र आते हैं। यह इसलिए होता है क्योंकि तैरने से हमारी मनसस्थिति बदल जाती है, और हम खु़श नज़र आतें हैं। इस कारण से टेंशन हमसे दूर रहती है और एजिंग की रफ्तार भी कम हो जाती है।

ये थे तैरने क अनेक फायदों में से कुछ। इससे साबित तो हो ही जाता है कि तैरना भी एक तरह का व्यायाम ही है, जिसके कारण हम बहुत सी उलझनों को सुल्झा सकते हैं। लेकिन ये आर्टिकल यहीं खतम नहीं होता।

यहाँ आगे तैरने के कुछ ऐसे व्यायाम और तरीके दिए गए हैं जिनका प्रयोग आप तैरने के वक्त कर सकते हैं।

1. फ्रीस्टाइल

यदि आपने तैरना अभी अभी सीखा है, तो ये आपके लिए है। इसमें फास्ट स्ट्रोक पाए जाते हैं।

आपका चेहरा नीचे के तरफ, और हाथ सिर के ऊपर – सबसे पहले आप अपने दाएँ हाथ को ऊपर उठाते हुए और पानी को पीछे धक्का मारते हुए, एक पूरा राउंड बनाकर, फिर से वही पोज़िशन में आते ही, बाएँ हथा क़ो उसी तरह घुमाएँ।

2. बैक्स्ट्रोक

अपने पीठ कौ पानी पर रखते हुए, आपको अपने दाएँ हाथ को पीछे के तरफ एक राउंड बनाते हुए फिर से पानी में उसि पोज़िशन में वापस लाना है, और तुरंत बाद, यही चीज़ आपके बाएँ हाथ से करना है।

आपको पानी को इस तरह से पीछे धकेलना है कि आप अगे बढ़ सकें।

3. ब्रेस्ट्स्ट्रोक

यहाँ आपको अपना चेहरा पानी के तरफ रखना है जहाँ आपके हाथ आपके सिर के ऊपर रहेंगे और पूरा शरीर एकदम फ्लेट।

अब अपने हाथों से पानी को अपने छाती की तरफ धक्का देना है और तुरंत बाद हाथों को वही पोज़िशन में लाकर फिर से वही दोहराना है।

4. साइड्स्ट्रोक

यहाँ आपको अपने दाएँ तरफ रहकर तैरना है। इस तरह के तैरने में आपका दायाँ हाथ सिर के ऊपर रहता है और दोनो पैर साथ रखते हुए, आपका सिर को टेढ़ा करते हुए, आपको दुसरी ओर देखना है। अब कैंची की तरह पैर को चलाते हुए, आपको तैरना है और आगे बढ़ना है।

तैरने के लिए कुछ टिप्स

अगर आप तैरने की कला में नए हैं तो ये कुछ टिप्स आपके ज़रूर काम आएँगे –

  1. आँखों की सुरक्षा के लिए चश्मा ज़रूर पहनिए और यदि आपको इसकी आदत न हो तो, पानी में उतरने के एक घंटे पहले ही, आप इसे पहन सकते हैं।
  2. तैरने कें लिए, अत्यंत अभ्यास, ध्यान और लगन की ज़रूरत है।
  3. स्विमिंग फिंस की मदद से आप आसानी से पानी में अपने पैर मार सकते हैं। इससे आपके एंकल की फ्लेक्सिबिलिटी भी बढ़ती है।
  4. सिलिकॉन के इयर प्लग्स से, आपको पानी कान में जाने की परेशानी नहीं महसूस होगी।
  5. जिन लोगों को तैरने में काफी अनुभव है, उन लोगों के साथ बात-चीत करने सें भी आपको फायदा होगा।
  6. जहाँ लाइफगार्ड मौजूद हो, उधर तैरने में सावधानी होती है।
  7. पानी में उतरने से पहले, आपने जोड़ों को व्यायाम देना भी फायदेमंद होता है।
  8. तैरने से पहले, पानी पीना आवश्यक है।
  9. ज़रूरत से ज़्यादा तैरना हानिकारक हो सकता है।

इन टिप्स को अगर आप ध्यान में रखते हैं तो, तैरने में आपकी काफी मदद हो जाएगी।

इस विषय से सम्बंधित यदि आपका कोइ सवाल या सुझाव है, तो आप उसे नीचे कमेंट में लिख सकते हैं।




फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!