Tue. Jun 18th, 2024
    रिलायंस जिओ

    मोबाइल इंटरनेट के क्षेत्र में क्रांति लाने के साथ ही भारत के टेलीकॉम सेक्टर में अपनी तगड़ी पैठ बनाने के बाद रिलायंस जियो अब ब्रॉडबैंड ब केबल टीवी नेटवर्क के क्षेत्र में प्रवेश कर लिया है। इसी के चलते जियो ने डेन नेटवर्क व हेथवे केबल का अधिग्रहण किया है। इसी के सहारे अब जियो डीटीएच उपभोक्ताओं पर डोरे डालने की योजना बना रहा है।

    यह भी पढ़ें: जानिए मुकेश अंबानी की जिओ नें किस प्रकार टेलिकॉम जगत को बदल दिया?

    रिलायंस जियो अपनी इसी योजना के तहत करीब 5 करोड़ ग्राहकों को ‘फ़ाइबर टू द होम’ (FTTH) की सुविधा उपलब्ध कराने जा रहा है। जियो का मानना है कि अपनी कम कीमत के चलते यह सुविधा ग्राहकों को डीटीएच ऑपरेटरों के दायरे से बाहर ले आएगी।

    देश में फिलहाल करीब 6 करोड़ 90 लाख डीटीएच उपभोक्ता है। दूसरी ओर केबल टीवी का दायरा लगातार सिमटते जाने की वजह से अब यह संख्या और भी बड़ी होती जा रही है। देश में इस वक़्त करीब 8 करोड़ 6 लाख डिजिटल केबल उपभोक्ता हैं।

    यह भी पढ़ें: रिलायंस जिओ की ग्राहक संख्या पहुंची 25 करोड़, 2020 तक 50 करोड़ लोगों को जोड़ने का सपना

    सूत्रो के अनुसार जियो डीटीएच उपभोक्ताओं को लुभाने के लिए अपने सबसे सटीक पैंतरे का इस्तेमाल करेगा, इसके तहत जियो उन्हे अपने केबल नेटवर्क के जरिये सस्ते प्लान व बेहतर क्वालिटी उपलब्ध कराएगा।

    जियो अपनी केबल सुविधा में टीवी नेटवर्क के साथ ही जिओ ब्रॉडबैंड की सुविधा देगा, इस तरह से जियो ‘टू वे कम्युनिकेशन’ उपलब्ध कराएगा। गौरतलब है कि डीटीएच में इस तरह की सुविधा उपलब्ध नहीं कराई जा सकती है। वहीं जियो का उद्देश्य अपने उपभोक्ताओं को कम से कम कीमत में फुल एचडी व 4K जैसे पिक्चर क्वालिटी भी उपलब्ध कराएगा।

    यह भी पढ़ें: रिलायंस जिओ के विस्तार के लिए अंबानी नें किया है इन 8 कंपनियों का अधिग्रहण

    इसी योजना पर आगे बढ़ते हुए जियो ने हेथवे व डेन का अधिग्रहण किया है, जिनके पास करीब 1 करोड़ 50 लाख सक्रिय व कुल 2 करोड़ 40 लाख उपभोक्ता हैं। इसी डील के साथ जियो को करीब 80 लाख ग्राहकों वाला ब्रॉडबैंड नेटवर्क मिल गया है।

    वहीं इसके संबंध में डीटीएच ऑपरेटरों ने कहा है कि अपनी FTTH सुविधा के चलते जियो महज 3 प्रतिशत ग्राहकों तक ही पहुँच पाएगा, जबकि 5 करोड़ ग्राहकों का बेस तैयार करने में उसे सालों लग जाएँगे।

    यह भी पढ़ें: 2018 के अंत तक रिलायंस जिओ बन जाएगी भारत की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *