दा इंडियन वायर » खानपान » टमाटर का रस पीने के फायदे
खानपान स्वास्थ्य

टमाटर का रस पीने के फायदे

टमाटर का रस पीने के फायदे

खाने को स्वादिष्ट बनाने के लिए टमाटर का प्रयोग किया जाता है। सिर्फ़ पका टमाटर ही नहीं अपितु कच्चा टमाटर भी अत्यंत स्वादिष्ट होता है। टमाटर का प्रयोग सलाद में भी किया जाता है जोकि अत्यंत स्वाद स्वास्थ्यवर्धक भी होता है।

आपने टमाटर को अवश्य खाया होगा किन्तु क्या आप जानते हैं कि टमाटर का जूस हमारे स्वास्थ्य के लिए कितना लाभकारी होता है? टमाटर का रस अनेक स्वास्थ्यवर्द्धक पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इस लेख में हम टमाटर के रस के फायदों के विषय में चर्चा करेंगे।

टमाटर के रस के फायदे

1. वज़न घटाने में

टमाटर में पाया जाने वाला सोडियम और फ़ाइबर शरीर को हाइड्रेट रखने में मदद करता है। ये दोनों ही तत्व बार बार भूख नहीं लगने देते हैं।

साथ ही साथ यह शरीर में पोषक तत्वों के स्तर को भी संतुलित रखते हैं। यह निश्चित मात्रा में शरीर को कैलोरीज प्रदान करते हैं जिससे कि शरीर में ऊर्जा का स्तर सामान्य रहता है।

2. जिगर व गुर्दों के लिए

हमारे शरीर में क्लोरीन और सल्फ़र की एक पर्याप्त मात्रा पाई जाती है जोकि जिगर व गुर्दों को सही ढंग से कार्य करने के लिए प्रेरित करती है। क्लोरीन जिगर और गुर्दों को ठीक से काम करने के लिए प्रेरित करता है जबकि सल्फ़र उन्हें किसी भी प्रकार के संक्रमण से बचाता है।

यदि शरीर में इन दोनों तत्वों की कमी हो जाए तो जिगर और गुर्दे दोनों ही प्रभावित होते हैं।

टमाटर के रस में दोनों ही तत्वों की एक प्रचुर मात्रा पाई जाती है। अतः एक गिलास टमाटर का जूस पीने से शरीर में क्लोरीन और सल्फ़र के स्तर को सामान्य बनाया जा सकता है।

3. हिमोकिस्टीन को तोड़ने में सहायक

हमारे शरीर में हिमोकिस्नाटीन नामक यौगिक पाया जाता है। यह रक्त की नलिकाओं की दीवार पर जमने लगता है और उन्हें नुक़सान पहुँचाता है।

इस प्रकार यह हृदय रोगों का भी कारण बनता है अतः इसे तोड़ना अत्यंत आवश्यक होता है। टमाटर के रस में विटामिन बी काम्प्लेक्स की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है। यह विटामिन हिमोकिस्कोटीन को तोड़ने में सहायता प्रदान करता है।

4. शरीर को युवा व मज़बूत रखने में सहायक

हमारे शरीर में कई ऐसे हानिकारक तत्व होते हैं जो शरीर को कमज़ोर और वक़्त से पहले बूढ़ा कर देते हैं। कभी कभी ख़राब खानपान के चलते भी शरीर में ये तत्व पनप जाते हैं।

वास्तव में हम अपनी जीवनशैली और खानपान में बदलाव करने में असमर्थ होते हैं किंतु इसका ये मतलब नहीं कि हम अपने शरीर को स्वस्थ नहीं रख सकते।

हो सकता है कि आपको कॉफ़ी या चाय की लत हो। किन्तु यदि आप अपने शरीर को मज़बूत रखना चाहते हैं तो आपको प्रतिदिन एक गिलास टमाटर का जूस पीना चाहिए।

5. आँतों के लिए

टमाटर का रस फ़ाइबर और अन्य स्वास्थ्यवर्धक पोषक तत्वों से भरपूर होता है। टमाटर के रस में पाया जाने वाला फ़ाइबर हमारी आंतों के लिए बहुत ही लाभदायक होता है।

इसकी मदद से खाने के पचने में मदद मिलती है। यह क़ब्ज़ और आँतों के अल्सर से भी छुटकारा दिलाता है।

6. प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए

टमाटर का जूस विटामिन सी से भरपूर होता है। यह विटामिन सी हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को मज़बूत बनाता है और शरीर की वाइरल, बैक्टीरियल और फंगल संक्रमण से रक्षा करता है।

विटामिन सी हमारे दांतों की लिए भी अत्यंत आवश्यक होता है। यह दाँतों को मज़बूत बनाता है और मसूड़ों को स्वस्थ रखता है।

7. आँखों के लिए

विटामिन ए हमारी आँखों के लिए अत्यंत आवश्यक होता है। यह आँखों की रोशनी बढ़ाता है और अन्य रोगों से आँखों की रक्षा करता है।

विटामिन ए की कमी से मोतियाबिंद, दूरदृष्टि दोष, निकट दृष्टि दोष और अन्य रोग हो जाते हैं। अतः हमारे शरीर में विटामिन ए की पर्याप्त मात्रा होना अनिवार्य है।

इसके लिए हम टमाटर के जूस का नियमित रूप से सेवन कर सकते हैं क्योंकि टमाटर के जूस में विटामिन ए की प्रचुर मात्रा होती है।

8. बालों के लिए

टमाटर का जूस हमारे बालों के लिए काफी फायदेमंद है। टमाटर का जूस बेजान बालों को चमक देता है और रूसी से छुटकारा दिलाता है। यदि हमारे बाल बाउंसी हो रहे हैं तो इन्हें कंडीशनर करने के लिए हम टमाटर के जूस का प्रयोग कर सकते हैं।

अपने बालों में ताज़ा टमाटर का रस लगाएं। इसे 4-5 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर ठन्डे पानी से अपने बालों को धो लें। यह बालों को ना सिर्फ़ मज़बूत बनाता है बल्कि उन्हें झड़ने से भी रोकता है।

9. त्वचा के लिए

टमाटर का रस त्वचा पर पड़ने वाले दाग़ धब्बों और मुहांसों से छुटकारा दिलाने में सहायक होता है। यह रोम छिद्रों को बंद होने से रोकता है और बंद हुए रोम छिद्रों को पुनः खोलता है। इस प्रकार त्वचा के अंदर मौजूद गंदगी बाहर निकल जाती है और मुहांसों से राहत मिलती है।

एक चम्मच टमाटर के रस में आधा नींबू का रस मिलाएँ। इसे अपनी त्वचा पर लगाएं। यह दाग़ धब्बों को जड़ से ख़त्म कर देता है। इसके अतिरिक्त हम टमाटर के रस में शहद भी मिला सकते हैं जोकि त्वचा को एक उत्तम निखार देता है।

10. कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित करने में

टमाटर के जूस में फ़ाइबर, विटामिन्स और नियासिन नामक पोषक तत्व पाए जाते हैं जोकि हानिकारक कोलेस्ट्रोल के कणों को तोड़ने में सहायक होते हैं। इस प्रकार कोलेस्ट्राल रक्त नलिकाओं में जम नहीं पाता और हृदय संबंधी समस्याओं की संभावनाएं कम होती हैं।

टमाटर का जूस रक्त से हानिकारक तत्वों को निकाल देता है और रक्त की सांद्रता को कम करता है। इस प्रकार शरीर में रक्त का प्रवाह सही बना रहता है।

इस प्रकार टमाटर का जूस हमारे स्वास्थ्य के लिए अत्यंत लाभकारी होता है। इस लेख के माध्यम से हम यह बताना चाहते हैं कि हमें प्राकृतिक तत्वों का अधिक प्रयोग करना चाहिए क्योंकि वे दुष्प्रभाव से मुक्त होते हैं। हम आशा करते हैं कि आप प्राकृतिक तत्वों को अधिक महत्व देंगे।

टमाटर का जूस बनाने की विधि:

  • एक बड़े टमाटर को अच्छे से धो लें।
  • इसे काटकर इसमें मौजूद बीजों को हटा लें।
  • इसके बाद टमाटर के बच्चे हुए हिस्से को मिक्सर में डालकर पीस लें।
  • टमाटर के रस में आप कुछ बूंदें नींबू के रस की भी डाल सकते हैं।
  • तैयार हुए टमाटर के रस को आप फ्रिज में रख सकते हैं, जिससे आप बाद में भी इसका इस्तेमाल कर सकें।

यदि अब भी आपके मन में टमाटर के रस से सम्बंधित कोई भी सवाल है, तो आप उसे नीचे कमेंट के जरिये हमसे पूछ सकते हैं।

About the author

नायला हाशमी

2 Comments

Click here to post a comment

  • mujhe tamatar bahut pasand hain aur ab mujhe tamatar ke bare meina yah post padhkar bahut achchaa lagaa

  • mera vajn bahut badh gayaa hai mujhe apnaa vajan kam krne ke liye ek din mein kitnaa tamaatar kaa ras peena chaahiye?

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!

Want to work with us? Looking to share some feedback or suggestion? Have a business opportunity to discuss?

You can reach out to us at [email protected]