Fri. Jun 14th, 2024
    मुकेश अंबानी

    देश के टेलीकॉम क्षेत्र में क्रान्ति ला देने वाली रिलायंस जियो के मुखिया मुकेश अंबानी ने कहा है कि “देश में पेश होने जा रहा जियो गीगा-फ़ाइबर देश को ब्रॉडबैंड सुविधा इस्तेमाल के मामले में वर्तमान के 135वें स्थान से उठाकर विश्व के टॉप 3 देशों में शुमार कर देगा।”

    इसके अलावा मुकेश अंबानी नें यह भी बताया कि साल 2020 तक भारत की 100 फीसदी जनता के पास 4जी इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध होगी।

    देश की जनता का अनलिमिटेड वॉइस कॉलिंग व बेहद सस्ते डाटा से परिचय करवाने वाली रिलायंस जियो अब ब्रॉडबैंड के क्षेत्र में भी उतर आई है। इसके लिए जियो अपने जियो गीगाफ़ाइबर को देश की जनता के सामने पेश करने जा रही है। इसी के साथ ही जियो जल्द ही केबल टीवी नेटवर्क और जिओ पेमेंट के मैदान में भी अपनी सेवाएँ देती हुई दिख सकती है।

    अपनी इसी योजना पर अमल करने के लिए जियो ने हाल ही में डेन केबल नेटवर्क व हेथवे केबल का अधिग्रहण भी किया था।

    जियो गीगाफ़ाइबर से साथ ही जियो भारत के ब्रॉडबैंड बाज़ार में सबसे सस्ते दामों में सबसे तेज़ प्लान पेश करने की तैयारी में है। जियो ने यही रणनीति अपनाकर देश के टेलीकॉम क्षेत्र में अपनी जबर्दस्त शुरुआत की थी। जिसके बाद महज 2 सालों में भारतीय टेलीकॉम बाज़ार के बड़े से हिस्से पर कब्जा जमा लिया है, वहीं जियो अब अपने प्रतिद्वंदियों के लिए सरदर्द बनी हुई है।

    इंडियन मोबाइल कॉंग्रेस में अपनी भाषण में मुकेश अंबानी ने बताया है कि जियो गीगाफ़ाइबर के जरिये जियो ग्राहकों को फ्लैक्सिब्ल प्लान उपलब्ध कराएगी, जिसके तहत जियो के ग्राहक एक ही प्लान के तहत जियो की 4G/5G नेटवर्क की सुविधा व ब्रॉडबैंड की सुविधा का लाभ उठा सकेंगे।

    इसके तहत जब जियो के ग्राहक घर के बाहर होंगे तब वो अपने उसी प्लान के तहत जियो के मोबाइल नेटवर्क का उपयोग कर इंटरनेट सेवा का लाभ उठा सकेंगे, जबकि जब वे घर पर होने तब उन्हे उसी प्लान के तहत ब्रॉडबैंड की सुविधा मिलने लगेगी। इस तरह से जियो के ग्राहकों को बस एक ही प्लान लेना होगा।

    वर्तमान में जियो अपनी गीगाफ़ाइबर ब्रॉडबैंड सुविधा के तहत 1000 रुपये के प्लान में 100 एमबीपीएस की स्पीड मुहैया करा रहा है, जबकि जियो ने जल्द ही इस स्पीड को दस गुना तक बढ़ाने का भरोसा अपने ग्राहकों को दिया है।

    यह भी पढ़ें: दौलत के मामले में मुकेश अंबानी से इतना पीछे क्यों रह गए अनिल अंबानी?

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *