Sat. May 18th, 2024
    रिलायंस जिओ

    भारत के टेलीकॉम सेक्टर का सिरमौर बना बैठा जियो अब एक नयी पारी की शुरुआत करने जा रहा है। सूत्रों के हवाले से खबर हैं कि रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड अब अपनी पेमेंट बैंक सुविधा की टेस्टिंग कर रही है। फिलहाल इस सुविधा का टेस्ट रिलायंस अपने कर्मचारियों के बीच ही कर रही है।

    रिलायंस के इस नए उपक्रम में इसकी भागीदार देश में सार्वजनिक क्षेत्र की बड़ी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया होगी। इस उपक्रम के तहत स्टेटबैंक और रिलायंस इंडस्ट्रीज़ के बीच 30:70 का अनुपात होगा। गौरतलब है कि इस उपक्रम की स्थापना इसी वर्ष अप्रैल में हो चुकी है।

    रिलायंस ने इस उपक्रम का नाम जियो पेमेंट बैंक रखा है। फिलहाल रिलायंस अपने कर्मचारियों के बीच इसे टेस्ट कर सभी खामियों का पता लगा, इसे दुरुस्त कर लेना चाहती है।

    यह भी पढ़ें: रिलायंस जिओ की ग्राहक संख्या पहुंची 25 करोड़, 2020 तक 50 करोड़ लोगों को जोड़ने का सपना

    पेमेंट बैंक के अलावा रिलायंस नें हाल ही में जिओ ब्रॉडबैंड और जिओ डीटीएच की भी घोषणा की थी।

    हाल ही में रिलायंस ने एसबीआई की पूर्व चेयरपर्सन अरुंधति भट्टाचार्य को अपने बोर्ड में अतिरिक्त निदेशक के पद पर नियुक्त किया है। जब अरुंधति एसबीआई की चेयरपर्सन थीं, तब रिलायंस एसबीआई के साथ मिल कर कई तरह के प्रोजेक्ट पर काम कर रही थी।

    यह भी पढ़ें: रिलायंस जिओ के विस्तार के लिए अंबानी नें किया है इन 8 कंपनियों का अधिग्रहण

    पेमेंट बैंक के मामले में सबसे पहली शुरुआत नवंबर 2016 में भारती एयरटेल ने की थी। जबकि पेटीएम ने अपनी पेमेंट बैंक की शुरुआत मई 2017 में की थी।

    पेमेंट बैंक आरबीआई ने निर्देशों का पालन करते हुए छोटे बचत खाते, पेमेंट व इसी तरह की अन्य सुविधाओं का लाभ अपनी ग्राहकों तक पहुंचा सकते हैं। वहीं आरबीआई ने पेमेंट बैंक को भविष्य के बैंक के रूप में देखती है।

    यह भी पढ़ें: 2018 के अंत तक रिलायंस जिओ बन जाएगी भारत की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी

    पेमेंट बैंक के तहत लोगों को सारी सुविधाएं तकनीक आधार पर दी जा रहीं है, इसी के चलते इन बैंकों के सभी काम पेपरलेस हैं। मालूम हो कि पेमेंट बैंक का उपयोग कर ग्राहक 1 लाख रुपये की सीमा तक धन अपने खाते में जमा कर सकता है, हालाँकि आरबीआई ने पेमेंट बैंकों को अभी तक लोन देने की अनुमति नहीं दी है।

    हाल ही में रिलायंस जियो ने एसबीआई की योनो (यू ओनली नीड वन) सुविधा को अपनी माइ जियो मोबाइल एप पर भी जारी किया था। एसबीआई भी योनो के तहत डिजिटल बैंकिंग की सुविधा दे रही है।

    यह भी पढ़ें: रिलायंस जिओ है दुनिया का दसवाँ सबसे बड़ा फोन ब्रांड

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *