Mon. Apr 22nd, 2024
    'उरी' को 'प्रोपेगंडा फिल्म' बुलाये जाने पर निर्देशक आदित्य धर ने कहा-'मैं कुछ नहीं कर सकता'

    इस साल की शुरुआत में दर्शको को एक आल टाइम ब्लॉकबस्टर फिल्म के साथ साथ आल टाइम ब्लॉकबस्टर डायलाग भी मिला जो सदा दर्शको के दिलों में रहेगा। आदित्य धर द्वारा निर्देशित फिल्म “उरी:द सर्जिकल स्ट्राइक” का डायलाग ‘हाउज़ द जोश?’ न केवल आम जनता ने दोहराया बल्कि देश के पीएम नरेंद्र मोदी ने भी अपने भाषणों में कहा था।

    मगर ऐसा भी वक़्त था जब आदित्य, अभिनेता विक्की कौशल के कहने पर इस लाइन को बदलने वाले थे। स्क्रीनराइटर एसोसिएशन के प्रोग्राम ‘वार्तालाप’ में अनुभवी स्क्रीनप्ले राइटर रोबिन भट्ट से बात करते हुए आदित्य ने बताया-“हमने सबसे पहले म्यांमार अनुक्रम के दौरान ‘हाउज़ द जोश?’ की शूटिंग की। कैमरा शुरू होने से दो मिनट पहले, विक्की मेरे पास आया और मुझे लाइन बदलने के लिए कहा क्योंकि उसे लगा कि कहीं ‘फील’ नहीं आ रहा है। मैंने समझाने की कोशिश की कि अपनी टीम को प्रेरित करने के लिए सेना के कमांडर ऐसे ही बात करते हैं, तो चलो इसे आजमाए।”

    उन्होंने आगे कहा-“मुझे याद है कि जब विक्की ने पहली बार उस लाइन को कहा था, तो हमारी टीम के 30 सदस्यों के उस लाइन को सुनने के बाद रौंगटे खड़े हो गए थे।”

    तो इस लाइन के पीछे की कहानी क्या है?

    आदित्य ने याद किया-“जब मैं एक छोटा लड़का था तब मैं अपने दोस्तों के साथ दिल्ली में आर्मी क्लब जाता था। एक पूर्व आर्मी ऑफिसर हुआ करते थे, जो हम सभी बच्चों को एक कतार में खड़े होने के लिए कहते और हमसे पूछते थे- ‘हाउज़ द जोश?’। खेल था, एक-एक करके, सभी बच्चों को जवाब देना होगा- ‘हाई, सर’। जो कोई भी इसे सबसे जोर से और सबसे अच्छा कहेगा उसे चॉकलेट मिलेगा। ज्यादातर मैं चॉकलेट जीता करता था।”

    https://www.instagram.com/p/Bvn-5ELnguM/?utm_source=ig_web_copy_link

    https://www.instagram.com/p/BrxyIjKnJWA/?utm_source=ig_web_copy_link

    जैसा कि फिल्म को दर्शकों और समीक्षकों से समान रूप से सराहना मिली है, यह पूछे जाने पर कि क्या किसी निर्माता ने उनसे दोबारा ऐसी फिल्म बनाने के लिए संपर्क किया है, आदित्य ने कहा-“हां … ट्रेंडिंग क्या है इसके आधार पर बॉलीवुड कार्य करता है। एक बार एक रोम-कॉम हिट हो जाए, लोग दर्जनों रोम-कॉम बनाना शुरू कर देंगे। अगर एक युद्ध फिल्म हिट होती है, तो लोग बहुत सी बनाना शुरू कर देंगे। जब मैंने उरी बनाई तो युद्ध फिल्म वर्तमान समय के व्यावसायिक रूप से सफल जॉनर नहीं था।”

    उन्होंने कहा-“अब जब हर कोई युद्ध और भारतीय सेना पर फिल्में बनाना चाहता है, तो मैं कुछ अलग करूंगा और एक नया चलन शुरू करूंगा और एक नई चुनौती पेश करूंगा। जब मैं कहानी लिखना शुरू करता हूँ, तो मैं इसके दो, तीन साल आगे का सोचता हूँ।”

     

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    One thought on “हाउज़ द जोश? जब निर्देशक आदित्य धर को मिला “उरी” के सिग्नेचर डायलाग को बदलने का सुझाव”
    1. Indian music is kinda groovy and cheesy specially if you have seen those bollywood movies**

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *