दा इंडियन वायर » खेल » देश पहले आता है: हरभजन सिंह ने कहा कि भारत को 2019 आईसीसी विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ नहीं खेलना चाहिए
खेल

देश पहले आता है: हरभजन सिंह ने कहा कि भारत को 2019 आईसीसी विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ नहीं खेलना चाहिए

भारत-पाकिस्तान

14 फरवरी को होने वाले नृशंस पुलवामा आतंकी हमले के मद्देनजर, अनुभवी भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह ने दृढ़ता से व्यक्त किया है कि भारतीय टीम को लंबे समय तक क्रिकेट प्रतिद्वंद्वियों पाकिस्तान के खिलाफ आगामी आईसीसी विश्व कप 2019 में अपने 16 जून के मैच को नहीं खेलना चाहिए। पुलवामा आतंकी हमले में 14 फरवरी को कश्मीर घाटी में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे।

हरभजन इस हफ्ते की शुरुआत में घटी घटना के बाद भारत-पाकिस्तान के टकराव पर अपनी राय देने वाले पहले भारतीय क्रिकेटर बने। उन्हें लगता है कि विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम इंग्लैंड में विश्व कप टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए पर्याप्त रूप से तैयार है, भले ही टीम पाकिस्तान के खिलाफ राउंड-रॉबिन स्थिरता में मैच न खेले।

आजतक से बात करते हुए हरभजन सिंह ने कहा, ” भारत को पाकिस्तान के खिलाफ विश्वकप में नही खेलना चाहिए। भारत पाकिस्तान को खेले बिना विश्व कप जीतने के लिए पर्याप्त शक्तिशाली है। यह एक मुश्किल वक्त है। यह जो हमला हुआ, यह बहुत अविश्वसनीय और गलत था। हमारी सरकार को इसके खिलाफ कड़े कदम उठाने चाहिए। जब क्रिकेट की बात आती है तो मुझे नही लगता कि हमें उनके साथ कोई संबंध रखने चाहिए अगर ऐसा होता है तो वह हमसे दोबारा इस प्रकार पेश आएंगे।”

हरभजन ने कहा कि भारत को पाकिस्तान के साथ कोई संबंध नहीं रखना चाहिए और न ही उनके साथ कोई खेल खेलना चाहिए। वह चाहते हैं कि पूरा देश शहीद सैनिकों द्वारा खड़ा हो।

उन्होंने कहा, “मुझे नहीं लगता कि हमें पाकिस्तान के साथ कोई संबंध बनाने या उनके साथ कोई क्रिकेट खेलने की जरूरत है।” “मुझे नहीं लगता कि भारत को पाकिस्तान के खिलाफ विश्व कप मैच खेलना चाहिए। देश पहले आता है और हम सभी अपने देश के पीछे खड़े हैं। क्रिकेट या हॉकी या खेल, इसे अलग रखा जाना चाहिए क्योंकि यह एक बहुत बड़ी बात है और बार-बार हमारे सैनिक शहीद हो रहे है। हमें अपने देश के साथ खड़ा होना चाहिए। क्रिकेट या हॉकी या कोई भी खेल, हमें उनके साथ खेलने की जरूरत नहीं है।”

लेकिन तब क्या होगा जब पाकिस्तान और भारत दोनों टूर्नामेंट में आगे बढ़ेंगे और सेमीफाइनल या विश्व कप 2019 के फाइनल में एक-दूसरे के आमने-सामने आएंगे ? हरभजन ने कहा कि मंत्री इस पर विचार कर सकते हैं और उन्हें इस बारे में चर्चा करने के लिए काफी समय बचा होगा कि जुलाई के शुरू में सेमीफाइनल होगा या फाइनल होगा।

स्पिनर ने आगे कहा, ” हम इस बात पर चर्चा करने के लिए बहुत छोटे हैं कि क्या करने की जरूरत है – सत्ता में बैठे बड़े लोग हैं जो इस पर निर्णय ले सकते हैं। अगर हमें सेमी-फ़ाइनल या फ़ाइनल में पाकिस्तान से खेलना है तो क्या होगा? जून-जुलाई में काफी समय है। सत्ता में बैठे लोगों को इसके लिए कुछ करना होगा। लेकिन कोई भी भारत को नुकसान नहीं पहुंचा सकता। पुलवामा में जो हुआ वह दुखद है। हमारे रक्षा बलों के कारण ही आज हम सुरक्षित हैं।”

About the author

अंकुर पटवाल

अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!