Sun. May 19th, 2024
    शेन वॉटसन

    चेन्नई सुपर किंग्स की प्रैक्टिस जोरों पर है, लेकिन उनके दो पुराने दिग्गज शेन वॉटसन और ड्वेन ब्रावो का अभ्यास में शामिल होना बाकी है, जो सोमवार रात को ही यहां चेन्नई पहुंचे है।

    ऐसा नही है कि टीम प्रबंधन इनको लेकर बहुत चिंतित है, क्योंकि यह जोड़ी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यांस ले चुकी है और अभी एक अच्छे फॉर्म में है। क्योंकि वह रविवार को खत्म हुए पाकिस्तान सुपर लीग में विकेट लेने और रन बनाने में व्यस्त थे।

    वॉटसन अपने बल्ले से पीएसएल टूर्नामेंट से शानदार प्रदर्शन करते आए थे जिसके लिए उन्हे प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का खिताब दिया गया था। यहा खेले मैचो में शेन वॉटसन ने 43 की औसत और 143.81 की स्ट्राइक रेट से 430 रन बनाए है। वही 35 वर्षीय ब्रेबो ने भी क्वेटा ग्लैडिएटर्स के लिए 6 मैचो में 7 विकेट चटकाए और टीम को खिताब का हकदार बनाया।

    जबकि ब्रावो सीएसके सेट अप का एक अभिन्न हिस्सा रहे हैं, इससे पहले कि वे 2015 के आईपीएल के बाद प्रतिबंधित कर दिए गए थे। वॉटसन को थोड़े खराब समय से गुजरना पड़ा था क्योंकि साल 2017 में आरसीबी के लिए खेलते हुए उन्होने 8 मैचो में 11.83 की औसत से केवल 71 रन बनाए थे। जिसके बाद प्रशंसक सोच रहे थे उनके क्रिकेट जीवन का अंत निकट है। वॉटसन ने ऑस्ट्रेलिया के लिए अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच ऑस्ट्रेलिया के लिए मार्च 2016 में खेला था जिसके बाद उन्होने सन्यांस ले लिया था।

    लेकिन पिछले सीजन सीएसके के लिए खेलते हुए उन्होने अपने खेले में एक अच्छा बदलाव दिखाया और सीएसके के लिए टॉप ऑर्डर में बल्लेबाजी करते हुए 40 की औसत से 555 रन बनाए। जिसमें फाइनल मैच में उनके 117 रन की नाबाद पारी भी शामिल है। उनके पिछले सीजन को देखते हुए लग रहा था कि उन्हे टीम ने केवल बेंच पर आराम करने के लिए बुलाया है लेकिन उन्होने सबको गलत साबित करते हुए एक शानदार 2018 आईपीएल सीजन खेला।

    एक साल बाद, ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ब्रावो के साथ सीएसके की योजनाओं का एक अभिन्न हिस्सा बन गए है। उनके मौजूदा फॉर्म को देखते हुए, दोनों पहले प्लेइंग-11 में निश्चित हैं, जब तक कि कोई फिटनेस मुद्दा नहीं बनता। हालांकि ऐसा होने की संभावना नहीं है और पूर्व सीएसके बल्लेबाज एस बद्रीनाथ का मानना है कि दुनिया भर में टी 20 लीग के प्रसार ने उन्हें संपर्क में रहने में मदद की है।

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *