एमएस धोनी, हरभजन सिंह आईपीएल 2019 से पहले चेन्नई सुपर किंग्स के शिविर में शामिल होंगे

एमएस धोनी

चेन्नई सुपर किंग्स ने चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2019 की तैयारी पूरे जोरों पर शुरू कर दी है। जबकि स्थानीय खिलाड़ी इस सप्ताह की शुरुआत में शिविर में शामिल हुए थे, कप्तान एमएस धोनी सहित बड़े नाम अब चेन्नई पहुंचे हैं।

एमएस धोनी को 23 मार्च को होने वाले रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के खिलाफ गत चैंपियन के शुरुआती मैच से एक सप्ताह पहले शुक्रवार को चेन्नई में देखा गया।

इससे पहले, धोनी चेन्नई के कोच स्टीफन फ्लेमिंग के साथ सुबह का नाश्ता करते दिखाई दिए थे। फ्लेमिंग, जो तीन बार विजेता टीम रह चुकी टीम के साथ कई सालो से काम करते आए है, वह शुक्रवार को चेन्नई पहुंचे थे।

सीएसके ने शनिवार को टीम होटल में पहुंचने वाले विश्व कप विजेता ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह की एक तस्वीर भी पोस्ट की। विशेष रूप से, हरभजन ने सीएसके के आईपीएल 2018 में खिताब जीतने के अभियान में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

धोनी ने विश्वकप साल की शुरूआत एक अच्छे नोट के साथ की है, जिसमें उन्होने जनवरी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गई सीरीज में तीन लगातार अर्धशतक जड़े थे और टीम को 2-1 से ऐतिहासिक वनडे सीरीज जितवाई थी। अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाजो को हाल में घर में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खत्म हुई वनडे सीरीज के आखिरी दो मैचो से आराम दिया गया था।

धोनी की अनुपस्थिति में टीम को पांच वनडे मैचो की सीरीज 3-2 से गंवानी पड़ी, जबकि टीम शुरुआती दो मैच जीती थी। चौथे वनडे मैच में जब धोनी की अनुपस्थिति में मोहाली में ऋषभ पंत को टीम में शामिल किया गया था औऱ वह स्टंप के पीछे से संघर्ष करते नजर आए थे और कई मौको पर उन्होमे स्टंपिग छोड़ी थी, उस दौरान भी फैंस धोनी, धोनी के नारे लगा रहे थे।

धोनी जब शनिवार को विराट कोहली की टीम के सामने आईपीएल अभियान करेगी तो वह शुरुआत से अपने खिताब की रक्षा करने के लिए सोचेगी। विशेष रूप से, आईपीएल  के लिए टिकट की बिक्री आज से पहले बिक्री पर गई थी। चेन्नई की टीम के हजारो फैंस एमए चिदंबरम स्टेडियम में टिकट खरीदने के लिए कतार में है। और फैंस पहले मैच में एक रोमांचक मैच की उम्मीद करती है।

चेन्नई अपना पहला आईपीएल मैच 10 अप्रैल 2018 के बाद अब आयोजित करेगा। सीएसके पिछले साल एमए चिदंबरम स्टेडियम में केवल एक मैच ही खेल सकी थी क्योंकि कावेरी नदी विवाद के विरोध के बाद उनके घरेलू मैच शहर से बाहर कर दिए गए थे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here