खानपान

शहद और अदरक खाने के फायदे

शहद और अदरक दोनों ही बेशुमार फायदों से भरपूर होते हैं। यदि इनका अलग-अलग सेवन किया जाए तो इनके अलग फ़ायदे होते हैं लेकिन यदि इनको आपस में मिलाकर प्रयोग किया जाए तो स्वास्थ्य के लिए इनके चमत्कारिक फ़ायदे होते हैं।

आइए इस लेख में यह चर्चा करते हैं कि अदरक और शहद को एक साथ मिलाकर सेवन करने से स्वास्थ्य को किस प्रकार लाभान्वित किया जा सकता है।

अदरक और शहद को एक साथ मिलाकर प्रयोग करने पर स्वास्थ्य को उससे होने वाले फायदों पर चर्चा करने से पहले हम इस बात पर चर्चा करते हैं कि अदरक और शहद को एक साथ कैसे मिलाकर प्रयोग किया जा सकता है?

अदरक और शहद के सेवन का तरीका

अदरक और शहद को एक साथ मिलाकर इस्तेमाल करने का तरीक़ा बहुत ही छोटा और आसान सा है:

  1. सबसे पहले आप अदरक का रस निकाल लें।
  2. अदरक का रस निकालने के लिए अदरक को अच्छे से छील लें और फिर इसके छोटे छोटे टुकड़े काट लें।
  3. अब कटे हुए अदरक को एक मिक्सर में रखें और उसमें थोड़ा सा पानी मिलायें।
  4. अब पानी और अदरक को एक साथ मिक्सर में चलाएं।
  5. थोड़ी देर बाद जब अदरक अच्छे से पिस जाए तो उसे एक कॉटन के कपड़े पर रखें और फिर उसे धीरे धीरे निचोड़ें।
  6. निचोड़ने पर अदरक के अंदर मौजूद रस बाहर निकल आएगा और आप इस रस को एक बर्तन में इकठ्ठा कर सकते हैं।
  7. अब एक चम्मच अदरक के रस को एक चम्मच शहद में मिलाएँ और इसका सेवन करें।
  8. नियमित रूप से ऐसा करने पर आप अनेक प्रकार के रोगों से बच सकते हैं क्योंकि अदरक और शहद का मिश्रण प्रतिरक्षा तंत्र को मज़बूत बनाता है।

अदरक और शहद के फायदे

अदरक और शहद को एक साथ मिलाकर प्रयोग करने पर स्वास्थ्य को निम्नलिखित फ़ायदे होते हैं-

  • पाचन क्रिया में सहायक

अदरक और शहद पाचन क्रिया को सुदृढ़ बनाने में सहायता करते हैं। अदरक का रस मुँह में मौजूद लार ग्रंथियों में लार के उत्पादन को प्रेरित करता है और पेट में मौजूद ग्रंथियों में डाइजेस्टिव जूस को बनने के लिए प्रेरित करता है।

इसी तरह शहद पेट में मौजूद एसिडिटी को कम करने में सहायता करता है। यदि अदरक और शहद को एक साथ प्रयोग किया जाए तो ऐसे में हमारा पाचन एक सकारात्मक तरीक़े से अच्छा बनता है।

ये दोनों चीज़ें पेट में बाईल जूस के उत्पादन को प्रेरित करती हैं। बाइल जूस वसा के कॉम्पलेक्स कणों को सरल कणों में तोड़ने के लिए प्रयोग किया जाता है।

जब एक पर्याप्त मात्रा में पेट में बाइल जूस का उत्पादन होता है तो ऐसे में वसा का पाचन अच्छे तरीक़े से हो जाता है। वसा का सही ढंग से पाचन हो जाने पर रक्त में वसा की मात्रा बढ़ने नहीं पाती है जिससे कि कई रोगों से बचा जाता है।

अदरक और शहद का मिश्रण ना सिर्फ़ सही पाचन में सहायता करता है बल्कि ये दोनों चीज़ें भोजन से पोषक तत्वों को ठीक से अवशोषण करने की दर को भी सुदृढ़ करते हैं।

इस तरह हमारे शरीर के लिए आवश्यक अनेक प्रकार के पोषक तत्वों की पूर्ति हमारे शरीर में हो जाती है।

  • कमज़ोरी और मतली से छुटकारा

अदरक और शहद का मिश्रण कमज़ोरी और मतली से छुटकारा दिलाता है। कई बार ऐसा देखा गया है कि कीमोथेरेपी के बाद मरीज़ को काफ़ी कमज़ोरी आ जाती है और उसे बार बार उल्टियां होती है। ऐसे में उसे शहद और अदरक का मिश्रण दिया जा सकता है जो कि कोई भी साइडइफेक्ट नहीं रखता है।

ठीक इसी तरह महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान मॉर्निंग सिकनेस, मूड स्विंग और मतली की समस्या से छुटकारा पाने के लिए अदरक और शहद के मिश्रण का सेवन करना चाहिए।

जिन लोगों को पाचन से संबंधित समस्याएं हैं उनमें भी कमज़ोरी और मतली की समस्या कॉमन रूप से पाई जाई जाती है। ऐसे में उन्हें अदरक और शहद का मिश्रण काफ़ी फ़ायदा पहुँचा सकता है क्योंकी ये पाचन क्रिया को सुदृढ़ बनाता है।

  • श्वसन से संबंधित समस्याओं का निदान

अदरक और शहद का मिश्रण हमारे फेफड़ों के लिए अत्यंत लाभकारी होता है। सर्दी और जुकाम के कारण गले, सीने और फेफड़ों में जमा होने वाला बलगम हमारे श्वसन तंत्र को प्रभावित करता है। ऐसे में इसका साफ़ होना काफ़ी ज़रूरी है।

यदि अदरक और शहद के मिश्रण के साथ काली मिर्च भी ली जाए तो ऐसे में इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।

इतना ही नहीं अदरक, शहद और काली मिर्च को एक साथ मिलाकर सेवन करने से अस्थमा की समस्या से छुटकारा मिलता है।

  • कैंसर से बचाव

शोधों में इस बात को सिद्ध किया गया है कि अदरक और शहद का मिश्रण कैंसर से लड़ने में सक्षम होता है।

अदरक में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट गुण शरीर में कोशिकाओं की अनावश्यक वृद्धि को रोकते हैं। इस तरह कोशिकाएं एक निश्चित क्रम में ही बढ़कर  विभाजित होती हैं।

शहद कोशिकाओं पर लगे चेक पॉइंट्स को सही प्रकार से कार्य करने के लिए प्रेरित करता है। जब शहद और अदरक को एक साथ लिया जाता है तो ऐसे में कैंसर के चांसेस काफ़ी हद तक कम हो जाते हैं।

अदरक और शहद का सेवन कब करें?

आप हर रोज सुबह या शाम को खाली पेट शहद और अदरक का सेवन कर सकते हैं।

अदरक और शहद लेने से आपके पेट की सफाई होती है और आपकी त्वचा भी साफ़ होती है।

इसका सेवन करते समय यह भी ध्यान रहे कि आप अदरक का रस एक समय में एक चम्मच से ज्यादा ना लें।

ऐसा इसलिए है क्योंकि अदरक का रस ज्यादा मात्रा में लेने से पेट की दीवारों में संक्रमण हो सकता है। इसके साथ ही पेट में पाचन क्रिया भी गड़बड़ा सकती है।

यह पोस्ट आखिरी बार संसोधित किया गया June 1, 2018 11:44

नायला हाशमी

टिप्पणियां देखें

Recent Posts

अमेरिकी वैज्ञानिक डेविड जूलियस और अर्देम पटापाउटिन ने नोबेल मेडिसिन पुरस्कार 2021 जीता

अमेरिकी वैज्ञानिकों डेविड जूलियस और अर्डेम पटापाउटिन ने सोमवार को तापमान और स्पर्श के रिसेप्टर्स…

October 5, 2021

किसान संगठन को कृषि कानूनों पर रोक के बाद भी आंदोलन जारी रखने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने लगायी फटकार

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी…

October 5, 2021

केंद्र सरकार ने वन संरक्षण अधिनियम में कई संशोधन किये प्रस्तावित

केंद्र सरकार ने मौजूदा वन संरक्षण अधिनियम (एफसीए) में संशोधन के तहत राष्ट्रीय सुरक्षा परियोजनाओं…

October 5, 2021

रूस और जर्मनी के बीच नॉर्ड स्ट्रीम 2 पाइपलाइन का निर्माण पूरा: यूरोपीय राजनीति में होंगे इसके कई बड़े परिणाम

जबकि ईरान-पाकिस्तान-भारत गैस पाइपलाइन, ईरान-भारत अंडरसी पाइपलाइन, और तुर्कमेनिस्तान-अफगानिस्तान-पाकिस्तान-भारत पाइपलाइन पाइप अभी भी सपने बने…

October 4, 2021

पैंडोरा पेपर्स का सचिन तेंदुलकर सहित कई वैश्विक हस्तियों के वित्तीय राज़ उजागर करने का दावा

रविवार को दुनिया भर में पत्रकारीय साझेदारी से लीक पेंडोरा पेपर्स नाम के लाखों दस्तावेज़ों…

October 4, 2021

बढे बजट के साथ आज पीएम मोदी करेंगे एसबीएम-यू 2.0 और अमृत ​​2.0 का शुभारंभ

वित्त पोषण, आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय के शीर्ष अधिकारियों ने गुरुवार को कहा…

October 1, 2021