दा इंडियन वायर » खेल » रणजी ट्रॉफी: बिहार के सकीबुल गनी ने डेब्यू मैच में तिहरा शतक जड़कर रचा इतिहास, पूरा देश बोला “जीय हो बिहार के लाला”
खेल विशेष

रणजी ट्रॉफी: बिहार के सकीबुल गनी ने डेब्यू मैच में तिहरा शतक जड़कर रचा इतिहास, पूरा देश बोला “जीय हो बिहार के लाला”

ranji trophy

सकीबुल गनी (Sakibul Gani), बिहार क्रिकेट टीम के 22 वर्षीय दाएं हाँथ के बल्लेबाज, ने कल रणजी ट्रॉफी 2021-22 (Ranji Trophy 2021-22) के दूसरे दिन कोलकाता के जादवपुर यूनिवर्सिटी कैंपस ग्राउंड पर मिज़ोरम के ख़िलाफ़ अपने डेब्यू मैच में ही तिहरा शतक जड़कर विश्व रिकॉर्ड बना दिया।

बिहार ने बल्लेबाजी करते हुए बनाया 685-5 का विशाल स्कोर..

एक समय बिहार अपने टॉप-थ्री बल्लेबाज को जल्दी खो देने के बाद 71-3 के स्कोर पर संघर्ष कर रहा था। लेकिन इसके बाद मिज़ोरम के गेंदबाजों की शामत आ गई। इसके नाद सकीबुल गनी और बाबुल कुमार ने 538 रनों की मैराथन साझेदारी की।

गनी ने 2 छक्के और 56 चौकें की मदद से 405 गेंद पर 341 रन बनाएं; वहीं बाबुल कुमार ने 229 रन  बनाकर नॉट आउट रहे।

गनी ने बनाये वर्ल्ड रिकॉर्ड

सकीबुल गनी ने अपने डेब्यू मैच में तिहरा शतक जड़ दिया और प्रथम श्रेणी क्रिकेट में ऐसा करने वाले वह न सिर्फ भारत बल्कि दुनिया के पहले बल्लेबाज बने। रणजी ट्रॉफी में डेब्यू मैच में इससे पहले यह रिकॉर्ड अजय रोहेड़ा के नाम था। रोहेड़ा ने 2018-19 सीजन में हैदराबाद के खिलाफ मध्य प्रदेश के लिए 267 रन नाबाद बनाये थे।

रहाणे, सरफराज खान, यश ढुल ने भी अपनी-अपनी टीमों के लिये जमाये शतक

रणजी ट्रॉफी जिस बात के लिए जाना जाता है, 2 साल बाद वापसी पर भी इसकी बानगी दिखी। दरअसल, किसी क्रिकेटर को भारत के राष्ट्रीय टीम में जगह बनाने के लिए रणजी ट्रॉफी सबसे अच्छा प्लेटफॉर्म देता है। टूर्नामेंट के इस सीजन के शुरुआती दिनों में ही कुछ बेहतरीन प्रदर्शन देखने को मिला।

भारत के राष्ट्रीय टेस्ट टीम के प्रमुख हिस्सा अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane)ने पिछले सीजन की विजेता सौराष्ट्र की टीम के ख़िलाफ़  मुंबई के लिए खेलते हुए शानदार शतक जड़ा। रहाणे (129 रन) के साथ उसी मुंबई टीम के एक और सदस्य और घरेलू क्रिकेट में धूम मचा रहे सरफराज खान (275 नॉट आउट) ने बेहतरीन दोहरा शतक जड़ दिया। इन दोनों के शानदार पारियों के बदौलत मुंबई ने 7 विकेट खोकर 544 रनों के विशाल स्कोर पर अपनी पारी घोषित की।

चूँकि भारत की राष्ट्रीय टीम में रहाणे के स्थान को लेकर इन दिनों बहुत बातें हो रही है। ऐसे में रहाणे का यह शतक उनके कैरियर के लिए एक नई दिशा प्रदान कर सकती है।

इस मैच में  सौराष्ट्र के लिए खेल रहे और भारत के राष्ट्रीय टीम के एक और बड़े नाम चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) पर भी सबकी निगाहें टिकी है। पुजारा इन दिनों खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं और समय समय पर उनके भी लिए भी राष्ट्रीय टीम में स्थान पर चर्चा होती रही हैं।

दूसरी ओर, अभी पिछले दिनों U19 विश्व कप जीतने वाली भारतीय U19 टीम के कप्तान यश ढुल ने भी दिल्ली के लिए खेलते हुए अपने डेब्यू मैच में ही शतक ठोककर क्रिकेट पंडितों की निगाह अपनी ओर खींची।

यश के अलावे एक और प्रतिभाशाली क्रिकेटर 25 वर्षीय ललित यादव ने भी शानदार 177 रन की पारी खेली। ललित आईपीएल 2022 में दिल्ली कैपिटल्स के लिए खेलते हुए नजर आयेंगे।

2 साल बाद हुई है रणजी ट्रॉफी टूर्नामेंट की वापसी

साल 2020 के बाद तकरीबन 2 साल के अंतराल के बाद भारत के घरेलू क्रिकेट  में रणजी ट्रॉफी की वापसी हो रही है।  कोरोना महामारी के चलते बीसीसीआई ने इस टूर्नामेंट को रद्द कर दिया था। रणजी ट्रॉफी को भारतीय क्रिकेट की रीढ़ की हड्डी कहते हैं। कोविड19 संक्रमण के कारण लगभग दो साल से यह घरेलू टूर्नामेंट (BCCI Domestic ) का आयोजन नहीं हो पा रहा था।

परंतु, इसकी अहमियत को समझते हुए बीसीसीआई ने रणजी ट्रॉफी को 2021-22 सीजन को दो स्टेज में करवाने का फैसला किया। एक स्टेज आईपीएल के पहले जिसे “प्री-आईपीएल” सीजन  और दूसरा “पोस्ट आईपीएल” सीजन जो आईपीएल 2022 के ठीक बाद करवाया जाएगा।

टूर्नामेंट को वापस करवाने का फैसले कि घोषणा के बाद क्रिकेट पंडितों, मीडिया और पूर्व दिग्गज खिलाड़ियों ने स्वागत किया। सच यह भी है कि अजिंक्य रहाणे, चेतेश्वर पुजारा, मनीष पांडे आदि जैसे बड़े नामों के लिए यह टूर्नामेंट अतिमहत्वपूर्ण साबित हो सकता है।

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!

Want to work with us? Looking to share some feedback or suggestion? Have a business opportunity to discuss?

You can reach out to us at [email protected]