Wed. Feb 1st, 2023
    "मीटू अभियान" पर अजय देवगन: मैं तबतक कोई निर्णय नहीं ले सकता जबतक कोई मुजरिम ना साबित हो जाए

    बॉलीवुड सुपरस्टार अजय देवगन ने कहा कि भारतीय फिल्म इंडस्ट्री के इतने बड़े नामों के खिलाफ “मीटू अभियान” के तहत इलज़ाम लगने से वे चौक गए हैं मगर उनका मानना है कि ऐसे मामलों में कानूनी कार्यवाही भी होनी चाहिए।

    बॉलीवुड के कई दिग्गज जैसे राजकुमार हिरानी, सुभाष घाई, साजिद खान, विकास बहल, रजत कपूर, आलोक नाथ, कैलाश खेर और अनु मलिक के ऊपर यौन उत्पीड़न के गंभीर आरोप लगे हैं।

    PTI को अजय ने बताया-“काफी चीज़े बाहर आई और कुछ लोग हैं ऐसे मगर सभी ऐसे नहीं हैं। मैं कहना चाहूँगा कि कुछ नामों ने मुझे चौका दिया है मगर फिर मैं पूरी तरह से निर्णय नहीं ले सकता जबतक कोई किसी को मुजरिम ना साबित करदे।”

    अजय जिन्होंने पहले इस अभियान का समर्थन किया था, उन्हें ऐसा लगता है कि इंडस्ट्री में अब पॉवर गेम और काम नहीं करता। उनके मुताबिक, “नयी जनरेशन बिलकुल अलग तरीके से सोच रही है, वो ये सब बकवास स्वीकार नहीं करेंगे जो कुछ सालों पहले तक भी लोग स्वीकार कर लेते थे। वो बदल रहे हैं और हम बदल रहे हैं और वो बदलाव अच्छे के लिए है। मीडिया के आने से, सबकुछ खुले में हैं।”

    उन्होंने आगे कहा-“आप ये नहीं कह सकते-‘मैं बहुत शक्तिशाली हूँ और तुम मुझसे नहीं लड़ सकते’, आप किसी से नहीं लड़ सकते क्योंकि हर इन्सान एक ही प्लेटफार्म पर है, एक ही मंच पर है। तो छोटा हो या बड़ा, अब कोई मायने नहीं रखता और ये एक अच्छी बात है।”

    फिल्मों की बात की जाये तो अभिनेता अपनी आगामी फिल्म ‘टोटल धमाल‘ के प्रचार में व्यस्त हैं जो 22 फरवरी को रिलीज़ हो रही है।

    इसके अलावा, वे तब्बू के साथ ‘दे दे प्यार दे‘, सैफ अली खान के साथ ‘तानाजी:द अनसंग वारियर‘, नीरज पाण्डेय की ‘चाणक्य’, प्रसिद्ध फुटबॉल कोच सैयद अब्दुल रहीम की बायोपिक और रणबीर कपूर के साथ लव रंजन की फिल्म में दिखाई देंगे।

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *