Wed. Apr 24th, 2024
    मध्य प्रदेश: एक ही हफ्ते के अंदर हुई दुसरे भाजपा नेता की हत्या, शिवराज सिंह चौहान का कांग्रेस पर तीखा हमला

    मध्य प्रदेश के भाजपा नेता मनोज ठाकरे का मृत शरीर रविवार को बड़वानी के खुले मैदान में पाया गया। वे ऐसे दुसरे भाजपा नेता हैं जिनकी राज्य में एक ही हफ्ते में हत्या की गयी है। और इसी बात से गुस्साए पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला है।

    चौहान ने ट्विटर के माध्यम से, कमल नाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस की राज्य में कानून व्यस्वस्था को लेकर कड़ी आलोचना की है।

    उन्होंने लिखा-“एक के बाद एक भाजपा नेताओं की हत्या होना बहुत गंभीर मामला है। कांग्रेस इसको सतही तौर पर लेकर क्रूर मजाक कर रही है। गृह मंत्री के गृह जिले में सरेआम भारतीय जनता पार्टी के लोकप्रिय मंडल अध्यक्ष मनोज ठाकरे को को मार दिया गया।”

    “अपराधियों के हौसले बुलंद है। प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति बिलकुल ध्वस्त हो गई है। यह हमारे लिए बहुत चिंता का विषय है। तत्काल अपराधी पकड़े जाने चाहिए। सरकार ने इसको गंभीरता से नहीं लिया, तो भाजपा को सड़कों पर उतरना पड़ेगा।”

    NDTV को वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने बताया-“ठाकरे रोजाना की तरह सुबह की सैर पर निकले थे। घटना स्थल पर खून से सना एक पत्थर मिला।”

    पिछले सात दिनों में इतनी हत्याओं के बाद, एक महीने पुरानी कांग्रेस को राज्य में कड़ी निंदा का सामना करना पड़ रहा है। मंदसौर के नागरिक निकाय अध्यक्ष और भाजपा नेता प्रह्लाद बंदवार को गुरुवार को गोली मार दी गयी थी। घटना के एक दिन बाद, राजस्थान से एक भाजपा कार्यकर्त्ता मनीष बजरंगी को हत्या के मामले में गिरफ्तार किया गया।

    सीएम कमल नाथ ने संवाददाताओं को बताया कि बंदवार के बेटे ने मनीष बजरंगी का नाम लिया था और पुलिस ने दावा किया है कि हत्या के पीछे का कारण ज़मीन विवाद है।

    चौहान ने ट्वीट कर लिखा-“भाजपा नेता प्रह्लाद बंदवार की 25 हजार रुपये के लिए हत्या का तर्क गले नहीं उतर रहा है। इसके पीछे किसी गहरे षड्यंत्र की आशंका है। इसकी सीबीआई जांच होनी चाहिए। अपराधी बेखौफ हो गये हैं, लोग सरेआम मारे जा रहे हैं। क्या कांग्रेस का नारा ‘वक्त है बदलाव का’ ऐसा ही वक्त लाने के लिए था?”

    जिस दिन, बंदवार की हत्या की गयी थी, उसी दिन इंदौर के एक बाजार में दूसरी हत्या को अंजाम दिया गया। स्थानीय व्यापारी संदीप अग्रवाल की गोली मार कर हत्या कर दी गयी। उनके परिवार ने आरोप लगाया कि भुगतान को लेकर उनके व्यापारिक भागीदारों के साथ विवाद चल रहा था।

    पुलिस ने बताया कि लगभग 30 संदिग्धों को पकड़ा गया है और उनसे पूछताछ की जा रही है। राज्य के गृह मंत्री बाला बच्चन ने कहा-“मैंने इंदौर में वरिष्ठ पुलिस अधिकारी से बात की। डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल ने मुझे आश्वासन दिया कि पुलिस मुजरिमों को जल्द पकड़ लेगी। हमने उन्हें ये भी देखने के लिए कहा कि ऐसे मामले भविष्य में ना दोहराये जाये।”

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *