Thu. Dec 1st, 2022
    मणिकर्णिका बॉक्स ऑफिस प्रेडिक्शन

    कंगना रानौत की फ़िल्म मणिकर्णिका 2019 में आने वाली बड़ी फ़िल्मों में से एक है। फ़िल्म 25 जनवरी 2019 को सिनेमाघरों में आ रही है और फ़िल्म से एक अच्छी शुरुआत की अपेक्षा की जा रही है।

    फ़िल्म के ट्रेलर ने बाज़ार में हाइप बना लिया है और कंगना रानौत एक ऐसी अभिनेत्री हैं जो अपने दम पर दर्शकों को सिनेमाघरों तक ले आने में सक्षम हैं। इसके साथ ही फ़िल्म काफी विवादों से भी घिरी रही है जिसका इसको फायदा मिलेगा।

    हालाँकि फ़िल्म की ‘ठग्स ऑफ़ हिन्दोस्तान’ जैसी पहले ही दिन बड़ी शुरुआत होगी यह नहीं कहा जा सकता है क्योंकि भारत में लाखों लोग फ़िल्म में खान के टैग से ही सिनेमाघरों में आ जाते हैं। लेकिन विषयवस्तु अच्छी रही तो दुसरे और तीसरे दिन फ़िल्म की कमाई निश्चित रूप से बढ़ेगी।

    विशेषज्ञों की माने तो मणिकर्णिका पहले दिन लगभग 14-15 करोड़ की कमाई कर लेगी। ट्रेड एनालिस्ट रोहित जयसवाल ने कहा है कि फ़िल्म की शुरुआत अच्छी रहेगी।

    https://twitter.com/rohitjswl01/status/1088333676268699648

    फ़िल्म की एडवांस बुकिंग कल से ही शुरू हो चुकी है और यह पूरे भारत में 3000 से भी ज्यादा स्क्रीन पर रिलीज़ की जा रही है। विशेषज्ञ सुमित कदेल का मानना है कि अगर फ़िल्म दर्शकों को पसंद आएगी तो यह कंगना की अबतक की सबसे बड़ी फ़िल्म बन सकती है।

    वहीं गिरीश जौहर ने फ़िल्म के लिए पहले दिन 12-13 करोड़ की कमाई करने का अनुमान लगाया है।

    कंगना रानौत की फ़िल्म ‘मणिकर्णिका द क्वीन ऑफ़ झाँसी’ हिंदी, तमिल और तेलुगु भाषाओँ में, दुनिया भर में लगभग 50 देशों में रिलीज़ होने वाली है। फ़िल्म 25 जनवरी 2019 को सिनेमाघरों में आने वाली है।

    राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने शुक्रवार को नई दिल्ली में राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक विशेष स्क्रीनिंग में कंगना रानौत की फिल्म मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी देखी। फिल्म की पूरी टीम को बाद में राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित किया गया।

    https://www.instagram.com/p/Bs5lh11nlzf/

    राष्ट्रपति कोविंद के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट ने स्क्रीनिंग से कुछ तस्वीरें साझा कीं और लिखा, “राष्ट्रपति कोविंद ने राष्ट्रपति भवन के सांस्कृतिक केंद्र में झांसी की रानी लक्ष्मी बाई के जीवन पर आधारित फिल्म ‘मणिकर्णिका’ की एक विशेष स्क्रीनिंग देखी; फिल्म के कलाकारों और निर्माताओं का स्वागत किया।

    यह भी पढ़ें: नारी सशक्तिकरण नहीं बल्कि फूहड़ पित्र सत्तात्मकता के प्रतीक हैं आदित्य कृपलानी की फ़िल्म ‘टोटा पटाखा आइटम माल’ के पोस्टर्स

    By साक्षी सिंह

    Writer, Theatre Artist and Bellydancer

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *