दा इंडियन वायर » समाज » बिल्ली का घर में मरना : क्या करें?
समाज

बिल्ली का घर में मरना : क्या करें?

बिल्ली का घर में मरना

यदि आपके घर में बिल्ली मर गयी है और आपको नहीं पता है कि क्या करना है, तो आप इस लेख को पढ़ते रहे। बिल्ली का घर में मरना एक अपशकुन भी माना जाता है, वहीँ कई लोग इसे सामान्य मानते हैं।

लोग अकसर अपने पालतू जानवरों विशेषकर बिल्ली और कुत्ते से इतना लगाव लगा बैठते हैं, कि उनके मरने पर लोगों को गहरा धक्का लगता है।

बिल्ली के बारे में बड़ी संख्या में लोग यह कहते हैं कि जब बिल्ली बूढी हो जाए या मरने की स्थिति में हो, तो उसे घर से बाहर छोड़ देना चाहिए।

बिल्ली
बिल्ली

आपको ऐसा नहीं करना चाहिए। इस स्थिति में बिल्ली को आपकी ज्यादा जरूरत है और एक मनुष्य की तरह उसे भी आपको विदा करना होगा और उसका अंतिम संस्कार करना होगा।

यदि आपके मन में भी यह सवाल है कि बिल्ली मर जाये तो क्या करे, तो आप इस लेख को पूरा पढ़ें।

बिल्ली के मरने पर क्या करें?

एक बार यदि आपकी बिल्ली घर में मर गयी है, तो सबसे पहले आपको यह निश्चित करना होगा कि उसके शरीर का अंतिम संस्कार कैसे करना है?

कई लोग बिल्ली के मरने पर उसका शरीर जानवरों के अस्पताल पहुंचा देते हैं, जहाँ से उन्हें दफना दिया जाता है।

इसके अलावा कई लोग निजी तौर पर भी बिल्ली को दफना देते हैं। मेरी राय में आपको अपनी बिल्ली को खुद जाकर दफनाना चाहिए क्योंकि बिल्ली का जाना भी बहुत दुखदायी हो जाता है।

यहाँ हम आपको बताते हैं कि बिल्ली के मरने पर आप क्या कर सकते हैं?

  • अस्पताल से संपर्क करें और शरीर भिजवा दें

कई मुर्दाघरों में जानवरों को दफनाने की इजाजत नहीं होती है। इसके लिए आपको जानवरों से मुर्दाघर में जाना होगा।

जानवरों के अस्पताल के अधिकारी ऐसी जगहों से संपर्क रखते हैं और वे आपके पालतू जानवर के दफनाने में मदद करते हैं।

इसके लिए जैसे ही आपको यह बुरी खबर मिले, आप तुरंत ऐसे अस्पताल में संपर्क करें।

अस्पताल के लोग बिल्ली के शरीर को लाने के लिए कुछ इंतजाम करेंगे। बिल्ली को अस्पताल ले जाकर वहां उसके शरीर की जांच कर उसे दफनाने को कहा जाएगा।

आप खुद भी उनके साथ जाकर बिल्ली के शरीर को दफना सकते हैं।

  • बिल्ली को खुद दफनायें

यह अच्छा होगा कि आप बिल्ली का अंतिम संस्कार खुद करें।

कई लोग बिल्ली के मरने पर घर में पूजा कराते हैं और पंडित को बुलाते हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि लोग मानते हैं कि घर में बिल्ली का मरना अपशकुन होता है।

यदि आप भी इसमें विश्वास करते हैं तो आप भी ऐसा कर सकते हैं।

इसके बाद बिल्ली को उसकी निजी चीजों जैसे कपड़ों और बिस्तर के साथ ले जाकर दफना दें।

अकसर लोग एक पालतू जानवर में मरने पर एक और जानवर को पाल लेते हैं। आप भी ऐसा कर सकते हैं।

जरूरी बातें

बिल्ली के मरने पर कई लोग उसका अंतिम संस्कार करने के बजाय उसके शरीर को बाहर फेंक देते हैं।

आप ऐसा हरगिज ना करें। अपनी बिल्ली के मरने के बाद यदि आप उसे शान्ति देना चाहते हैं तो उसका अंतिम संस्कार अच्छे से करें।

यदि आपके पास बिल्ली के अंतिम संस्कार के लिए पैसे नहीं हैं, तो आप उसके शरीर को अस्पताल में दे सकते हैं, जैसा हमने ऊपर बताया।

इसके अलावा भी बिल्ली के अंतिम संस्कार में ज्यादा खर्चा नहीं आता है। आप अपने परिवार की मदद से ऐसा कर सकते हैं।

सम्बंधित लेख:

  1. बिल्ली का रोना

About the author

विकास सिंह

विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

11 Comments

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!