दा इंडियन वायर » विदेश » बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमन्त्री खालिदा जिया की सजा हुई दोगुनी, अब 17 साल की होगी जेल
विदेश

बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमन्त्री खालिदा जिया की सजा हुई दोगुनी, अब 17 साल की होगी जेल

बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया को स्थानीय अदालत ने भ्रष्टाचार के मुक़दमे में सजा पांच साल से बढ़ाकर 10 साल कर दी है। इससे पहले पूर्व प्रधानमंत्री को अदालत ने घूस लेने के आरोप में 7 साल की कैद की सज़ा सुनाई थी

खालिदा जिया बांग्लादेश की बांग्लादेश नेशनल पार्टी की अध्यक्ष है और दो दफा प्रधानमंत्री का कार्यभार संभाल चुकी हैं। हालांकि पूर्व प्रधानमंत्री की कुल कैद की सज़ा 17 वर्ष हो गयी है।

ढाका ट्रिब्यून नें बताया कि भ्रष्टाचार रोधी परिषद् ने अनाथालय ट्रस्ट घोटाले में खालिदा जिया की सज़ा के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दायर की थी। उच्च न्यायलय के दो जजों की पीठ ने खालिदा जिया की सजा को सुनवाई के बाद बढाने का फैसला सुनाया था।

वकील खुर्शीद आलम ने बताया कि अदालत के फैसले के मुताबिक खालिदा जिया आगामी चुनावों में खड़ी नहीं हो पाएंगी। क्योंकि संविधान के मुताबिक किसी नेता पर चल रही कानूनी प्रक्रिया में सज़ा पूर्ण नहीं हो जाती या रिहाई नहीं हो जाती, तब तक वह नेता चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य होता है।

ढाका की एक अदालत ने 8 फ़रवरी को अनाथालय मामले में 5 साल की कैद की सज़ा सुनाई थी। साथ ही उनके बेटे तारिक रहमान व अन्य चार नेताओं को विपक्षी दल की रैली में हमले के जुर्म में 10 वर्ष की सजा सुनाई गयी थी।

खालिदा जिया को 6 अक्टूबर को बख्बंदु शेख मुजीब मेडिकल यूनिवर्सिटी के अस्पताल में ले जाया गया था, जहां अभी भी इलाज़ हो रहा है।

पूर्व प्रधानमंत्री के दल बीएनपी ने साल 2014 में चुनावों का बहिष्कार किया था। हालांकि चुनाव में अयोग्य होने के कारण दिसम्बर में आयोजित चुनावों में खालिदा जिया खड़ी नहीं हो पाएंगी। क्या बांग्लादेश में भी विपक्ष कमजोर स्थिति में हैं।

About the author

कविता

कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!