दा इंडियन वायर » खानपान » प्रोटीन से भरपूर 10 खाद्य पदार्थ भोजन
खानपान स्वास्थ्य

प्रोटीन से भरपूर 10 खाद्य पदार्थ भोजन

चिकन प्रोटीन protein foods in hindi

ये तो आप सबको मालूम होगा कि प्रोटीन की वजह से ही हमारे शरीर को ताकत मिलती है। प्रोटीन ऑक्सिजन, हाइड्रोजन और नाइट्रोजन से बनने वाला तत्व है।

जो शरीर को बीमारियों से बचाने का काम करता है। प्रोटीन शरीर को अंदर और बाहर दोनों ओर से मजबूत बनाता है। प्रोटीन शरीर के विकास में मदद करता है।

इस लेख के जरिये हम 10 ऐसी भोजन खाद्य पदार्थों के बारे में चर्चा करेंगे, जिनमे प्रोटीन की मात्रा भरपूर होती है।

प्रोटीन से भरपूर भोजन (protein foods in hindi)

राजमा (protein in rajma in hindi)

प्रोटीन मात्रा : 6 ग्राम (प्रति 100 ग्राम)

राजमा में प्रोटीन

राजमा ना केवल स्वाद बल्कि सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद है। राजमा में प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। राजमा शाकाहारियों के लिए मीट के विकल्प के रुप में भी काम करता है।

राजमा पकाने में आसान भी है और प्रोटीन से भरपूर भी होता है। अपनी इच्छा के अनुसार आप राजमा को रोटी के साथ, चावल के साथ, सलाद में, या सूप में डालकर खा सकते हैं।

दाल (protein in dal in hindi)

प्रोटीन मात्रा – 6.8 ग्राम (प्रति 100 ग्राम)

दाल में प्रोटीन

दाल दुनिया भर में पसंद की जाती है। दाल में प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। कोई भी दाल हो जैसे अरहर, मूंग, मसूर, चना, उड़द सभी में प्रोटीन की उच्च मात्रा पाई जाती है। दालों को प्रोटीन का खजाना माना जाता है।

आप दाल को स्वादिष्ट सूप की शक्ल में या चावल के ऊपर डालकर प्याज़ और गाजर के साथ इस्तेमाल कर सकते हैं। प्रत्येक सर्विंग में 12 ग्राम प्रोटीन की एक भारी मात्रा होती है। (यह भी पढ़ें: चावल खाने के फायदे)

दूध या सोया दूध (protein in milk in hindi)

प्रोटीन मात्रा – 4 ग्राम (प्रति 100 ग्राम)

सोया दूध प्रोटीन

दूध प्रोटीन का एक बहुत अच्छा स्त्रोत है। अगर आपके शरीर में प्रोटीन की कमी है, तो दूध आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प हो सकता है। हर रोज एक गिलास गर्म दूध पीने से आप को प्रचुर मात्रा में प्रोटीन मिलता है। (दूध पीने के फायदे)

दूध को संतुलित आहार भी माना जाता है। सोया दूध भी प्रोटीन की कमी को पूरा करता है। अगर आप कम फैट वाला दूध पीना चाहते हैं तो सोया दूध आपके लिए फायदेमंद है। इससे वजन नियंत्रण में भी मदद मिलता है।

पनीर या टोफू (protein in paneer in hindi)

प्रोटीन मात्रा : 11 ग्राम (प्रति 100 ग्राम)

पनीर प्रोटीन

पनीर को नियमित रुप से खाने पर हमारे शरीर को पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन मिलता है। पनीर आप कच्चा भी खा सकते हैं या फिर इसका प्रयोग सब्जी बनाने या सैंडविच में भी किया जाता है।

साथ ही अनेक गुणों वाले टोफू में भी प्रोटीन होता है। टोफू को तल कर, बारबेक्यू सॉस के साथ बेक कर के या ग्रिल कर के प्रयोग किया जा सकता है।

आप इसे अपने पसंदीदा मेरिनेशन या मसालों में लपेट सकते हैं। दिल को मोह लेने वाले आहार तैयार करने के लिए सख्त या एक्सट्रा सख्त किस्म का टोफू चयन करना न भूलें।

मूंगफली का मक्खन (protein in peanut butter in hindi)

प्रोटीन मात्रा : 25 ग्राम (प्रति 100 ग्राम)

मूंगफली मक्खन प्रोटीन

मूंगफली के मक्खन में प्रोटीन की उच्च मात्रा पाई जाती है। यह स्वादिष्ट भी होता है और साथ ही पौष्टिक भी। मूंगफली के मक्खन में विटामिन बी- 6, पौटेशियम, फाइबर, मैग्नेशियम भी भरपूर मात्रा में होता है।

मूंगफली का मक्खन किसी तरह से हानि भी नहीं पहुंचाता। अगर आप नियमित रुप से इसका सेवन करते हैं, तो आपके शरीर में प्रोटीन के साथ-साथ अन्य पोषक तत्वों की भी कमी पूरी होती है। मूंगफली का मक्खन हमेशा ही एक अच्छा स्नैक माना जाता है।

अंडा (protein in egg in hindi)

प्रोटीन मात्रा – 13 ग्राम (प्रति 100 ग्राम)

अंडे खाने के फायदे

अंडा प्रोटीन का सबसे अच्छा स्त्रोत माना जाता है। अंडे को आप आपने डाइट में जरुर शामिल करें। जिनके शरीर में प्रोटीन की कमी होती है। ज्यादातर डॉक्टर्स वैसे रोगियों को अंडा खाने की सलाह देते हैं।

प्रोटीन का नाम आते ही किसी के भी दिमाग में सबसे पहले अंडे का ही नाम आता है।

अंडे में प्रोटीन के साथ और भी बहुत सारे पोषक तत्व होते हैं जो शरीर के लिए काफी फायदेमंद हैं। प्रोटीन अंडे की सफेद वाले हिस्से में होता है।

पालक (protein in spinach in hindi)

प्रोटीन मात्रा : 3 ग्राम (100 ग्राम)

पालक प्रोटीन

पालक को सबसे पौष्टिक सब्जियों में गिना जाता है। पालक प्रोटीन का एक अच्छा स्त्रोत है। पालक की चाहे सब्जियां बनाएं या पालक का जूस पीएं। सभी रुप में पालक शरीर में प्रोटीन पहुंचाने का काम करती है।

पालक में भी प्रोटीन के साथ- साथ बहुत सारे पोषक तत्व मौजूद होते हैं। पालक बच्चों और बड़ों के साथ- साथ गर्भवती महिला के लिए भी बहुत लाभकारी होता है। इससे गर्भ में पल रहे बच्चे को भी काफी फायदा होता है।

चिकन मीट (protein in chicken in hindi)

प्रोटीन मात्रा – 25 ग्राम (प्रति 100 ग्राम)

चिकन प्रोटीन

मांसाहारी लोगों के पास चिकन भी प्रोटीन का एक अच्छा विकल्प होता है। चिकन में उच्च मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। जो आपके शरीर के लिए बहुत ही लाभकारी होता है।

प्रोटीन हमारे शरीर के विकास के साथ- साथ मसल्स के लिए भी बहुत जरुरी होता है। यूनाइटेड स्‍टेट डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्‍चर (यूएसडीए) प्रोटीन के आरडीए के अनुसार, आपको अपने शरीर के वजन के हिसाब से प्रतिदिन 0.8 ग्राम प्रोटीन की जरूरत होती है।

उदाहरण के लिए, यदि आपका वजन 60 किलों है तो आपको 48 ग्राम (60 X 0.8) प्रोटीन प्रति दिन जरुरत पडे़गी।

गेहूं का आटा (protein in wheat in hindi)

प्रोटीन मात्रा – 14 ग्राम (प्रति 100 ग्राम)

गेंहू का आटा

गेहूं के आटे में स्वास्थ्यवर्धक प्रोटीन होता है। जिससे आप रोज़ अपने खाने में खा सकते हैं। दुनिया भार में सबसे ज्यादा प्रोटीन की कमी गेहूं से ही पूरी की जाती है।

गेहूं में ग्लूटेन नामक प्रोटीन पाया जाता है। दो रोटी जिससे आपके शरीर को 5.2 ग्राम प्रोटीन मिलेगा। ये जरुर नहीं कि गेहूं को सिर्फ रोटी के रुप में ही खाया जाए। गेहूं से मिलने वाले प्रोटीन के लिए आप गेहूं से बने बिस्किट या ब्रेड का भी उपयोग कर सकते हैं।

बीज (protein in seeds in hindi)

प्रोटीन मात्रा – 21 ग्राम (100 ग्राम)

सूरजमुखी बीज

सूरजमुखी, तिल और कद्दू आदि के बीजों में प्रोटीन, आयरन और ओमेगा 3 फैट्टी एसिड भरपूर मात्रा में होते हैं। आप दलिये या सीरियल में कुछ कटे हुए फल के साथ-साथ कुछ बीज भी छिड़क सकती हैं।

आप विभिन्न तरह के फल, मेवे और बीज मिलाकर अपने लिए पौष्टिक स्नैक भी तैयार कर सकती हैं। खासतौर पर सूरजमुखी के बीज में प्रोटीन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। इसे खाने से हमारे शरीर में प्रोटीन की पूर्ति होती है।

About the author

पंकज सिंह चौहान

पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

10 Comments

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!