Sun. Apr 21st, 2024
    पेट्टा, विश्वासम बॉक्स ऑफिस कलेक्शन, डे 1, रजनीकांत, थाला अजीत

    एक्शन फिल्म ‘पेट्टा’ पिछले शुक्रवार को फेस्टिव पोंगल वीकेंड के लिए रिलीज़ हुई थी, जिसने वीकेंड पर 35.50 करोड़ की कमाई की है जबकि जबकि अजीत की फ़िल्म विश्वासम ने 33.50 करोड़ रूपये की कमाई की है।

    “शुरुआती पोंगल सप्ताहांत के रुझान बताते हैं कि दोनों फ़िल्में ‘पेट्टा’ और ‘विश्वसम’ सही मायने में हिट हैं। अब देखना यह है कि छुट्टियों के बाद यह फ़िल्में क्या कमाल दिखा पाती हैं।

    तमिलनाडु में प्रदर्शन के दूसरे दिन के अंत तक, ‘पेट्टा’ शहरी क्षेत्रों और मल्टीप्लेक्सों में अग्रणी था, जबकि सिंगल और डबल स्क्रीन के प्रभुत्व वाले अर्ध-शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में ‘विस्वासम’ आगे था। हालांकि, दोनों फिल्मों को हिट के रूप में वर्गीकृत किया जा सकता है।

    बॉक्स ऑफिस की लड़ाई और तेज हो गई क्योंकि अजीत और रजनीकांत दोनों के ही प्रशंसक सिनेमाघरों में पहुंच रहे हैं।

    ट्रेड एनालिस्ट रमेश बाला के मुताबिक, ‘विश्वासम’ ने ‘पेट्टा’ की तुलना में घरेलू बॉक्स ऑफिस पर ज्यादा पैसा कमाया है।दूसरी ओर, पेट्टा अंतरराष्ट्रीय बॉक्स ऑफिस पर हावी है।

    ‘विश्वासम’ ने परिवार के साथ आए दर्शकों को प्रभावित किया है और ‘पेट्टा’ की तुलना में इसके पास अधिक स्क्रीन भी हैं इन्ही कारणों से फ़िल्म ‘पेट्टा’ के आगे है।

    हालांकि, विदेशी बाजार पर सुपरस्टार रजनीकांत पर हावी हो रहे हैं।

    सुपरस्टार रजनीकांत की नवीनतम फिल्म ‘पेट्टा'( Petta ) जो कार्तिक सु्बाराज के द्वारा निर्देशित की गई है निस्संदेह 2019 के सबसे प्रत्याशित फिल्मों में से एक है। फ़िल्म में नवाजुद्दीन सिद्दीकी, तृषा, सिमरन और विजय सेथुूपाथी  प्रमुख भूमिकाओं में।

    रजनीकांत-स्टारर पेट्टा’ दर्शकों को लुभाने के लिए पूरी तरह तैयार है। फ़िल्म आज ही सिनेमाघरों में आई है।

    फिल्म  की कहानी रजनीकांत के किरदार काली के इर्द-गिर्द बुनी गई है जो हॉस्टल वार्डन है। फिल्म में, एक दिलचस्प मोड़ तब आता है जब काली का रास्ता खूंखार बदमाशों के एक समूह के नज़दीक से होकर जाता है।

    वहीं दूसरी तरफ दक्षिण भारतीय फ़िल्म समीक्षक रमेश बाला ने ‘विस्वासम’ फ़िल्म को 4 सितारे देते हुए कहा कि, “एक शब्द की समीक्षा, ब्लाकबस्टर।”

    यह भी पढ़ें: अपनी भद्दी लिप सर्जरी की वजह से ट्रोल हुई सारा खान, जानिये क्या दिया जवाब

    By साक्षी सिंह

    Writer, Theatre Artist and Bellydancer

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *