Sat. Apr 13th, 2024
    मंटो के पाकिस्तान में ना रिलीज़ होने पर नंदिता दास ने जताई निराशा

    भारतीय अभिनेत्री और निर्देशक नंदिता दास ने अपनी फिल्म “मंटो”, पाकिस्तान में रिलीज़ ना होने पर निराशा जताई है। लेखक सादत हसन मंटो की ज़िन्दगी पर आधारित इस फिल्म पर नंदिता ने ट्वीट कर लिखा-“मैं निराश हूँ कि पाकिस्तान में सिनेमाघरों में ‘मंटो’ नहीं दिखाई जाएगी। मैं बहुत उत्सुक थी क्योंकि मंटो दोनों देशों से ताल्लुक रखते थे।”

    नंदिता दास ने उस आर्टिकल का लिंक भी साझा किया था जिसमे उन्होंने फिल्म के रिलीज़ ना होने का कारण बताया था। उन्होंने लिखा था-“मुझे अभी खबर मिली है कि वहाँ के सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म को पास नहीं किया है। इसकी वजह उन्होंने बताई कि इस फिल्म में विभाजन के वक़्त ऐसे दृश्य दिखाए हैं जो पाकिस्तान के मानदंडों के खिलाफ हैं। जबसे छह साल से मैं इस फिल्म में काम कर रही थी, ना केवल उनका परिवार बल्कि पाकिस्तान से भी कई लोग इस फिल्म का बेसब्री से इंतज़ार कर रहे थे। इसलिए जब यह स्पष्टीकरण, स्वतंत्रता के बचाव में है तो ये उन लोगो के लिए भी है।”

    “मंटो” जिसका निर्माण, एचपी स्टूडियोज, फिल्मस्टॉक और वायकॉम18 मोशन पिक्चरस ने मिल कर किया है, इकलौती ऐसी भारतीय फिल्म थी जो 71वे कांन्स फिल्म फेस्टिवल में कुछ निश्चित श्रेणी में दिखाई गयी थी। इस साल भारत में ये फिल्म सितम्बर में रिलीज़ हुई है।

    नंदिता ने कहा-“मंटो को 70 साल पहले अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए लड़ना पड़ा था और आज भी हम में से कई ऐसा ही कर रहे हैं।”  नंदिता को इससे पहले, ‘पृथ्वी’ और ‘बवंडर’ जैसी फिल्मों के लिए सराहा भी जा चुका है।

    इस फिल्म में नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी और रसिका दुग्गल ने मुख्य भूमिका निभाई थी।

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *