Tue. Jan 31st, 2023
    सत्येंद्र जैन सीबीआई

    केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो(सीबीआई) ने आज सुबह दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन के घर की तलाशी ली। पीडब्लूडी विभाग के क्रिएटिव टीम के लिए 24 अभियंताओं की नियुक्ति दिल्ली सरकार द्वारा की गयी थी।

    क्रिएटिव टीम में अभियंताओं की नियुक्ति और मंत्री जैन के बीच संबंधो के जांच के लिए यह तलाशी ली गयी है।

    सीबीआई द्वारा करायी जा रही तलाशी के बारेमें सत्येन्द्र जैन ने ट्विटर के माध्यम से सूचना दी। उन्होंने बताया सभी 24 अभियंताओं को काम छोड़ने को कहा गया हैं।

    सीबीआई के अनुसार मंत्री सत्येन्द्र जैन के सरकारी आवास सहित अन्य पांच ठिकानों की छानबीन की जाएगी। सीबीआई द्वारा सत्येन्द्र जैन के खिलाफ अभियंताओं की नियुक्ति में धांधली करने के आरोप में नया केस दर्ज किया गया हैं। सीबीआई के जारी बयान के अनुसार मोहल्ला क्लिनिक और अन्य पीडब्लूडी विभाग के कामों के लिए इन 24 अभियंताओं की नियुक्ति पारदर्शक रूप से नहीं की गयी हैं।

    आपको बतादे, आज की सीबीआई जांच, दिल्ली सरकार में मंत्री सत्येन्द्र जैन के बेटी सौम्या जैन को मोहल्ला क्लिनिक प्रोजेक्ट में स्टेट ऐडवैजर के रूप में नियुक्ति किये जाने के बाद हुई हैं। लेकिन आज ली गयी तलाशी में सीबीआई, सौम्या जैन के खिलाफ कोई भी सबूत जुटाने में असफल रही हैं।

    सीबीआई की रेड के तुरंत बाद, सीबीआई की जांच पर सवाल उठाते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने ट्विटर पर लिखा, “पीएम मोदी क्या चाहते हैं?”

    अब तक कई आम आदमी पार्टी के नेताओं को केंद्र सरकार ने सीबीआई जे जांच में फसाया हैं, जिसके चलते दिल्ली की जनता ध्यान (दिल्ली)सरकार द्वारा किये गए अच्छे कामों से हट रहा हैं, ऐसा आरोप आम आदमी पार्टी के ओर से लगाया गया हैं।

    दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, “छह महीने पहले सीबीआई ने मेरे घर की भी तलाशी ली थी, उस समय हम शिक्षा, बिजली जैसी बुनियादी समस्याओं पर काम कर रहे थे। लेकिन उस रेड में सीबीआई के हाथो सिर्फ निरशा लगी। यह सिर्फ सरकार द्वारा किये गए विकास कार्यों से जनता का ध्यान हटाने के लिए किया जा रहा हैं।”

    By प्रशांत पंद्री

    प्रशांत, पुणे विश्वविद्यालय में बीबीए(कंप्यूटर एप्लीकेशन्स) के तृतीय वर्ष के छात्र हैं। वे अन्तर्राष्ट्रीय राजनीती, रक्षा और प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेज में रूचि रखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *