शुक्रवार, जनवरी 24, 2020

तिल का तेल और लौंग के फायदे और विधि

Must Read

जम्मू-कश्मीर : जैश-ए-मोहम्मद का आतंकवादी अबु सैफुल्ला ढेर

दक्षिण कश्मीर में बुधवार को एक मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी को मार गिराया गया। आतंकवादी की पहचान...

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने लगाया आरोप, दिल्ली में हिंसा आप और कांग्रेस की शह पर हुई

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के दिल्ली प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि राष्ट्रीय...

बिहार : सीएम नीतीश कुमार ने पवन वर्मा के पत्र को लेकर जताई नाराजगी कहा, ईमेल से भेजे पत्र का कोई महत्व नहीं

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को अपनी ही पार्टी के वरिष्ठ नेता पवन वर्मा द्वारा भेजे गए...
पंकज सिंह चौहान
पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

तिल का तेल और लौंग का इस्तेमाल लोग कई कारणों से किया जाता है। इस मिश्रण का इस्तेमाल मालिश करने, जोड़ों के दर्द और मुंह की सफाई आदि के लिए भी किया जाता है।

तिल का तेल तिल के बीजों की मदद से बनाया जाता है। तिल एक बहुत ही बेहतरीन सामग्री है, जिसका इस्तेमाल खाने में एवं त्वचा से सम्बंधित कई कारणों के लिए किया जाता है।

वहीँ, लौंग को एक जबरदस्त औषधि के रूप में जाना जाता है। लौंग को रसोई में, सौंदर्य पदार्थों में और कई बीमारियों में किया जाता है। लौंग के तेल का इस्तेमाल भी कई कार्यों के लिए किया जाता है।

इस लेख में हम तिल का तेल और लौंग को साथ लेने से होने वाले फायदों के बारे में बात करेंगे।

तिल का तेल और लौंग के फायदे

  • तिल का तेल और लौंग संक्रमण दूर करे

लौंग का इस्तेमाल काफी समय से संक्रमण और कीटाणुओं को दूर करने में किया जाता है। इसका इस्तेमाल कटे पर, छीलने पर, कीड़ा काटने पर और सूजन आदि पर किया जाता है।

यदि आप किसी प्रकार के संक्रमण से पीड़ित हैं, तो तिल के तेल को लौंग के साथ लें। आप लौंग के तेल को तिल के साथ मिला कर प्रभावित जगह पर लगा सकते हैं।

ध्यान रखें: यदि आपकी त्वचा सेंसिटिव है, तो आप लौंग का इस्तेमाल ना करें। इससे त्वचा में लाल निशान पड़ सकते हैं और सूजन आ सकता है।

  • तिल का तेल और लौंग कान के दर्द को दूर करे

कान का दर्द कई कारणों से हो सकता है। यदि आपको सिरदर्द या जुकाम जैसी बिमारी होती रहती है, तो आपको कान का दर्द जरूर हुआ होगा। ऐसे में आप लौंग के तेल का इस्तेमाल करें।

इसके लिए 2 चम्मच तिल का तेल और 3-4 बूँद लौंग के तेल की मिलाएं और इसे थोड़ा गर्म करें। इस मिश्रण को धीरे-धीरे कान में लगाएं और थोड़ी देर के लिए रहने दें। इससे आपको तुरंत आराम मिलेगा।

  • मुहांसे दूर करने में मदद करे

लौंग के तेल का इस्तेमाल त्वचा पर हुई फुंसी और मुहांसे को दूर करने के लिए किया जा सकता है। इसके साथ आप तिल का तेल मिला कर इस्तेमाल कर सकते हैं।

बाजार में जो फुंसी हटाने की क्रीम उपलब्ध होती हैं, उनमें बहुत से रसायन मौजूद होते हैं। इसी कारण आपको प्राकृतिक चीजों का इस्तेमाल करना चाहिए।

लौंग में ऐसे गुण होते हैं, जो आपकी त्वचा के भीतर मौजूद कीटाणुओं को साफ़ करता है, जिससे त्वचा साफ़ होती है और दाग-धब्बे दूर होते हैं।

कैसे इस्तेमाल करें?

आपकी निर्धारित क्रीम या लोशन में कुछ बूंदें लौंग के तेल की डालें और इसका इस्तेमाल करें। आप सिर्फ लौंग को पीसकर भी लगा सकते हैं।

  • तिल का तेल झाइयाँ दूर करें

तिल के तेल को लौंग के तेल में मिलाकर इस्तेमाल करने से चेहरे और त्वचा की झाइयां दूर हो जाती हैं। अकसर गर्भावस्था में चेहरे पर झाइयां हो जाती हैं, जिसके लिए आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसके लिए थोड़ा सा तिल का तेल लें। इसमें आप कुछ बूंदें नींबू की डालें। अब आप इससे निर्धारित जगह की मालिश करें। इससे ख़राब कोशिकाएं साफ़ होंगी और चमकदार त्वचा बनेगी।

  • लौंग बालों के झड़ने को रोके

यदि आप बाल झड़ने के उपाय ढूंढ रहे हैं, तो आपको लौंग के तेल का इस्तेमाल करना चाहिए। लौंग का तेल बालों को मजबूत बनाता है और बालों का झड़ना रोकता है।

लौंग का तेल बालों के गंजेपन की समस्या से भी राहत दिलाता है। इसे उन जगहों पर लगाएं जहाँ आपके बाल गिर रहे हैं।

लौंग का तेल खोपड़ी में मौजूद रक्त के प्रवाह को तेज करता है, जिससे बाल मजबूत बनते हैं।

  • तिल का तेल और लौंग दांतों के लिए

यदि आप दांत के दर्द से गुजर रहे हैं, तो डॉक्टर अकसर तिल का तेल इस्तेमाल करने के लिए कहते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि जब आप दांत का इलाज कराते हैं, तब दर्द से बचने में तिल का तेल मददगार साबित होता है।

दांतों के दर्द के लिए लौंग का इस्तेमाल भी किया जाता है। आप सीधे लौंग को चबा सकते हैं, या शहद के साथ इसका सेवन कर सकते हैं।

तिल के तेल और लौंग में ऐसे प्राकृतिक गुण होते हैं, जो दर्द को भीतर से दूर करते हैं।

दांतों में किसी भी प्रकार की समस्या के लिए तिल के तेल को मुंह में डालें और इससे कुछ देर के लिए कुल्ला करें।

- Advertisement -

3 टिप्पणी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

जम्मू-कश्मीर : जैश-ए-मोहम्मद का आतंकवादी अबु सैफुल्ला ढेर

दक्षिण कश्मीर में बुधवार को एक मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी को मार गिराया गया। आतंकवादी की पहचान...

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने लगाया आरोप, दिल्ली में हिंसा आप और कांग्रेस की शह पर हुई

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के दिल्ली प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में आंदोलन को हवा...

बिहार : सीएम नीतीश कुमार ने पवन वर्मा के पत्र को लेकर जताई नाराजगी कहा, ईमेल से भेजे पत्र का कोई महत्व नहीं

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को अपनी ही पार्टी के वरिष्ठ नेता पवन वर्मा द्वारा भेजे गए एक पत्र को लेकर नाराजगी...

अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबंधों के कारण ठप हुई पाकिस्तान-ईरान गैस पाइपलाइन परियोजना

पाकिस्तानी संसद के उच्च सदन सीनेट में सरकार ने बताया कि ईरान पर लगे अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबंधों के कारण पाकिस्तान-ईरान गैस पाइपलाइन परियोजना का काम...

पाकिस्तान : ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल की भ्रष्टाचार पर रिपोर्ट को विपक्ष ने बताया इमरान सरकार के खिलाफ चार्टशीट

पाकिस्तान में विपक्षी दलों ने भ्रष्टाचार पर निगाह रखने वाली वैश्विक संस्था ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल के भ्रष्टाचार सूचकांक में पाकिस्तान की स्थिति और खराब होने...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -