दा इंडियन वायर » खानपान » टमाटर के फायदे, नुकसान, उपयोग
खानपान

टमाटर के फायदे, नुकसान, उपयोग

टमाटर के फायदे

टमाटर से बना हुआ सलाद और सब्ज़ी दोनों ही अत्यंत स्वादिष्ट लगते हैं। टमाटर का प्रयोग न सिर्फ़ स्वाद लेने के लिए किया जाता है बल्कि इसका प्रयोग अनेक फ़ायदे के लिए भी किया जाता है।

चूंकि टमाटर अनेक पोषक तत्वों से भरपूर होता है अतः यह हमारे स्वास्थ्य के लिए अत्यंत लाभदायक होता है।

इस लेख में हम टमाटर के फ़ायदों के विषय में चर्चा करेंगे।

आइए सबसे पहले देखते हैं कि टमाटर में कौन कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं।

टमाटर में मौजूद पोषक तत्व

  1. पोटेशियम 237 मिलीग्राम
  2. सोडियम 5 मिलीग्राम
  3. कलेस्टरॉल 0 मिलीग्राम
  4. ऊर्जा 18 कैलोरीज
  5. शुगर 2.6 ग्राम
  6. फास्फोरस 24 मिलीग्राम
  7. मैग्नीशियम 11 मिलीग्राम
  8. बायोटिन 24%
  9. आयरन 0.3 मिलीग्राम
  10. विटामिन E 0.54 मिलीग्राम
  11. विटामिन A 8%
  12. विटामिन B3 7%
  13. कॉपर 12%
  14. ज़िंक 0.17 मिलीग्राम
  15. फ़ाइबर 9% (1.2 ग्राम)
  16. विटामिन K 16%

टमाटर के फायदे

1. टमाटर बालों के लिए

अगर आपके बाल तेज़ी से झड़ रहे हो तो टमाटर का रस और गूदा लगाने से आपको इस समस्या से निजात मिल सकती है।

टमाटर को अच्छे से पीस लें और फिर इस पिसे हुए टमाटर को अपने बालों की जड़ों में लगाएं। बीस मिनट तक बालों को यूँ ही छोड़ दें और फिर उसे धो लें। हफ़्ते में तीन बार ऐसा करने से आपको काफ़ी लाभ हो सकता है।

टमाटर न सिर्फ़ बालों को झड़ने से रोकने में सहायक है बल्कि यह रूखे बेजान बालों के लिए भी काफ़ी लाभकारी है।

टमाटर को पीसकर उसका रस निकाल लें और उसे नारियल के तेल में डालकर अच्छे से मिलाएँ। इस मिश्रण को अपने बालों पर लगाएं और बीस मिनट के लिए इसे यूँही छोड़ दें। उसके बाद बालों को कोल्ड अर्थात सामान्य पानी से धो लें। यह बालों को नमी देता है जिससे कि बाल रूखे और बेजान नहीं नज़र आते हैं।

अगर आपके बालों का कलर बदल रहा हो या आपको रूसी की समस्या हो रही हो तो टमाटर आपके लिए काम कर सकता है।

टमाटर का जूस निकाल लें और उसे अपने बालों पर लगाएं। बीस मिनट तक अपने बालों को यूँ ही छोड़ दें और फिर सामान्य पानी से धो लें। इसके बाद आप बालों में शैंपू और कंडिशनर भी कर सकते हैं।

अगर आपके बालों की जड़ें ड्राई हो रही हों और उनमें खुजली हो रही हो तो आपको जड़ों में टमाटर लगाना चाहिए।

दो-तीन पके हुए टमाटर लें और उनको अच्छे से पीस कर उनका पेस्ट बना लें। अब इसमें दो टेबलस्पून नीबू का रस मिलाएँ और इसे अपने बालों पर धीरे धीरे अप्लाई करें।

एक बात का ख़याल रखें कि ये पैक आपकी जड़ों के लिए है तो पूरे बालों में लगाने के साथ साथ जड़ों में इसे आवश्यक रूप से लगाएँ। इसके बाद इस पैक को बीस मिनट तक अपने बालों में यूँ ही छोड़ दें और फिर इसे ठंडे पानी से धो दें।

अगर आप केमिकलयुक्त कंडीशनर नहीं यूज़ करना चाहते हैं तो आप अपने बालों को कंडिशनर करने के लिए टमाटर का प्रयोग कर सकते हैं।

टमाटर के तेल की दो से तीन बूंदें लें। अब इन्हें अपने बालों पर लगाएं। यह न सिर्फ़ बालों को कंडीशनर करेगा बल्कि उन्हें फ़्रिज़ी होने से भी बचाएगा। आपके बाल काफ़ी हद तक स्ट्रेट भी नज़र आएंगे।

2. टमाटर प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए

टमाटर के बीज और इसका गूदा हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए बहुत अहम होता है।

जैसा कि टमाटर विटामिन B3 और विटामिन B6 से भरपूर होता है अतः यह शरीर की वाइरल, बैक्टीरियल और फंगल इन्फ़ेक्शन से रक्षा करता है।

टमाटर के बीजों में एंटीऑक्सीडेंट लाइकोपीन और बीटा कैरोटीन की प्रचुर मात्रा पाई जाती है। इस तरह यह हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को मज़बूत करता है।

यह न सिर्फ़ सामान्य जुकाम या बुखार से शरीर की रक्षा करता है बल्कि अनेक बड़े रोगों से भी हमें बचाता है।

3. टमाटर कोलेस्ट्रोल कम करे

रक्त में कलेस्टरॉल की मात्रा बढ़ जाने से हृदय रोग होने की संभावना बढ़ जाती है अतः रक्त में कलेस्टरॉल की संतुलित मात्रा ही होनी चाहिए।

जैसा कि हम जानते हैं कि टमाटर के बीज में कोलेस्ट्राल नहीं पाया जाता है। इस तरह टमाटर का सेवन करने से हमें कोलेस्ट्राल की समस्या नहीं होती है।

इतना ही नहीं टमाटर में फ़ाइबर की प्रचुर मात्रा पाई जाती है जो कि शरीर में मौजूद हानिकारक कलेस्टरॉल को कम करता है। टमाटर में मौजूद नियासिन भी कलेस्टरॉल को कम करने में सहायक है।

4. टमाटर करे फ़्री रेडिकल से बचाव

टमाटर एक एंटीऑक्सिडेंट की तरह कार्य करते हुए रक्त में फ़्री रेडिकल्स को बढ़ने नहीं देता है। इस तरह रक्त में मौजूद हीमोग्लोबिन का क्षरण नहीं होता है और शरीर में हीमोग्लोबीन की कमी भी नहीं होती है।

हम जानते हैं कि अगर शरीर में हीमोग्लोबीन की कमी हो जाए तो हमें अनेक घातक रोग हो सकते हैं। इन रोगों की संभावनाओं को कम करने के लिए हमें टमाटर का सेवन करना चाहिए।

5. टमाटर उच्च रक्तचाप को कम करने में

टमाटर में पोटैशियम व अनेक मिनरल्स पाए जाते हैं। हम जानते हैं कि रक्तचाप को नियमित रखने के लिए पोटेशियम अत्यंत आवश्यक होता है तो यदि आपको उच्च रक्तचाप और हाई कलेस्टरॉल की समस्या है तो आपको टमाटर का सेवन करना चाहिए।

6. टमाटर कोशिकाओं की मरम्मत करे

कोशिकाओं को विकास करने और मरम्मत करने के लिए प्रोटीन की आवश्यकता होती है। शरीर में प्रोटीन की प्रचुर मात्रा होना अत्यंत आवश्यक होता है अन्यथा शरीर विकसित नहीं हो पाता है।

कहते हैं कि मनुष्य का शरीर प्रतिदिन विकास की ओर बढ़ता है। इस प्रकार मनुष्यों में नई कोशिकाओं का भी जन्म होता है और पुरानी कोशिकाओं की मरम्मत होती है।

अगर शरीर में प्रोटीन की प्रचुर मात्रा ना हो तो यह विकास संभव नहीं है अतः हमें शरीर में प्रोटीन का स्तर संतुलित होना आवश्यक है।

टमाटर में प्रोटीन की एक बड़ी मात्रा पाई जाती है तो अगर आप अपने शरीर में प्रोटीन का स्तर मेंटेन करना चाहते हैं तो आपको टमाटरों का सेवन करना चाहिए।

7. टमाटर से मिले आँखों की समस्याओं से राहत

टमाटर का प्रयोग करने से आँखों की समस्याओ से छुटकारा पाया जा सकता है।

हमारी आँखों के लिए विटामिन ए, विटामिन बी काम्प्लेक्स, नियासिन आदि की आवश्यकता होती है। इन सभी तत्वों की टमाटर में प्रचुर मात्रा पाई जाती है।

इस प्रकार टमाटर का सेवन करके हम अपने शरीर में इन तत्वों का स्तर संतुलित कर सकते हैं।

8. टमाटर कैन्सर से लड़े

टमाटर एंटीऑक्सीडेंट गुण से परिपूर्ण होता है। यह ना सिर्फ़ रक्त में फ़्री रेडिकल्स की समस्या से छुटकारा देता है बल्कि कोशिकाओं को भी अनियंत्रित होकर विभाजित होने से रोकता है।

टमाटर का सेवन करके हम फेफड़ों, कोलोन, ब्रेस्ट व अन्य प्रकार के कैन्सर से बच सकते हैं।

9. टमाटर हृदय के लिए

टमाटर हमारे शरीर को प्रचुर मात्रा में पोटैशियम उपलब्ध कराता है। पोटैशियम शरीर का रक्तचाप नियंत्रित रखने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

जब हमारा रक्तचाप नियंत्रित रहता है तो हृदय को आवश्यकता से अधिक कार्य नहीं करना पड़ता है। इस तरह हृदयाघात या हार्ट स्टॉक से शरीर की रक्षा होती है।

10. टमाटर के फायदे चेहरे पर

त्वचा की निखार और दाग़ धब्बे मिटाने के लिए टमाटर अत्यंत उपयोगी होता है। टमाटर को उसकी एंटीऑक्सीडेंट गुणों के कारण प्राकृतिक ब्लीच भी कहते हैं।

यदि आपकी त्वचा धूप के कारण टैन हो रही हो तो आपको टमाटर से बना हुआ फ़ेस पैक इस्तेमाल करना चाहिए।

एक टेबलस्पून दही, दो टेबलस्पून टमाटर का गूदा और एक टेबलस्पून ओटमील को एक साथ मिला लें। अब इस पैक को अपने चेहरे और गर्दन पर लगाएं।

इसे बीस मिनट के लिए छोड़ दें और उसके बाद इसे धीरे धीरे हल्के हाथों से मसाज करते हुए छोड़ दें और फिर इसे सामान्य पानी से धो लें। यह त्वचा से दाग़ धब्बे मिटा देता है।

इतना ही नहीं टमाटर हमारी त्वचा की डेड सेल्स को ख़त्म करने में भी सहायक होता है।

टमाटर को एक मिक्सर में अच्छी से पीस लें। इसमें एक टेबलस्पून शक्कर डालें। इस पैक को आप अपने चेहरे व हाथ पैरों पर लगाकर मसाज कर सकते हैं।

अगर आपको सनबर्न हो रहा हो तो टमाटर और दही एक साथ लगाने से इससे छुटकारा पाया जा सकता है।

एक टेबलस्पून दही और दो टेबल्स्पून टमाटर का गूदा एक साथ मिला लें। इसे अपने चेहरे और गर्दन पर लगाएं। यह न सिर्फ़ सनबर्न ख़त्म करेगा बल्कि आगे भी सनबर्न से बचाएगा।

11. टमाटर पेट में कीड़े होने पर

अगर आपके पेट में कीड़े हो रहे हों तो ख़ाली पेट टमाटर खाने से इस समस्या से निजात मिलती है।

टमाटर में पिसी काली मिर्च लगाएं और उसका ख़ाली पेट सेवन करें। आप चाहें तो टमाटर के रस में हींग का तड़का लगाकर उसे पी भी सकते हैं। ये दोनों ही पेट में कीड़े मारने के लिए उपयुक्त हैं।

12. टमाटर हड्डियों के लिए

टमाटर में कैल्सीयम, फास्फोरस व लाइकोपीन प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। ये तत्व हड्डियों को मज़बूत बनाने में सहायता करते हैं।

एक शोध में यह बात सामने आयी है कि टमाटर के सेवन से ऑस्टियोपोरोसिस नामक रोग से छुटकारा मिलता है। टमाटर में मौजूद लाइकोपीन ऑस्टियोपोरोसिस की संभावनाओं को ख़त्म कर देता है।

13. टमाटर प्राकृतिक दर्द निवारक

जिन लोगों को गठिया, कमर दर्द, पीठ दर्द या शरीर के किसी अन्य भाग में दर्द होता है उन्हें टमाटर का सेवन करना चाहिए।

टमाटर में बायोफ्लेवोनाइड और कैरोटीन नामक तत्व पाए जाते हैं जो दर्द निवारक के नाम से जाने जाते हैं। ये दोनों तत्व शरीर को किसी भी प्रकार के दर्द से राहत देते हैं।

14. टमाटर लड़े पथरी के विरुद्ध

टमाटर के बारे में एक अजीब सा मिथ्या माना जाता है कि टमाटर के सेवन से पथरी की समस्या हो जाती है। यह बात पूरी तरह सही नहीं है।

एक शोध में यह बात सामने आयी है कि बिना बीज का टमाटर खाने से गुर्दे और पित्त की पथरी से छुटकारा मिलता है। जिन लोगों को पथरी की समस्या है उन्हें बिना बीज टमाटर खाना चाहिए।

15. टमाटर का उपयोग वज़न घटाने में

टमाटर में फ़ाइबर की प्रचुर मात्रा पाई जाती है जो पाचन क्रिया को सुदृढ़ करता है।

शरीर में बैड कलेस्टरॉल की मात्रा बढ़ जाने से वज़न तेज़ी से बढ़ने लगता है।इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए हमें टमाटर का सेवन करना चाहिए।

टमाटर में फ़ाइबर और पानी दोनों ही अत्यधिक मात्रा में पाये जाते हैं। टमाटर में पाए जाने वाले ये दोनों तत्व शरीर में पानी की कमी पूरा करते हैं और वज़न घटाते हैं।

टमाटर को सलाद के रूप में खाने से शरीर में बैड कलेस्टरॉल की मात्रा तेज़ी से घटने लगती है। इस तरह हमारा वज़न भी कम होने लगता है।

इस तरह हम देख सकते हैं कि टमाटर हमारे लिए कितना उपयोगी होता है। हमें अपने आहार में टमाटर को नियमित रूप से शामिल करना चाहिए।

टमाटर के नुकसान

एक बात जो आपको सदा ध्यान में रखनी चाहिए वो ये कि ऐलर्जी की सूरत में टमाटर नहीं खाना चाहिए। अगर आपको टमाटर खाने के बाद शरीर में किसी भी प्रकार का नकारात्मक बदलाव दिख रहा है तो फ़ौरन अपने डॉक्टर से मिलें। इतना ही नहीं आपको तुरंत टमाटर का सेवन बंद कर देना चाहिए।

वैसे ज़्यादातर मामलों में टमाटर के कोई दुष्प्रभाव नहीं होते हैं लेकिन अपवाद हर जगह होते हैं। अतः किसी भी चीज़ का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह ज़रूर लें।

इस लेख से सम्बंधित अपे सवाल या सुझाव आप नीचे कमेट में लिख सकते हैं।

About the author

नायला हाशमी

1 Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!

Want to work with us? Looking to share some feedback or suggestion? Have a business opportunity to discuss?

You can reach out to us at [email protected]