Wed. Apr 24th, 2024
    Chandrababu_Naidu_

    आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर उनको परेशान करने का आरोप लगाया और कहा कि उनकी गिरफ्तारी हो सकती हैं। एक चुनावी रैली में तेलगु देशम पार्टी के प्रमुख ने कहा कि वह कल या उसके अगले दिन गिरफ्तार हो सकते हैं। उनको जो करना हैं वह करे। मैं जेल जाने को भी तैयार हूं, मगर मैं डरने वाला नही।

    नायडू के करीबी राज्यसभा सांसद सीएम रमेश के कडपा जिला स्थित घर पर आय कर विभाग की छापेमारी पड़ने के कुछ घंटों बाद नायडू ने मोदी पर टीडीपी नेताओं के साथ पार्टी के उम्मीदवारों के लिए केंद्र एजेंसियों के दुरउपयोग करने के आरोप लगाए।

    पीडीपी कार्यकर्ताओं के यहां आय कर विभाग की छापेमारी करने के बाद नायडू अपने समर्थकों के साथ विजयवाडा में अंबेडकर के स्मारक के पास धरने पर बैठ गए हैं। उन्होंने कहा कि मोदी उनको परेशान इसलिए कर रहे हैं क्योकि उन्होंने राज्य के साथ हुए अन्याय के खिलाफ आवाज उठाई थी।

    विशाखापटनम में आयोजित के रैली में नायडू ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी आय कर विभाग, ईडी, सीबीआई, आरबीआई और अब चुनाव आयोग का विपक्षी पार्टियों के खिलाफ उपयोग कर के देश के लोकतंत्र का अपमान कर रहे हैं।

    नायडू ने चुनाव आयोग के चीफ सेक्ट्ररी अनिल चंद्ररा पर आरोप लगाते हुए कहा कि चुनाव आयोग पीएम मोदी के इशारों पर काम कर रहा है।

    उन्होंने कहा कि पहले चुनाव आयोग ने कलेक्टर का ट्रांस्फर किया और फिर डायर्कटर जरनल के साथ तीनों आईपीएस अधिकारियों को घुमाया। आज उन्होंने चीफ सेक्ट्ररी को हटा दिया बिना किसी कारण के। वह जैसा कर रहे हैं वह ठीक नही हैं। इनको स्वतंत्र रूप से कार्य करने देना चाहिए।

    उन्होंने आरोप लगाए कि यह सभी ट्रांसफर वाईएसआर कांग्रेस पार्टी की मद्द के लिए किए गए। उन्होंने आरोप लगाए कि मोदी, तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव और वाईएसआरसीपी के प्रमुख वाएस जगंमोहन रेड्डी मिलकर उनके खिलाफ साजिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग वाईएसआरसीपी के खिलाफ शिकायत दर्ज करने में विफल रही जिसमें फार्म 7 के दुरउपयोग कर 7 लाख वोटरों के नाम काटे गए थे।

    उन्होंने कहा कि उन्होंने अपने 40 वर्ष के राजनीतिक जीवन में कई चुनाव देखे हैं। जिसमे ईवीएम से छेडखानी की गई थी  और जब 22 पार्टियों ने वीवीपएटस की 50 प्रतिशत पर्चियों की दुबारा गिनती की मांग करने पर चुनाव आयोग ने साफ इंकार कर दिया था। चुनाव आयोग जोकि वाईएसआरसीपी की मदद के लिए सीएस, डीजी, एसपीस के ट्रांस्फर में विफल रहा था।

    चुनाव आयोग ने एल वी सुभ्राहमनियम को जोकि1983 बेच के आईएएस ऑफिसर है उनको चुनाव आयोग का चीफ सेक्ट्ररी नियुक्त किया है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *