सोमवार, फ़रवरी 17, 2020

ग्रीन कॉफी पीने के दुष्परिणाम

Must Read

डोनाल्ड ट्रम्प के दौरे की तैयारियां भारतियों की ‘गुलाम मानसिकता’ को दर्शाता है: शिवसेना

शिवसेना (Shivsena) ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की बहुप्रतीक्षित यात्रा की चल रही...

“अरविंद केजरीवाल को कभी आतंकवादी नहीं कहा”: प्रकाश जावड़ेकर

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने शुक्रवार को इस बात से इनकार किया कि उन्होंने कभी दिल्ली के...

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत नें नागरिकता क़ानून के खिलाफ विरोध में लिया भाग

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने शुक्रवार को मांग की कि केंद्र देश में शांति और सद्भाव...

वज़न घटाने के चक्कर में हम कई सारे नुस्के और उपकरण अपनाते हैं। हर रोज़ हम नए-नए नुस्कों को अपनाते हैं, लेकिन कभी इनसे खुश नहीं होते। यह इसलिए क्योंकि की शायद हम इन्हें उचित मात्रा से ज़्यादा या कम इस्तेमाल करते हैं। किसी भी चीज़ अगर सही तरीके से अपनाया जए, तो उसके फायदे हमें ज़रूर मिलते हैं।

आज-कल वज़न घटाने के लिए, लोग ग्रीन टी से, ग्रीन कॉफी पीने लगे हैं। ग्रीन टी और ग्रीन कॉफी के फायदों में ज़्यादा अंतर नहीं है। इसे बिना दूध और चीनी के पिया जाता है, जो हमारे चयापचय को बढ़ाता है और हमारे भूख पर रोक लगाता है। ये हमारे खून के बहाव को भी संतुलित रखता है, और शरीर के अतिरिक्त फैट को मार देता है।

लेकिन जैसा पहले बताया गया है, इसके फायदों के पीचे दौड़ते-दौड़ते, हम इसके दुष्परिणामों को नज़र अंदाज़ कर देते हैं, और उचित से ज़्यादा ही इसे पी लेते हैं। लेकिन उन तक पहुँचने से पहले, सबसे पहले निम्न, ग्रीन कॉफी के कुछ फायदे हैं।

ग्रीन कॉफी के फायदे

  1. ग्रीन कॉफी से हमारे शरीर रक्त चाप का उचित तरह से संतुलित रहता है।
  2. इससे, हमारा वज़न भी घटता है।

ग्रीन कॉफी के नुकसान (green coffee side effects)

ऐंठन

कई लोग एक-दो कप ग्रीन कॉफी पीने के बाद, पेट में ऐंठन की शिकायत करते हैं। इसके अलावा वे दस्त की भी शिकायत करते हैं। इसलिए अगर हमें ऐसी तक्लीफें होतीं हैं, तो हमें तुरंत ग्रीन कॉफी पीना बंद कर देना चाहिए। अगर हमने इसे फिर भी पीना चालू रखा, तो हमारे पेट से जुड़ी अन्य बीमारियों की तक्लीफ हमें होगी।

हीमोग्लोबिन की कमी

खाना खाने के तुरंत बाद ग्रीन कॉफी पीना, हमारे सेहत के लिए अच्छा नहीं होता है। इसके कारण हमारे शरीर को मिनरल्स और आइरन जैसे अन्य दूसरे तत्वों को ग्रहण करने में तक्लीफ होती है। इसलिए लोगों के शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी हो जाती है। इसी के वजह से, ग्रीन कॉफी को हमेशा खाना खाने के एक घंटा पहले पी लेना चाहिए, और दिन में सिर्फ एक ही कप पीना चाहिए।

कैफीन

ग्रीन कॉफी में बहुत कैफीन होता है। बहुत ज़्यादा कैफीन हमारे शरीर के लिए अच्छा साबित नहीं हुआ है, खासकर की उन लोगों के लिए जिन्हें मधुमेह जैसी बीमारियाँ हों।

इनके अलावा, ग्रीन कॉफी से हमारे शरीर को और भी नुक्सान हो सकते हैं। उनमें से कुछ, आपकी जानकारी और सुविधा के लिए, निम्न लिखे गए हैं।

ग्रीन कॉफी के अन्य दुष्परिणाम

  1. सिर का दर्द होना
  2. पेट गड़बड़ होना
  3. बेचैन-सा महसूस करना
  4. रात को समय पर नींद ना आना
  5. नींद की कमी
  6. हमारे कान बजना
  7. जी मिचलाना और उलटियाँ होना

ग्रीन कॉफी से जुड़ी कुछ चेतावनी

  1. सबसे पहले तो औरतों को गर्भावस्था में ग्रीन कॉफी नहीं पीन चाहिए। सुरक्षित रहने के लिए, ऐसा कदम उठाना ठीक रहता है।
  2. कैफीन में बहुत चीनी पाया जाता है। इसलिए, ग्रीन कॉफी मधुमेह के रोगियों को भी नहीं पीना चाहिए।
  3. ग्रीन कॉफी में कैफीन पाया जाता है। बहुत ज़्यादा कैफीन हमारा पेट खराब कर देता है, और हमें दस्त हो जाते हैं।
  4. कई बार ग्रीन कॉफी से इंसान का कोलेस्ट्रॉल भी बढ़ जाता है।

इसलिए यह बहुत ज़रूरी होता है कि हम ध्यान रख के किसी भी चीज़ को सही मात्रा में खाएँ या पीएँ – इस विषय में, ग्रीन कॉफी। किसी भी सिक्के के दो तरफ होते हैं। ये हम पर निर्भर है कि हमें उस चीज़ के फायदे ज़्यादा चाहिए, या नुकसांन। अगर हम सही तरीके से नुस्कों को अपनाया जाए, तो हमारे शरीर को नुकसान नहीं होता है।

यह लेख आपको कैसा लगा?

नीचे रेटिंग देकर हमें बताइये, ताकि इसे और बेहतर बनाया जा सके

औसत रेटिंग 4.7 / 5. कुल रेटिंग : 86

यदि यह लेख आपको पसंद आया,

सोशल मीडिया पर हमारे साथ जुड़ें

हमें खेद है की यह लेख आपको पसंद नहीं आया,

हमें इसे और बेहतर बनाने के लिए आपके सुझाव चाहिए

अगर आपका इस विषय में कोई भी सवाल या सुझाव हो, तो आप नीचे कमेंट कर सकते हैं।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

डोनाल्ड ट्रम्प के दौरे की तैयारियां भारतियों की ‘गुलाम मानसिकता’ को दर्शाता है: शिवसेना

शिवसेना (Shivsena) ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की बहुप्रतीक्षित यात्रा की चल रही...

“अरविंद केजरीवाल को कभी आतंकवादी नहीं कहा”: प्रकाश जावड़ेकर

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने शुक्रवार को इस बात से इनकार किया कि उन्होंने कभी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal)...

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत नें नागरिकता क़ानून के खिलाफ विरोध में लिया भाग

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने शुक्रवार को मांग की कि केंद्र देश में शांति और सद्भाव बनाए रखने के लिए संशोधित...

जम्मू कश्मीर मामले में भारत का तुर्की को जवाब; ‘आंतरिक मामलों में दखल ना दें’

भारत ने शुक्रवार को अपनी पाकिस्तान यात्रा के दौरान जम्मू और कश्मीर पर तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन की टिप्पणियों का जवाब दिया...

शाहीन बाग़ के लोगों ने वैलेंटाइन डे पर प्रधानमंत्री मोदी को दिया न्योता

शाहीन बाग (Shaheen Bagh) में सीएए विरोधी प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शुक्रवार को उनके साथ वेलेंटाइन डे मनाने और आने का निमंत्रण...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -