दा इंडियन वायर » खानपान » गर्म पानी पीने से होनें वाले गंभीर नुकसान
खानपान

गर्म पानी पीने से होनें वाले गंभीर नुकसान

गर्म पानी पीने के नुकसान

कहते है हर सिक्के के दो पहलू होते हैं ठीक उसी तरह जो चीजे आपको फायदा पहुंचाती है उसका कुछ न कुछ साइड इफ़ेक्ट यानी की नुकसान जरूर होता हैं। बिना किसी चीज की पूरी जानकारी उसका सेवन भी शरीर के लिए खतरनाक हो सकता है, इसलिए हर पक्ष को समझना जरुरी है, क्या सच में गर्म पानी का सेवन हमारे सेहत पर असर डालता है, खैर ये जानने के लिए आपको यह आर्टिकल पढ़ना पड़ेगा।

चलिए फिर जानते हैं गर्म पानी पीने से होने वाले नुकसान के विषय मे

पानी का सामान्य स्तर जरुरी:

हमारे शरीर में 70 % तक पानी है जो कि हमारे शरीर को हाइड्रेटेड रखता है और शरीर की क्रियाओ को सुचारु रूप से क्रियान्वित करता है। हमे बार-बार यह बताया जाता है समझाया जाता है कि दिनभर में कम से कम 8 से 10 ग्लास पानी जरूर पीना चाहिए पर आपको बता दें कि ज्यादा पानी पीने से भी शरीर को नुकसान पहुंचता है।

ज़हरीला हो सकता है गर्म पानी:

सीधे नल से आया गर्म या गुनगुना पानी जहरीला हो सकता है, अगर पाइप कनेक्शन पुराना हो या अंदर ही अंदर सड़ गया हो तो पानी के विषाक्त होने की आशंकाएं काफी बढ़ जाती हैं। ज़हरीले कण ठंडे पानी की अपेक्षा गर्म पानी में तेज़ी से घुलते हैं और हानि पहुंचाते हैं, सीधे नल से आने वाले पानी का सेवन ना करें, नल से ठंडा पानी भर लें फिर उसको गर्म करके किसी बर्तन में रख ले इतना करने के बाद वह पानी आपके पीने लायक होगा।

किडनी खराब कर सकता है:

अति किसी भी चीज की सही नहीं होती किडनी की भी कार्य करने की अपनी एक क्षमता होती है, अगर आप सोचते हैं की गर्म पानी के ज्यादा सेवन से आपके शरीर से विषैले तत्व बाहर निकल जाएंगे तो ऐसा बिलकुल भी नहीं है। बजाय इसके ज्यादा पानी के सेवन से एक समय के बाद किडनी पर बुरा प्रभाव पड़ना शुरू हो जाता है और समय के साथ किडनियां खराब भी हो सकती हैं।

हो सकती है अनिद्रा की समस्या:

जी हां अगर अनावश्यक गर्म पानी का सेवन करते हैं तो इसका सीधा प्रभाव आपके  नींद पर पड़ता है खासकर  सोने से पहले अगर आप गर्म पानी का सेवन करते हैं, तो ये आपकी नींद को प्रभावित करता है और बार-बार टॉयलेट जाना भी एक बड़ा डिस्टर्बैंस होता है।

जब प्यास लगे तब ही पानी पीएं:

एक अध्ययन के अनुसार प्यास ना होने पर भी बार- बार गर्म पानी पीने से दिमाग ठीक ढंग से काम करना बंद कर देता है और ध्यान लगाने में दिक्कत होती है। इसलिए जब प्यास लगे तब ही पानी का सेवन करना चाहिए, गर्म पानी के ज्यादा सेवन से दिमाग की नसें सूज जाती है और फिर अन्य तरह की समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं।

अत्यधिक सेवन जल इलेक्ट्रोलाइट्स को डाइल्यूट करता है:

अगर शरीर में अतिरिक्त पानी होगा तो, रक्त इलेक्ट्रोलाइट कोशिकाओं से अधिक पतला हो जाता है, इसलिए रक्त और कोशिकाओं के बीच संतुलन बनाए रखने के लिए रक्त से अतिरिक्त पानी सेल में आ जाता है। इससे मस्तिष्क की कोशिकाओं में सूजन आ जाता है और आगे चलकर ये अन्य परशानियों जैसे सिरदर्द और अन्य समस्याओं का कारण बनता है।

ज्यादा पानी खून के आयतन को बढ़ता है:

ज्यादा गर्म पानी पीने से शरीर में रक्त की मात्रा का आयतन बढ़ जाता है, और शरीर की रक्त संचार प्रणाली एक बंद रक्त प्रणाली है आयतन बढ़ने से नसों और ह्रदय को अत्यधिक भार वहन करना पड़ता है।

गर्म पानी शरीर को अंदर से नुकसान पहुंचता है :

गर्म पानी का ज्यादा सेवन यदि मुँह में फफोले हो सकते हैं तो यह अन्नप्रणाली और पाचन तंत्र के संवेदनशील स्तर को भी नुकसान पहुंचा सकता है। शरीर के आंतरिक अंगों पर इसका बहुत अधिक प्रभाव पड़ सकता है क्योंकि गर्म पानी का तापमान शरीर के तापमान से अधिक है।

त्वचा को जला सकता है:

गर्म पानी का सेवन कभी – कभी बेहद हानिकारक साबित होता है और ये आसानी से होंठ और मुँह की त्वचा को जला सकता है। इसलिए गर्म पानी का प्रयोग करने से पहले उसका तापमान चेक कर लें उसके बाद ही उसका सेवन करें। (यह भी पढ़ें : गोरा होनें के उपाय)

सांस लेने में दिक्कत :

बिना सोचे समझे अत्यधिक मात्रा में गर्म पानी के सेवन से शरीर में कई जटिलताएं उत्पन्न हो सकती हैं। दिमाग पर ज्यादा दबाव पड़ने के कारण सांस लेने में  समस्या पैदा कर सकती है और अन्य गंभीर समस्याएं भी उत्पन्न कर सकती है।

ज्यादा पानी पीना शरीर के लिए फायदेमंद नहीं होता यह एक मिथ है, जब बात गर्म पानी की हो तो हमें और भी सावधानी बरतनी चाहिए इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद शायद अब आप गर्म पानी के सही उपयोग के विषय में समझ गए होंगे।

About the author

गरिमा सिंह

1 Comment

Click here to post a comment

  • गर्म पानी पीने से सुबह सुबह क्या नुकसान होते हैं? क्या इसमें कुछ मिलकर पीना चाहिए सर?

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!