Wed. Nov 30th, 2022
    कोबरापोस्ट: 30 से ज्यादा बॉलीवुड सितारों ने पैसे लेकर राजनीतिक दलों का प्रचार करने की जताई सहमति

    जैकी श्रॉफ, कैलाश खेर, सोनू सूद, विवेक ओबेरॉय समेत 30 से ज्यादा बॉलीवुड सितारों को एक स्टिंग ऑपरेशन में पकड़ा गया है। मंगलवार को कोबरापोस्ट ने दावा किया कि ये सितारें पैसे लेकर सोशल मीडिया के जरिये राजनीतिक पार्टियों के एजेंडा का प्रचार करते हैं।

    कोबरापोस्ट के ऑपरेशन केरेओके में संवाददाता पब्लिक रिलेशन कपंनी के प्रतिनिधित्व बनकर इन सितारों से आगामी लोक सभा से पहले सौदा करने के लिए मुलाकात करते हैं।

    एक प्रेस कांफ्रेंस को सम्बोधित करते हुए, कोबरापोस्ट के मुख्य संपादक अनिरुद्ध बहल ने कहा कि इस ऑपरेशन में लगभग 36 सितारें शामिल थे जो अपने फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम अकाउंट पर संदेश पोस्ट करने के लिए सहमत हैं, ताकि चुनावों से पहले कुछ राजनीतिक दलों के लिए अनुकूल वातावरण बनाने में मदद मिल सके।

    उनके मुताबिक, “वे बलात्कार और पुल दुर्घटनाओं जैसे विवादास्पद मुद्दों पर भी सरकार का बचाव करेंगे। वो लोग प्रोडक्ट के एंडोर्समनेट के लिए डमी कॉन्ट्रैक्ट को भी हस्ताक्षर करने के लिए तैयार थे ताकि छल राजनीतिक प्रचार की वास्तविक प्रकृति को छिपाने सकें जो वे करने को तैयार थे।”

    इन कामों में शामिल होने वाली ज्यादातर पार्टी भारतीय जनता पार्टी, आम आदमी पार्टी और कुछ जगह में कांग्रेस भी थी। कई सितारों ने अपने पैन नंबर और अपने बैंक डिटेल्स साझा करने के लिए सहमत हो गए तो कुछ ने नकद की मांग की।

    मीडिया पोर्टल ने कई ऐसे वीडियोस भी साझा किये हैं जिसमे ये सितारें सौदा करते हुए नज़र आ रहे हैं। अभिनेता सोनू सूद ने एक बयान जारी किया था जिसमे उन्होंने इलज़ाम लगाया कि उनकी बातचीत को गलत तरीके से बनाया और दिखाया गया है। उन्होंने कहा कि बातचीत के कुछ ही अंश दिखाएं हैं और बाकि के साथ छेड़-छाड़ की गयी है। उन्होंने ये भी कहा कि ब्रांड और राजनीतिक दलों का सहयोग देना आम बात है जब तक व्यक्ति उनके प्रोडक्ट और विचारधारा में भरोसा करता है।

    कोबरापोस्ट ने बताया कि इन सितारों ने प्रत्येक मैसेज के लिए 2 से 50 लाख रूपये तक की मांग की। कुछ ने आठ महीने के कॉन्ट्रैक्ट के लिए 20 करोड़ रूपये भी मांगे हैं।

    जबकि कुछ ने बिना पैसे दिए ही राजनीतिक दलों का प्रचार किया ताकि उन्हें भी पैसा मिल सकें, वही दूसरी तरफ कुछ सितारों ने इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया।

    उनके मुताबिक, “जब हमने विद्या बालन, अरशद वारसी, रज़ा मुराद और सौम्या टंडन को प्रस्ताव दिया तो उन्होंने अपने दिल की सुनी और सीधा सीधा मना कर दिया।”

    पैसे लेकर राजनीतिक पार्टियों के प्रचार करने वालो की सूची लम्बी है जिसमे श्रेयस तलपड़े, सनी लियॉनी, शक्ति कपूर, अमीषा पटेल, टिस्का चोपड़ा, राखी सावंत, टीवी स्टार पंकज धीर और बेटा निकितिन धीर, पुनीत इस्सर, राजपाल यादव, मिनिषा लम्बा, महिमा चौधरी, रोहित रॉय, अमन वर्मा, कोएना मित्रा, राहुल भट्ट समेत और भी लोग शामिल हैं।

    गायक दलेर मेहँदी, मीका, अभिजीत भट्टाचार्य और बाबा सहगल, कोरियोग्राफर गणेश आचार्य और कॉमेडियन राजपाल यादव, राजू श्रीवास्तव, कृष्णा अभिषेक और विजय ईश्वरलाल पवार भी सूची में शामिल हैं।

    टीवी एक्टर हितेन तेजवानी जिनका नाम अपनी पत्नी गौरी तेजवानी के साथ इस सूची में आया था, उन्होंने पीटीआई को बताया-“हम सिर्फ इतना कह सकते हैं कि हमने कोई पैसा नहीं लिया है। वो हमें पैसा देना चाहते थे और उसका स्टिंग बनाना चाहते थे। वो आधी बातचीत दिखा रहे हैं, इलज़ाम नकली हैं जैसे कोबरापोस्ट नकली है।”

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *