दा इंडियन वायर » लोग » कैटरीना कैफ़ की जीवनी
लोग

कैटरीना कैफ़ की जीवनी

कैटरीना कैफ एक अंग्रेजी अभिनेत्री है, जिन्होंने हिंदी फिल्मों में अभिनय करके खुदको लोकप्रिय बनाया है। कैटरीना ने अपने अभिनय के लिए कई बार आलोचना सुनी है। अपनी ख़राब हिंदी की वजह से उन्होंने बॉलीवुड में काफी संघर्ष भी किया है लेकिन इन सबका सामना करते हुए, आज कैटरीना कैफ़ बॉलीवुड की टॉप हेरोइनो में से एक मानी जाती हैं।

कैटरीना भारत की सबसे महंगी अभिनेत्रियों में से एक हैं। उन्होंने एक मॉडल के रूप में अपना व्यवसाय जीवन शुरू किया था और धीरे धीरे अभिनय की दुनिया में कदम रखा था। उन्होंने बॉलीवुड के सुपर स्टार सलमान खान, शाहरुख़ खान, आमिर खान, अमिताभ बच्चन और अक्षय कुमार जैसे अभिनेताओं के साथ एक नहीं बल्कि कई सारी फिल्मो में अभिनय किया है।

कैटरीना कैफ़ ने साल 2003 से अपने व्यवसाय जीवन की शुरुआत की थी और आज लगभग 17 साल बाद उन्होंने अपनी क़ाबलियत की वजह से सफलता के आसमान को छू लिया है।

कैटरीना कैफ़ का प्रारंभिक जीवन

कैटरीना कैफ का जन्म 16 जुलाई 1983 को हांगकांग में हुआ था। कैटरीना के पिता का नाम ‘मोहम्मद कैफ’ है और वह एक ब्रिटिश व्यवसायी हैं जो कश्मीर के रहने वाले थे। कैटरीना की माँ का नाम ‘सुज़ैन’ है जिन्हे ‘सुज़ाना’ नाम से भी जाना जाता है। सुज़ैन एक अंग्रेजी वकील और चैरिटी कार्यकर्ता है। कैटरीना के परिवार में माँ पापा के अलावा उनके सात भाई बहन और हैं।

कैटरीना से बड़ी तीन बहनें हैं जिनका नाम ‘स्टेफ़नी’, ‘क्रिस्टीन’ और ‘नताशा’ है और उनसे छोटी तीन बहनें हैं जिनका नाम ‘मेलिसा’, ‘सोनिया’ और ‘इसाबेल’ है। कैटरीना का एक बड़ा भाई है जिसका नाम ‘माइकल’ है। उनकी छोटी बहन इसाबेल कैफ भी एक मॉडल और अभिनेत्री हैं। कैटरीना कैफ के माता-पिता का तलाक तब हुआ जब वह छोटी थी। उनके पिता संयुक्त राज्य अमेरिका में रहने चले गए थे।

उन्होंने बताया था कि उनके पिता का उन पर या उनके भाई-बहनों पर कोई प्रभाव नहीं था। उन सबकी परवरिश उनकी माँ ने अकेले ही की थी। उनके जीवन में अपने पिता की अनुपस्थिति पर, कैटरीना कैफ ने कहा था की “जब मैं उन दोस्तों को देखती थी जिनके पिता उनके साथ थे, जिनको अपने परिवार में माँ पापा, दोनों का समर्थन मिलता था, तब मैं सोचती थी की काश ऐसा मेरे साथ भी होता, लेकिन शिकायत करने की बजाए, मुझे आभारी होना चाहिए था की मेरे पास और भी बहुत सी चीज़े हैं”। द इंडियन एक्सप्रेस के साथ 2009 में हुए इंटरव्यू में कैटरीना ने बताया था की उनका अपने पिता के साथ कोई संपर्क नहीं है।

कैटरीना ने अपने किसी एक इंटरव्यू में यह भी बताया था की, उनके पापा के छोड़ जाने के बाद उनकी माँ ने अपना जीवन सामाजिक कार्यों के लिए समर्पित करने का फैसला किया था। इस वजह से कैटरीना और उनके सारे परिवार को कई देशों में अलग-अलग समय तक रहना पड़ता था। उनके बार-बार देशो को बदलने के कारण से कैटरीना और उनके भाई-बहन घर पर ही ट्यूटर्स की मदत से पढाई किया करते थे।

हालाँकि कैटरीना को लगता है कि वह लंदन में पली-बढ़ी है, लेकिन वह सिर्फ 3 साल की थी जब वह अपने परिवार के साथ भारत में रहने आई थी। कैटरीना अपनी माँ का उपनाम बदल कर अपने पिता का उपनाम ‘कैफ़’ इसलिए अपने नाम के पीछे लगाती हैं क्युकी इसे कहना आसान होता है।

कैटरीना कैफ़ का व्यवसायिक जीवन

शुरुआती दौर

कैटरीना कैफ़ सिर्फ चौदह साल की थी, जब उन्होंने ‘हवाई’ में एक प्रतियोगिता को जीता था और इस अभियान में अपना पहला मॉडलिंग असाइनमेंट प्राप्त किया था। इसके बाद उन्होंने लंदन में मॉडलिंग का काम शुरू किया था। कैटरीना मॉडलिंग के शुरुआती समय में फ्रीलांस एजेंसियों के लिए काम किया करती थी और लंदन फैशन वीक में नियमित रूप से दिखाई भी देती थीं।

अपने एक फैशन शो में कैटरीना कैफ ने लंदन स्थित फिल्म निर्माता ‘कैजाद गुस्ताद’ का ध्यान अपनी और आकर्षित किया था। कैजाद ने उन्हें अंग्रेजी-हिंदी फिल्म ‘बूम’ में एक छोटा सा किरदार अभिनय करने का मौका दिया था. इस फिल्म में मुख्य किरदारों को अभिनेता अमिताभ बच्चन, गुलशन ग्रोवर, जैकी श्रॉफ, मधु सप्रे और पद्मा लक्ष्मी शामिल थे।

भारत में फिल्मांकन के दौरान, कैटरीना को और भी कई प्रस्ताव मिले थे और उन्होंने इसके बाद भारत देश में ही रहने का फैसला किया था। साल 2003 में कैटरीना ने ‘इंडियन फैशन वीक’ में रोहित बल के लिए रैंप वॉक किया था, जिसके बाद उन्हें एक मॉडल के रूप में देखा जाने लगा था। कैटरीना ने अपने मॉडलिंग के करियर के दौरान ही किंगफिशर कैलेंडर में खुदको शामिल भी किया था।

इसके बाद उन्होंने हिंदी टीवी विज्ञापन में कोका-कोला, एलजी, फेविकोल और सैमसंग जैसे ब्रांडों के लिए काम करना शुरू किया था। इन्ही सब बातो के दौरान कैटरीना धीरे धीरे भारत में एक सफल मॉडलिंग कैरियर की शुरुआत कर रहीं थीं। अपनी पहली फिल्म ‘बूम’ से अपना बॉलीवुड में डेब्यू करने के बाद कैटरीना को बहुत सी ख़राब टिप्पड़िया सुनने को मिली थी।

सबसे ज़्यादा आलोचना उन्हें हिंदी भाषा के ना बोलने पर की गई थी। कैटरीना ने इन बातो पर ध्यान ना देते हुए अपने अभिनय पर मेहनत करने का फैसला लिया था।

कैटरीना कैफ का फ़िल्मो का सफर

साल 2004 में कैटरीना ने तमिल की फिल्म ‘मल्लीस्वरी’ में अभिनय किया था। इस फिल्म में कैटरीना ने तमिल के हीरो ‘दग्गुबाती वेंकटेश’ के साथ अभिनय किया था। कैटरीना ने इस फिल्म में एक राजकुमारी की भूमिका निभाई थी, जो अपने हत्यारे की देखभाल करने वाले से भागने के लिए मजबूर थी। कैटरीना कैफ को उस फिल्म में अभिनय करने के 7.5 मिलियन वेतन दिया था, जो उस समय की दक्षिण भारतीय फिल्म अभिनेत्री के लिए सबसे अधिक वेतन था।

इसके बाद कैटरीना ने एक बार फिर बॉलीवुड की फिल्मो में अभिनय करने का सोचा था और उन्हें साल 2005 में फिल्म ‘सरकार’ में देखा गया था। यह फिल्म राम गोपाल वर्मा द्वारा निर्देश की गई राजनीतिक थ्रिलर फिल्म थी। इस फिल्म में कैटरीना ने अभिषेक बच्चन की प्रेमिका के किरदार को दर्शाया था। इसके बाद उन्होंने फिल्म ‘मेन प्यार क्यूं किया?’ में अभिनय किया था। इस फिल्म में कैटरीना ने पहली बार बॉलीवुड के सुपरस्टार ‘सलमान खान’, मिस यूनिवर्स ‘सुष्मिता सेन’ और अभिनेता ‘सोहेल खान’ के साथ अभिनय किया था।

यह फिल्म निर्देशक ‘डेविड धवन’ द्वारा निर्देश की गई रोमांटिक कॉमेडी फिल्म थी। इस फिल्म को लोगो ने बहुत पसंद किया था और इसी के साथ कैटरीना की यह पहली बॉलीवुड सफल फिल्म थी। साल 2006 में कैटरीना कैफ़ ने अभिनेता ‘अक्षय कुमार’ के साथ फिल्म ‘हमको दीवाना कर गए’ में अभिनय किया था। इस फिल्म को भी लोगो ने पसंद किया था और साथ ही यह फिल्म भी हिट हुई थी।

साल 2007 में कैटरीना कैफ़ ने एक बार फिर अभिनेता अक्षय कुमार के साथ काम किया था। उन्होंने इस बार ‘विपुल अमृतलाल शाह’ की रोमांटिक कॉमेडी फिल्म ‘नमस्ते लंदन’ में अभिनय किया था। इस फिल्म में उनके किरदार की सभी ने बहुत तारीफ की थी। फिल्म ने भी बॉक्स ऑफिस में काफ़ी अच्छी कमाई की थी।

इसी साल उन्होंने फिल्म ‘अपने’ में भी अभिनय किया था। इस फिल्म में उन्होंने एक डॉक्टर की भूनिका निभाई थी। इस फिल्म में मुख्य किरदारों को अभिनेता धर्मेन्द्र, सनी देओल और बॉबी देओल अभिनय कर रहे थे। इसके बाद कैटरीना कैफ़ ने एक बार फिर निर्देशक ‘डेविड धवन’ के साथ फिल्म ‘पार्टनर’ में काम किया था।

इस फिल्म में उन्होंने अभिनेता सलमान खान, गोविंदा और अभिनेत्री लारा दत्ता के साथ अभिनय किया था। यह एक रोमेंटिक कॉमेडी फिल्म थी जिसमे दोस्ती और प्यार, दोनों को दर्शाया गया था। इस फिल्म में अपने द्वारा दर्शाए गए अभिनय की वजह से कैटरीना ने बहुत वाहवाई बटोरी थी।

अब धीरे धीरे कैटरीना कैफ़ अपनी लोकप्रियता को बढ़ा रही थी और साथ ही उन्हें बॉलीवुड में भी अब बड़े बड़े अभिनेता और निर्देशको के साथ काम करने का मौका मिल रहा था। साल 2007 में ही कैटरीना ने अक्षय कुमार के साथ अपनी तीसरी फिल्म में अभिनय किया था। इस फिल्म का नाम ‘वेलकम’ था। यह एक कॉमेडी फिल्म थी जिसे दर्शको ने इतना पसंद किया था की ये फिल्म उस साल की दूसरी सबसे ज़्यादा कमाई करने वाली फिल्म के रूप में दर्ज हुई थी।

साल 2008 में कैटरीना को फिल्म ‘रेस’ में देखा गया था। इस फिल्म में कैटरीना ने अभिनेता सैफ अली खान, अक्षय खन्ना और अभिनेत्री बिपाशा बासु के साथ अभिनय किया था। यह फिल्म भी एक हिट फिल्म की लिस्ट में दर्ज हुई थी।

फिल्म ‘रेस’ को मिली सफलता के साथ साथ कैटरीना ने अभिनेता अक्षय कुमार के साथ ‘सींग इस किंग’ में अभिनय किया था। यह फिल्म कैटरीना कैफ और अक्षय कुमार की एक साथ अभिनय की हुई चौथी फिल्म थी। इस फिल्म ने भी बॉक्स ऑफिस में तेहेलका मचाया था और कुल 1.25 बिलियन की कमाई के साथ अपना नाम साल की सबसे ज़्यादा कमाने करने वाली फिल्मो की लिस्ट में दर्ज किया था। साल 2008 की आखरी फिल्म, कैटरीना ने सलमान खान के साथ दर्शाई थी।

इस फिल्म का नाम ‘युवराज’ था। लगातार हिट फिल्मो में अभिनय करने के बाद यह एक फिल्म कैटरीना और सलमान की फ्लॉप हो गई थी। कैटरीना की इन सभी फिल्मो में डबड वॉइस थी। इनकी अच्छी हिंदी ना होने की वजह से कैटरीना अपनी आवाज़ का इस्तेमाल नहीं कर रही थी। उनकी अपनी आवाज़ में अभिनय की गई पहली फिल्म ‘न्यू यॉर्क’ थी। इस फिल्म को ‘कबीर खान’ ने निर्देश किया था। फिल्म में कैटरीना, जॉन इब्राहिम और नील नितिन मुकेश ने मुख्य किरदारों को दर्शाया था।

इस फिल्म को लोगो ने बहुत पसंद किया था और फिल्म बॉक्स ऑफिस में सफल रही थी। इस फिल्म में कैटरीना की आवाज़ उनकी खुद की थी, जिसकी वजह से उनके अभिनय में भी काफी बदलाव महसूस हो रहा था। इस फिल्म में उनके अभिनय को लोगो ने बहुत पसंद किया था, साथ ही क्रिटीक्स ने तो यहां तक कह दिया था की ‘इस फिल्म में उनका अभिनय अभी तक का बेस्ट अभिनय है’। साल 2009 में कैटरीना कैफ़ ने पहली बार अभिनेता ‘रनबीर कपूर’ के साथ अभिनय किया था।

फिल्म का नाम ‘अजब प्रेम की गजब कहानी’ था जो राजकुमार संतोषी द्वारा निर्देश की गई कॉमेडी फिल्म थी। यह फिल्म लोगो को बहुत पसंद आई थी। फिल्म ने 1.34 बिलियन की कुल कमाई के साथ अपना नाम हिट लिस्ट में दर्ज कर लिया था। उस साल की कैटरीना की आखरी फिल्म अक्षय कुमार के साथ ‘दे दना दन’ थी। यह फिल्म भी बॉक्स ऑफिस में हिट साबित हुई थी।

साल 2010 में कैटरीना ने फिल्म ‘राजनीती’ में इंदु के किरदार के साथ साल की शुरुआत की थी। इस फिल्म में कैटरीना के साथ अभिनेता रनबीर कपूर ने अभिनय किया था। इन दोनों के अलावा फिल्म में अजय देवगन, अर्जुन रामपाल, नाना पाटेकर, मनोज बाजपेयी और सारा थॉम्पसन को भी देखा गया था। कैटरीना ने अपनी इस फिल्म के लिए बहुत तैयारी की थी।

उन्होंने एक नेता की हरकतों को समझने के लिए कांग्रेस की सांसद नेता ‘प्रियंका गाँधी’ की रैली की कई सारी विडिओ को देखा था। मीडिया में कैटरीना के इस फिल्म के किरदार, यानी ‘इंदु’ के किरदार की तुलना पूर्ण प्रधानमंत्री ‘इंदिरा गाँधी’ से की जा रही थी, जिसे कैटरीना ने साफ़ इनकार कर दिया था। इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस में कुल 1.4 बिलियन की कमाई के साथ अपना नाम ब्लॉकबस्टर फिल्म की सूचि में दर्ज किया था।

इसी साल कैटरीना को फिल्म ‘तीस मार खान’ में देखा गया था। इस फिल्म के गाने ‘शिला की जवानी’ में कैटरीना के डांस की बहुत तारीफ की गई थी। हालांकि फिल्म को कुछ खास प्यार नहीं मिला था।

साल 2011 में कैटरीना ने अभिनेता ह्रितिक रोशन के साथ अभिनय किया था। इस फिल्म का नाम ‘ज़िंदगी ना मिलेगी दुबारा’ था, जिसे ‘ज़ोया अख़्तर’ ने निर्देश किया था। इस फिल्म को बहुत पसंद किया था और साथ ही कैटरीना के अभिनय की भी बहुत सराहना मिली थी। इस फिल्म को उस साल की सबसे पसंदीदा फिल्मो में शामिल किया गया था और फिल्म ने कई अवार्ड शोज में कई सारे अवार्ड्स को अपने नाम किया था।

साल 2011 में ही कैटरीना कैफ़ ने फिल्म ‘मेरे ब्रदर की दुल्हन’ में अभिनेता इमरान खान और अली ज़फर के साथ अभिनय किया था। इस फिल्म में इनके किरदार को पसंद किया गया था लेकिन फिल्म ने कुछ अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था। इसके बाद साल 2012 में फिल्म ‘अग्निपथ’ में कैटरीना ने एक आइटम गाने में डांस किया था। इस गाने का नाम ‘चिकनी चमेली’ था, जिसे दर्शको ने बहुत पसंद किया था और एक बार फिर उनके डांस की बहुत तारीफ भी हुई थी।

उसी साल कैटरीना कैफ एक बार फिर सलमान खान के साथ फिल्म ‘एक था टाइगर’ में नज़र आई थी। इस फिल्म में पाकिस्तानी आईएसआई और हिंदुस्तान के रौ के बारे में दर्शाया गया था। इस फिल्म में कैटरीना ने पाकिस्तानी आईएसआई की एजेंट ‘ज़ोया’ का किरदार अभिनय किया था और सलमान खान ने हिंदुस्तान के रौ के एजेंट ‘टाइगर’ का किरदार अभिनय किया था। इस फिल्म को दर्शको ने बहुत पसंद किया था और फिल्म को ब्लॉकबस्टर फिल्मो की लिस्ट में शामिल किया गया था। इस फिल्म ने कुल 3.1 बिलियन की कमाई की थी और साल की सबसे ज़्यादा कमाई करने वाली फिल्म बनी थी।

इस फिल्म के बाद कैटरीना ने पहली बार बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख़ खान के साथ फिल्म ‘जब तक है जान’ में अभिनय किया था। इस फिल्म में कैटरीना कैफ, शाहरुख़ खान और अनुष्का शर्मा ने अभिनय किया था। यह फिल्म भी बोक्स ऑफिस में ब्लॉकबस्टर साबित हुई थी। फिल्म ने कुल 2.11 बिलियन की कमाई दर्ज की थी। साल 2013 में कैटरीना कैफ ने बॉलीवुड के तीसरे खान ‘आमिर खान’ के साथ भी काम किया था।

आमिर और कैटरीना ने फिल्म ‘धूम 3’ में एक साथ अभिनय किया था। यह फिल्म साल 2013 तक की सबसे ज़्यादा कमाई करने वाली फिल्म थी। इस फिल्म ने कुल 5.42 बिलियन की कमाई की थी, जिसका रिकॉर्ड आमिर खान की ही 2014 में आई फिल्म ‘पीके’ ने थोड़ा था।

साल 2014 में कैटरीना ने एक बार फिर ह्रितिक रोशन के साथ फिल्म ‘बैंग बैंग!’ में अभिनय किया था। इस फिल्म को लोगो ने बहुत पसंद किया था और फिल्म ने अच्छी कमाई भी की थी, लेकिन फिर भी फिल्म के निर्माता खुश नहीं थे। फिल्मे के निर्माताओं के अनुसार जितना सोचा था, फिल्म को उतनी सफलता नहीं मिली थी। इस फिल्म के बाद, साल 2015 से एक बार फिर कैटरीना कैफ को फ्लॉप फिल्मो का सामना करना पड़ा था। उन्होंने 2015 में फिल्म ‘फैंटम’ में अभिनेता ‘सैफ अली खान’ के साथ अभिनय किया था। यह फिल्म फ्लॉप लिस्ट में दाख़िल हुई थी।

इसके बाद उन्होंने ‘अभिषेक कपूर’ द्वारा निर्देश की गई फिल्म ‘फितूर’ में अभिनेता ‘आदित्य रॉय कपूर’ के साथ अभिनय किया था। उनकी यह फिल्म भी बॉक्स ऑफिस में पूरी तरह पिट गई थी और सीधा फ्लॉप लिस्ट में शामिल हुई थी। इसके बाद कैटरीना ने अभिनेता ‘सिद्धार्थ मल्होत्रा’ के साथ फिल्म ‘बार बार देखो’ में अभिनय किया था। इस फिल्म को भी फ्लॉप फिल्मो की लिस्ट में ही जगह मिली थी।

कैटरीना और रनबीर कपूर की फिल्म ‘जग्गा जासूस’ को भी फ्लॉप लिस्ट में ही शामिल किया था। लगातार एक के बाद एक फ्लॉप फिल्मो को दर्शको के बीच पेश करने की वजह से कैटरीना के करियर पर असफलता के दाग लगने लगे थे। साल 2017 में कैटरीना ने एक बार फिर सलमान खान के साथ फिल्म में अभिनय किया था। इस फिल्म का नाम ‘टाइगर ज़िंदा है’ था, जो की 2012 में आई फिल्म ‘एक था टाइगर’ का सीक्वल था।

इस फिल्म ने अपने 3 दिन के अंदर ही लगभग 1.1 बिलियन की कमाई करके अपना नाम ब्लॉकबस्टर फिल्म में तब्दील कर लिया था। कैटरीना कैफ़ ने आमिर खान की फिल्म ‘ठग ऑफ़ हिदुस्तान’ में अभिनय किया था। यह फिल्म पूरी तरफ फ्लॉप हो गई थी। साल 2019 में कैटरीना ने सलमान खान ने साथ फिल्म ‘भारत’ में अभिनय किया था। इस फिल्म ने कुल 325.58 करोड़ की कमाई की थी।

पुरस्कार और उपलब्धियां

कैटरीना कैफ ने अभी तक कुल 41 अवार्ड्स को अपने नाम किया है, जिनमे से कुछ अवार्ड्स की जानकारी नीचे दी गई है।

  • 2011, फिल्म ‘तीस मार खान’ के लिए ‘बेस्ट एक्ट्रेस (पॉपुलर चॉइस)’ का अवार्ड मिला था।
  • 2011, फिल्म ‘राजनीती’ के लिए ‘बेस्ट एक्ट्रेस (पॉपुलर चॉइस)’ का अवार्ड मिला था।
  • 2013, फिल्म ‘एक था टाइगर’ के लिए ‘बेस्ट एक्ट्रेस (पॉपुलर चॉइस)’ का अवार्ड मिला था।
  • 2013, फिल्म ‘जब तक है जान’ के लिए ‘बेस्ट एक्ट्रेस (पॉपुलर चॉइस)’ का अवार्ड मिला था।
  • 2018, ‘बेस्ट रियल स्टार ऑन सोशल मीडिया’ का अवार्ड मिला था।
  • 2008, ‘आइकॉन ऑफ़ द ईयर’ का अवार्ड मिला था।
  • 2006, फिल्म ‘मैंने प्यार क्यों किया?’ के लिए ‘ब्रेकथ्रू परफॉरमेंस – फीमेल’ का अवार्ड मिला था।
  • 2010, फिल्म ‘अजब प्रेम की गजब कहानी’ के लिए ‘स्टार ऑफ़ द ईयर – फीमेल’ का अवार्ड मिला था।

कैटरीना कैफ का निजी जीवन

कैटरीना कैफ का निजी जीवन हमेशा से ही मीडिया के ध्यान का विषय रहा है। वह अपने रोमांटिक जीवन पर चर्चा करना ज़्यादा पसंद नहीं करती हैं। कैटरीना ने अपने इंटरव्यू में कहा था की “मेरा हमेशा से मानना ​​रहा है कि शादी से पहले एक ज़िंदगी होती है और शादी के बाद का एक अलग जीवन होता है। शादी से पहले … आपको एक अकेली महिला कहा जाता है और मैं अपने जीवन के उस हिस्से को पूरी तरह से उसी रूप में चुनना पसंद करती हूं।”

हालांकि सलमान खान के साथ उनके अफेयर की अफवाहें पहली बार साल 2003 में सुनी गई थी। इसके बाद उन दोनों का नाम अक्सर एक दूसरे के साथ जोड़ा गया था। उनके फैंस ने तो उन दोनों को शादी करने का सुझाव भी दे दिया था। वैसे इस रिश्ते की पुष्टि कभी सलमान या कैटरीना, दोनों में से किसी ने भी नहीं की थी। साल 2010 में उन दोनों के ब्रेकअप की खबरे सामने आने लगी थी, जब कैटरीना कैफ ने इस बारे में बात की थी और अपने इस रिश्ते को अपना पहला गंभीर रिश्ता कहा था।

हालांकि सलमान के साथ कैटरीना ने एक दोस्त का रिश्ता हमेशा बनाए रखा था। उन्होंने हमेशा यही कहा है की उनकी इस सफलता का पूरा श्रेय वो सलमान खान को देती हैं। मीडिया में इन दोनों के ब्रेकअप की वजह कैटरीना और रनबीर कपूर के बीच बढ़ रही नज़दीकियों को माना जा रहा था। कैटरीना और रनबीर ने फिल्म ‘अजब प्रेम की गजब कहानी’ में साथ में अभिनय किया था।

सलमान के साथ ब्रेकअप के बाद कैटरीना और रनबीर साथ में कुछ ज़्यादा ही वक़्त बिताने लगे थे, लेकिन उन दोनों में से कभी किसी ने इस बात पर मोहर नहीं लगाया था की वो दोनों प्यार के रिश्ते में बंधे हैं। साल 2016 में कैटरीना कैफ़ और रनबीर कपूर के बीच हुए ब्रेकअप की खबरे ज़ोरो शोरो से उड़ने लगी थी। फिलहाल कैटरीन किसी को डेट नहीं कर रही हैं।

आप अपने सवाल और सुझाव नीचे कमेंट में लिख सकते हैं।

यह लेख आपको कैसा लगा?

नीचे रेटिंग देकर हमें बताइये, ताकि इसे और बेहतर बनाया जा सके

औसत रेटिंग 4.7 / 5. कुल रेटिंग : 86

कोई रेटिंग नहीं, कृपया रेटिंग दीजिये

यदि यह लेख आपको पसंद आया,

सोशल मीडिया पर हमारे साथ जुड़ें

हमें खेद है की यह लेख आपको पसंद नहीं आया,

हमें इसे और बेहतर बनाने के लिए आपके सुझाव चाहिए

कृपया हमें बताएं हम इसमें क्या सुधार कर सकते है?

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!