अजय देवगन अभिनीत फिल्म ‘भुज: द प्राइड ऑफ़ इंडिया’ रामोजी स्टूडियोज में करेगी गुजरात को रिक्रिएट

Must Read

भारत में कोरोनावायरस के मामले 1.5 लाख के करीब, पढ़ें पूरी जानकारी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज कहा है कि 6,535 नए संक्रमणों के बाद भारत में कोरोनोवायरस बीमारी (COVID-19) के...

कबीर सिंह के लिए पुरुष्कार ना मिलने पर शाहिद कपूर ने दिया यह जवाब

कल मंगलवार शाम को शाहिद कपूर (Shahid Kapoor) ने ट्विटर पर अपने प्रशंसकों से बात करने की योजना बनायी...

सिक्किम के बाद लद्दाख में भारत और चीन की सेना में टकराव

सिक्किम में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प की खबरों के बाद उत्तरी सीमा पर दोनों देशों के...
साक्षी बंसल
पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

बॉलीवुड सुपरस्टार अजय देवगन (Ajay Devgn) बहुत जल्द फिल्म ‘भुज: द प्राइड ऑफ़ इंडिया‘ में स्क्वाड्रन लीडर के किरदार में नज़र आने वाले हैं। फिल्म सच्ची घटना पर आधारित है जिसमे सोनाक्षी सिन्हा, राणा दग्गुबती, परिणीति चोपड़ा, संजय दत्त और एमी विर्क भी अहम किरदार में दिखाई देंगे। फिल्म गुजरात में सेट होगी जिसका अगला स्केड्यूल हैदराबाद के रामोजी राव स्टूडियोज में शुरू होगा।

अगर खबरों की मानी जाये तो, मेकर्स रामोजी स्टूडियोज में गुजरात के एक शहर को रिक्रिएट करने वाले हैं। माधोपुर गाँव की एक प्रतिकृति बनाई गयी है जिसके लिए मेकर्स को बड़ी कीमत चुकानी पड़ी। चूँकि वह 70 के दशक की कहानी सुना रहे हैं इसलिए उन्होंने कुछ महत्वपूर्ण स्थानों को रिक्रिएट करना पड़ रहा है। सेट के आसपास सुरक्षा के इन्तेजाम काफी बढ़ा दिए गए हैं ताकि फिल्म के सेट से एक भी तस्वीर या विडियो लीक न हो जाये।

Image result for Bhuj: The Pride Of India

मेकर्स चाहते थे कि फिल्म की शूटिंग भुज में ही की जाये लेकिन सुरक्षा के कुछ मुद्दे सामने आ रहे थे क्योंकि गाँव भारत और पाकिस्तान की सीमा के पास ही है। लेकिन मेकर्स ने ये फैसला लिया है कि फिल्म के कुछ बेहद अहम हिस्से वे वास्तविक स्थानों पर ही शूट करेंगे। अगला स्केड्यूल अगले हफ्ते ही शुरू हो जाएगा।

अजय देवगन स्क्वाड्रन लीडर विजय कार्णिक की भूमिका में होंगे, जो 1971 के भारत-पाक युद्ध के दौरान भुज हवाई अड्डे के प्रभारी थे। यह कार्णिक और उनकी टीम ही थी जिन्होंने 300 स्थानीय महिलाओं की मदद से, गुजरात के भुज में नष्ट हुई भारतीय वायु सेना की हवाई पट्टी का पुनर्निर्माण किया, जिसे भारत का ‘पर्ल हार्बर’ क्षण कहा जा सकता है।

अभिषेक दुधैया निर्देशित फिल्म का निर्माण गिन्नी खनुजा, वजीर सिंह, भूषण कुमार, कृषण कुमार और अभिषेक दुधैया कर रहे हैं। फिल्म अगले साल 14 अगस्त को रिलीज़ होगी।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

भारत में कोरोनावायरस के मामले 1.5 लाख के करीब, पढ़ें पूरी जानकारी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज कहा है कि 6,535 नए संक्रमणों के बाद भारत में कोरोनोवायरस बीमारी (COVID-19) के...

कबीर सिंह के लिए पुरुष्कार ना मिलने पर शाहिद कपूर ने दिया यह जवाब

कल मंगलवार शाम को शाहिद कपूर (Shahid Kapoor) ने ट्विटर पर अपने प्रशंसकों से बात करने की योजना बनायी और लोगों से सवाल पूछने...

सिक्किम के बाद लद्दाख में भारत और चीन की सेना में टकराव

सिक्किम में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प की खबरों के बाद उत्तरी सीमा पर दोनों देशों के सैनिकों के बीच टकराव की...

औरंगाबाद में रेल के नीचे आने से 16 मजदूरों की मौत, 45 किमी की दूरी तय करने के बाद हुई घटना

महाराष्ट्र (Maharashtra) के औरंगाबाद (Aurangabad) शहर में शुक्रवार सुबह कम से कम 16 प्रवासी श्रमिक ट्रेन के नीचे कुचले गए, जब वे मध्य प्रदेश...

भारत में कोरोनावायरस के आंकड़े 50,000 के पार, महाराष्ट्र में सबसे भयानक स्थिति

भारत (India) में कोरोनावायरस (Coronavirus) से संक्रमित लोगों की संख्या में पिछले दो दिनों में 14 फीसदी की वृद्धि देखि गयी है। यह आंकड़ा...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -