बुधवार, अक्टूबर 23, 2019

2020 में जिओ लांच करेगा 5G इंटरनेट सुविधा : एसबीआईकैप सिक्योरिटीज

Must Read

हरियाणा-महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव : नतीजे तय करेंगे खट्टर और फडणवीस का कद

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर,(आईएएनएस)। हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के गुरुवार (24 अक्टूबर) को घोषित होने जा रहे नतीजे...

कांग्रेस नेता डी.के. शिवकुमार को जमानत

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और कर्नाटक के पूर्व मंत्री डी.के. शिवकुमार को दिल्ली हाईकोर्ट...

सोनिया ने हरियाणा व महाराष्ट्र के चुनावी नतीजों के बाद बुलाई बैठक

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनाव के नतीजे...
विकास सिंह
विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

रिलायंस जिओ वर्ष 2020 की दूसरी छमाही में भारत में 5G इंटरनेट लांच करेगा ताकि वह 4G इंटरनेट के मामले में दुसरे प्रदाताओं से प्रतिस्पर्धा में ना पिछड़े। इसके मुख्य प्रतिस्पर्धी एयरटेल और वोडफोन हैं जोकि वर्तमान में पूँजी निवेश पा चुके हैं और बाज़ार में बेहतर होने की योजना बना रहे हैं। इनसे एक कदम आगे रहने के लिए जिओ सबसे पहले 5G इंटरनेट लांच कर देना चाहता है।

एयरटेल-वोडा की फंड रेजिंग से हुआ जिओ प्रेरित :

यदि एसबीआईकैप सिक्योरिटीज का मत मानें तो एयरटेल और वोडाफोन द्वारा हाल ही में जो फंड निवेश किया गया है, जिओ उसी से प्रेरित होकर बाज़ार में नयी तकनीक लाने को उत्सुक हुआ है। जिओ को पता है की इतना बड़ा निवेश पाकर एयरटेल और वोडाफोन अवश्य ही 4G मार्किट में निवेश करेंगे जिससे जिओ को हानि हो सकती है। अतः प्रतिस्पर्धा में उन्हें कोई भी मौका ना देने के लिए जिओ यह उन्नत तकनीक लाने की योजना बना रहा है।

एसबीआई कैप के सहप्रमुख राजीव शर्मा का अनुमान :

एसबीआईसीएपी सिक्योरिटीज के अनुसंधान प्रमुख राजीव शर्मा ने कहा कि उन्हें जनवरी 2020 तक 5 जी स्पेक्ट्रम की नीलामी हो जाने की उम्मीद है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी बताया की रिलायंस जिओ एकमात्र ऐसा दूरसंचार ऑपरेटर है जिसने 5G एयरवेव की शुरुआती बिक्री का समर्थन किया है। भारती एयरटेल और वोडाफोन आईडिया दोनों ने जल्द नीलामी का विरोध किया है। एयरटेल ने जहां 5G नीलामी का मूल्य घटाने की मांग की है वहीँ वोडाफोन ने नीलामी को स्थगित करने के लिए दरखास्त की है। 

जिओ को होंगे अनेक फायदे :

राजीव शर्मा ने बताया की उनके अनुसार जिओ नीलामी से 5G एयरवेव खरीद लेगा। यदि जिओ ऐसा करता है तो वह 5G बाज़ार का अकेला टेलिकॉम प्रदाता होगा। एयरटेल और वोडाफोन के 5G बाज़ार में प्रवेश से पहले ही वह ग्राहकों का बड़ा बेस तैयार कर लेगा। एयरटेल और वोडाफोन जोकि अभी अपने घाटे से ही नहीं उभर पाए हैं और निवेश के द्वारा 4G बाज़ार में बेहतर प्रतिस्पर्धा करने की सोच रहे हैं, उन्हें 5G बाज़ार में आने में काफी समय लगेगा।

इसके अलावा यदि जिओ 5G सबसे पहले लाता है तो उसे ब्रॉडबैंड मार्किट में भी बढ़त मिलेगी क्योंकि ग्राहक सबसे ज्यादा इन्टरनेट स्पीड चाहेंगे जोकि जिओ यदि देने में सफल होतः ई तो एयरटेल के समान उसका भी एक बड़ा ब्रॉडबैंड मार्किट तैयार होगा।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

हरियाणा-महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव : नतीजे तय करेंगे खट्टर और फडणवीस का कद

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर,(आईएएनएस)। हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के गुरुवार (24 अक्टूबर) को घोषित होने जा रहे नतीजे...

कांग्रेस नेता डी.के. शिवकुमार को जमानत

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और कर्नाटक के पूर्व मंत्री डी.के. शिवकुमार को दिल्ली हाईकोर्ट ने बुधवार को जमानत दे...

सोनिया ने हरियाणा व महाराष्ट्र के चुनावी नतीजों के बाद बुलाई बैठक

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद 25 अक्टूबर...

बिहार में पुलिस और रेत माफिया के बीच झड़प, ग्रामीण की मौत

बांका (बिहार), 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। बिहार के बांका जिले के अमरपुर थाना क्षेत्र में रेत (बालू) माफिया और पुलिस के बीच हुई झड़प में...

फर्रुखाबाद में भाजपा विधायक के आवास से कुछ दूरी पर हुए विस्फोट से मचा हड़कंप

फर्रुखाबाद, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद में बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक मेजर सुनीलदत्त द्विवेदी के आवास से कुछ...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -