गुरूवार, फ़रवरी 20, 2020

लैंडिंग अनुमति न मिलने पर, सड़क मार्ग से पश्चिम बंगाल में रैली करने पहुचेंगे योगी आदित्यनाथ

Must Read

डोनाल्ड ट्रम्प की अहमदाबाद की 3 घंटे की यात्रा के लिए 80 करोड़ रुपये खर्च करेगी गुजरात सरकार: रिपोर्ट

समाचार एजेंसी रायटर ने बुधवार को सूचना दी कि अहमदाबाद में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की...

डोनाल्ड ट्रम्प के दौरे की तैयारियां भारतियों की ‘गुलाम मानसिकता’ को दर्शाता है: शिवसेना

शिवसेना (Shivsena) ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की बहुप्रतीक्षित यात्रा की चल रही...

“अरविंद केजरीवाल को कभी आतंकवादी नहीं कहा”: प्रकाश जावड़ेकर

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने शुक्रवार को इस बात से इनकार किया कि उन्होंने कभी दिल्ली के...

पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा हेलिकॉप्टर लैंडिंग की अनुमति न मिलने के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रैली को संबोधित करने सड़क मार्ग से पहुचेंगे।

योगी आदित्यनाथ की यह रैली पुरुलिया में प्रस्तावित है, जिसकी वजह से योगी आदित्यनाथ के हेलिकॉप्टर को पश्चिम बंगाल के दक्षिण दिनाजपुर में लैंड करना था।

गौरतलब है कि योगी आदित्यनाथ को यह रैली मंगलवार को करनी है। इस रैली में योगी के साथ ही भाजपा के वरिष्ठ नेता शिवराज सिंह चौहान और शाहनवाज़ हुसैन के भी शामिल होने की संभावना है।

पश्चिम बंगाल की ममता सरकार द्वारा हेलीकाप्टर लैंडिंग की अनुमति न मिलने पर अब आदित्यनाथ का हेलीकाप्टर झारखंड के बोकारो में लैंड करेगा, जहां से योगी सड़क मार्ग द्वारा पुरुलिया तक जाएंगे।

मालूम हो कि ममता सरकार ने योगी आदित्यनाथ की पिछली रैली में भी उनका हेलीकाप्टर उतारने की इजाजत नहीं दी थी। ममता सरकार का कहना था कि सुरक्षा कारणों से ऐसा किया गया था। उस रैली को योगी आदित्यनाथ ने फोन से ही संबोधित किया था।

उसके बाद योगी आदित्यनाथ ने ममता पर हमला बोलते हुए कहा था कि लोकतन्त्र में इस तरह की हरकत की कोई स्वीकार्यता नहीं है।

योगी आदित्यनाथ पुरुलिया में प्रस्तावित रैली को मंगलवार के दिन शाम 3:30 बजे से संबोधित करेंगे।

आपको बताते चलें कि इस वक़्त पश्चिम बंगाल में भाजपा और टीएमसी के बीच राजनीतिक जंग चालू है। ऐसे में अभी रविवार को ही पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में सीबीआई और सरकार के बीच तकरार देखने को मिली है।

फिलहाल ममता बनर्जी भाजपा की केंद्र सरकार का विरोध करते हुए ‘लोकतन्त्र बचाओ’ का नारा देते हुए धरने पर बैठी हैं

मालूम हो कि सीबीआई सारदा चिटफंड मामले में कोलकाता कमिश्नर राजीव कुमार से पूछताछ करने गयी थी, जहां सीबीआई और राज्य पुलिस के बीच आमने सामने का माहौल बन गया। इसके बाद से ही ममता धरने पर बैठीं है।

यह भी पढ़ें: नरेन्द्र मोदी के दौरे से पहले बंगाल में जारी है ममता का पोस्टर हमला

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

डोनाल्ड ट्रम्प की अहमदाबाद की 3 घंटे की यात्रा के लिए 80 करोड़ रुपये खर्च करेगी गुजरात सरकार: रिपोर्ट

समाचार एजेंसी रायटर ने बुधवार को सूचना दी कि अहमदाबाद में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की...

डोनाल्ड ट्रम्प के दौरे की तैयारियां भारतियों की ‘गुलाम मानसिकता’ को दर्शाता है: शिवसेना

शिवसेना (Shivsena) ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की बहुप्रतीक्षित यात्रा की चल रही तैयारी भारतीयों की "गुलाम मानसिकता"...

“अरविंद केजरीवाल को कभी आतंकवादी नहीं कहा”: प्रकाश जावड़ेकर

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने शुक्रवार को इस बात से इनकार किया कि उन्होंने कभी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal)...

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत नें नागरिकता क़ानून के खिलाफ विरोध में लिया भाग

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने शुक्रवार को मांग की कि केंद्र देश में शांति और सद्भाव बनाए रखने के लिए संशोधित...

जम्मू कश्मीर मामले में भारत का तुर्की को जवाब; ‘आंतरिक मामलों में दखल ना दें’

भारत ने शुक्रवार को अपनी पाकिस्तान यात्रा के दौरान जम्मू और कश्मीर पर तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन की टिप्पणियों का जवाब दिया...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -