पश्चिम बंगाल में पुलिस और सीबीआई की तकरार के बाद धरने पर बैठीं ममता बनर्जी

0
ममता धरना
bitcoin trading

कल रविवार को पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में हुए हाई प्रोफ़ाइल ड्रामे के बाद अब बात और बिगड़ती हुई नज़र आ रही है। मालूम हो कि कल सीबीआई के कुछ अधिकारी एक चिटफंड मामले में कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के आवास पर छापेमारी करने गए थे।

छापेमारी से पहले ही इसकी खबर राज्य पुलिस को लग गयी थी, जिसके बाद सीबीआई के छापे से पहले ही कमिश्नर के घर को राज्य पुलिस द्वारा छावनी में तब्दील कर दिया गया था।

ऐसे में जब सीबीआई के अधिकारी छापेमारी करने राजीव कुमार के घर पहुँचे तो पुलिस ने उन अधिकारियों को ही अपनी गिरफ्त में ले लिया था।

इस घटनाक्रम के तुरंत बाद ही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधते हुए इसे बड़े की राजनीति का नाम दे दिया है।

ममता बनर्जी ने ये ऐलान किया है कि इस घटनाक्रम के बाद अब वो चुप नहीं बैठेंगी और रविवार शाम से ही केंद्र सरकार के इस रवैये के विरोध में धरना देंगी.

घटनाक्रम के बाद ममता बनर्जी की पार्टी की तरफ से जारी किया गया ट्वीट-

वहीं राहुल गांधी ने ममता बनर्जी के समर्थन में ट्वीट करते हुए कहा है कि विपक्ष एकजुट होकर उनके साथ खड़ा है-

आपको बताते चलें कि ममता बनर्जी ने फौरन ही कमिश्नर के घर पर ही एक उच्च स्तरीय बैठक भी की है, जिसमें राज्य पुलिस के लिए भी ममता बनर्जी ने निर्देश जारी कर दिये हैं। ऐसे में अब कोलकाता छावनी जैसा ही नज़र आने लगा है।

इस बैठक में जिलों के कमिश्नर, एडीजी कानून व्यवस्था अनुज शर्मा व डीजीपी वीरेंद्र के साथ ही कई उच्चस्तरीय अधिकारी शामिल हुए हैं।

एक ओर ममता ने जहां इस घटना को आपातकाल से भी बदतर बताया है, वहीं दूसरी ओर भाजपा की केंद्र सरकार भी इस मामले पर अपने कदम पीछे खींचते हुए नहीं दिख रही है।

मालूम हो कि सीबीआई ने कुमार पर सारधा और रोज़ वैली पोंजी स्कीम घोटालों में शामिल होने के आरोप लगाए हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here