दा इंडियन वायर » खानपान » सोने से पहले पानी पीना है कितना ज़रूरी?
खानपान

सोने से पहले पानी पीना है कितना ज़रूरी?

सोने से पहले पानी पीना drinking water before sleep in hindi

पानी हमारे जीवन के लिए अनमोल है। हम पूरे दिन पानी पीते हैं ताकि हमारे शरीर में पानी की कमी न हो जाये। दिन के सारे कार्यों में हमारी उर्जा खर्च होती है और उस उर्जा को वापिस लाने के लिये आवश्यक है कि हम पानी का सेवन उचित मात्रा में करें।

पूरे दिन में सांस लेते समय, पसीने के रूप में, या फिर पाचन प्रक्रिया के समय हमारे शरीर से पानी कम हो जाता है और इस पानी को शरीर में बनाये रखना ज़रूरी होता है।

कुछ लोग सोने से पहले पानी पीकर सोते हैं ताकि रात भर उनके शरीर में उर्जा बनी रहे। लेकिन शोधकर्ता इस बात पर सवाल उठाते हैं कि रात में सोने से पहले पानी का सेवन उचित है या नहीं।

आइये हम इस बात पर चर्चा करते हैं और जानते हैं कि रात में पानी पीना चाहिए या नही।

पानी और सोने में आने वाली बाधाएं

रात में सोने से पहले पानी पीने से आप बार बार पेशाब के लिए जाते हैं जिससे आपकी नींद टूटती है और आपकी सोने की अवधि में बाधाएं आती हैं।

यह पाया गया है कि रात में आपके मूत्र के उत्पादन में कमी आती है, जिससे आप छह से आठ घंटों तक बिना किसी रुकावट के सो सकते हैं। बिस्तर से पहले एक गिलास या दो पानी नींद के इस चक्र को बदल सकता है।

नींद की कमी से आपको अनेकों बिमारियों का सामना करना पड़ सकता है जैसे कि:

  • हाई ब्लूड प्रेशर
  • हाई कोलेस्ट्रोल
  • बढ़ा हुआ वज़न

शोधकर्ताओं ने यह पाया है कि जिन लोगों की नींद पूरी नही होती उनको हार्ट की समस्याओं का सामना करना पड़ता है और उनको स्ट्रोक्स आने की सम्भावना ज्यादा होती है। इसके अलावा उम्र के साथ इंसान का ब्लैडर ज्यादा एक्टिव हो जाता है जिससे नींद की समस्या और ज्यादा बढ़ जाती है।

सोने से पहले पानी पीने के मुख्य फायदे (drinking water benefits before sleep in hindi)

सोने से पहले पानी पीने के 2 मुख्य फायदे हैं:

1. मूड में सुधार

2014 में किये गए एक शोध के अनुसार पानी का अभाव हमारे मूड पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है जो आपके सोने के चक्र को भी बदल देता है

एक शोध में यह पता चला है कि जो लोग अत्यधिक पानी पीते हैं, उनको यदि ज्यादा पानी न दिया जाये तो उनके स्वभाव में परिवर्तन आ जाता है और वे शांत नहीं रह पाते। साथ ही साथ उनके अन्दर नकारात्मक भावनाएं जाग्रत होने लगती हैं।

इसके अलावा जो लोग कम पानी पीते हैं उनके पानी की मात्र में वृद्धि करने पर उनमें नए परिवर्तन आये और वे ज्यादा शांत नज़र आने लगे। उनके मन में सकारात्मक विचार आने लगे।

2. अंधरुनि सफाई

पानी पीने से विशेषकर गर्म पानी पीने से पाचन तंत्र सही काम करता है और शरीर में से विकारों को साफ़ करता है। गर्म पानी रक्त का संचार बढाता है जिससे पसीना निकलता है और शरीर को गन्दगी साफ़ करने में मदद मिलती है। पसीने से आप रात में कुछ तरल पदार्थ खो देंगे, लेकिन यह अतिरिक्त तत्व और विषों को भी हटा देता है और त्वचा कोशिकाओं को साफ कर देता है।

सोने से पहले गर्म पानी पीने से आप रात के दौरान हाइड्रेटेड रहेंगे और शरीर को अनचाहे विषाक्त पदार्थों से छुटकारा पाने में मदद कर सकते हैं। यह पेट में दर्द या ऐंठन को दूर करने में भी मदद कर सकता है।

यदि आपको सादा पानी पीने में समस्या आ रही है तो आप इसमें नीम्बू का प्रयोग कर सकते हैं। नीम्बू में विटामिन सी होता है जो आपके इम्यून सिस्टम को भी मज़बूत बना देगा।

पानी पीने का सही समय कौनसा है? (what is the right time to drink water in hindi)

सोने से पहले पानी पीने के अनेकों फायदे हैं लेकिन इसके दुष्प्रभाव भी हैं। इससे आपकी नींद के चक्र में बाधा आती है जिससे आपको अनगिनत समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

इसी कारण यह कहा जाता है कि हमें दिन में ही इतना पानी पी लेना चाहिए कि रात में शरीर में पानी की कमी न रहे। वैसे तो प्रतिदिन 8 गिलास पानी पीने की सलाह दी जाती है लेकिन यह संख्या लोगों के हिसाब से और उनके कार्यों के अनुसार बदलती रहती है।

हाइड्रेटेड रहने के लिए कुछ सर्वोत्तम उपाय हैं:

  • ज्यादा फल और सब्जियां खाएं क्योंकि उसमें भारी मात्रा में पानी होता है
  • कुछ भी खाने के बाद पानी अवश्य पीयें
  • एक्सरसाइज करने से पहले और उसके बाद पानी अवश्य पीयें
  • जब भूख लगे तो पानी पीयें क्योंकि कभी कभी शरीर प्यासा होने पर भूख जैसा प्रतीत होने लगता है

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!