Wed. Feb 1st, 2023
    श्रेया घोसाल जन्मदिन

    बॉलीवुड के सबसे अच्छे गायकों में से एक श्रेया घोषाल का आज जन्मदिन है। और इस मौके पर उन्हें भारत से ही नहीं बल्कि पूरे विश्व से शुभकामनाएं दी जा रही हैं। इनका जन्म 12 मार्च 1984 को हुआ था।

    उन्हें चार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार, छह फिल्मफेयर पुरस्कार मिले हैं जिनमें पांच सर्वश्रेष्ठ महिला पार्श्व गायिका, नौ फिल्मफेयर पुरस्कार, चार केरल राज्य फिल्म पुरस्कार और दो तमिलनाडु राज्य फिल्म पुरस्कार शामिल हैं। उन्होंने विभिन्न भारतीय भाषाओं में फिल्म संगीत और एल्बमों के लिए गाने रिकॉर्ड किए हैं और खुद को भारतीय सिनेमा के एक प्रमुख पार्श्व गायक के रूप में स्थापित किया है।

    इस खास मौके पर आइये हम आपको श्रेया के बचपन  की एक प्यारी तस्वीर दिखाते हैं।

    shreya ghosaal childhood
    स्रोत: ट्विटर

    इस तस्वीर में वह काला टीका लगाए और हाँथ में वाद्ययंत्र पकड़े दिख रही हैं। इस तस्वीर को देखकर देखकर यह यकिन हो जाता है की उन्होंने वास्तव में ही संगीत को अपनी पूरी ज़िन्दगी दी है।

    घोषाल कम उम्र से ही प्लेबैक सिंगर बनने की ख्वाहिश रखती थीं। चार साल की उम्र में, उन्होंने संगीत सीखना शुरू कर दिया था और छह साल की उम्र में, उन्होंने शास्त्रीय संगीत में औपचारिक प्रशिक्षण शुरू किया।

    सोलह वर्ष की आयु में, उन्हें फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली द्वारा खोजा गया था जब उन्होंने टेलीविजन गायन रियलिटी शो सा रे गा मा पा में जीत हासिल की थी। ​​इसके बाद, उन्होंने भंसाली की रोमांटिक फिल्म देवदास (2002) के साथ बॉलीवुड पार्श्व गायन की शुरुआत की। जिसके लिए उन्हें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार, सर्वश्रेष्ठ महिला पार्श्व गायिका के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार और नए संगीत पुरस्कार के लिए फिल्मफेयर आरडी बर्मन पुरस्कार मिला था।

    सोनी म्यूजिक इंडिया ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि, “वह हिट गानों को सुपरहिट गानों में और गानों को क्लासिक में बदल  सकती हैं। मेलोडी क्वीन श्रेया घोषाल को जन्मदिन की शुभकामनाएं।”

    ज़ी म्यूजिक कंपनी ने लिखा है कि, “बॉलीवुड में सबसे अच्छी आवाज़ों में से एक को जन्मदिन की शुभकामनाएं।”

    श्रेया संगीत में पॉप, ग़ज़ल, क्लासिकल और भजन गाती हैं वह म्यूजिक प्रोड्यूसर भी हैं।

    यह भी पढ़ें: ‘आनंद’ रिलीज़ होने की सुबह कोई नहीं पहचानता था अमिताभ बच्चन को, शाम को बन गए सुपरस्टार

    By साक्षी सिंह

    Writer, Theatre Artist and Bellydancer

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *