Sat. Nov 26th, 2022
    shivsena prashant kishor

    शिवसेना ने सभी को चौकाते हुए एक बड़ा कदम उठाया है, जिसके तहत शिवसेना आगामी लोकसभा चुनाव के लिए देश के जाने माने रणनीतिकार प्रशांत किशोर की सेवाएँ लेने जा रही है।

    गौरतलब है कि शिवसेना और बीजेपी के बीच सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। वहीं दूसरी ओर प्रशांत किशोर जेडीयू के उपाध्यक्ष भी है। मालूम हो कि जेडीयू एनडीए का हिस्सा होने के साथ ही पार्टी ने बीजेपी के साथ मिलकर बिहार में सरकार बना रखी है।

    प्रशांत किशोर को एक बेहद सफल रणनीतिकर माना जाता है। प्रशांत किशोर ने ही 2014 लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी की जीत की आधारशिला रखी थी।

    शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने प्रशांत किशोर के साथ अपने आवास पर एक बैठक की है, जिसके बाद यह तय हुआ है कि आगामी लोकसभा चुनाव में प्रशांत किशोर शिवसेना के साथ मिलकर काम करेंगे।

    इस पर शिव सेना के एक सांसद ने बयान देते हुए कहा है कि प्रशांत किशोर आगामी आम चुनाव में शिवसेना के प्रमुख रणनीतिकार होंगे।

    इसी के साथ ही अब प्रशांत किशोर की टीम अपने काम में लग जाएगी, जिसके तहत किशोर शिवसेना के सभी सांसदों से बात करते हुए आगे की रणनीति तैयार करेंगे।

    शिवसेना का यह कदम इस लिए भी आश्चर्यचकित करने वाला है क्योंकि अभी तक शिवसेना और बीजेपी के बीच सब कुछ अच्छा नहीं चल रहा है। सभी के बीच यह संशय बना हुआ है कि आने वाले आम चुनावों के लिए क्या बीजेपी और शिवसेना फिर एक साथ दिखाई देंगे?

    हालाँकि ठाकरे ने स्पष्ट करते हुए बताया है कि अभी तक भाजपा की ओर से कोई भी आधिकारिक चिट्ठी शिव सेना के पास नहीं आई है, ऐसे में अभी गठबंधन को लेकर संशय बरकरार है।

    वहीं दूसरी ओर शिव सेना के प्रवक्ता और सांसद संजय राऊत ने यह स्पष्ट किया है कि प्रशांत किशोर शिव सेना और बीजेपी के बीच सुलह करने के लिए मध्यस्थ नहीं बनेंगे।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *