दा इंडियन वायर » समाचार » राजस्थान : अमित शाह ने सीएए पर राहुल गांधी को बहस के लिए दी चुनौती, कहा कानून नहीं पढ़ा, तो इतालवी भाषा में भेज देता हूं
समाचार

राजस्थान : अमित शाह ने सीएए पर राहुल गांधी को बहस के लिए दी चुनौती, कहा कानून नहीं पढ़ा, तो इतालवी भाषा में भेज देता हूं

पिछले कई दिनों से देश के विभिन्न हिस्सों में नागरिकता संशोधन अधिनियम के विरोध में चल रहे प्रदर्शनों को लेकर गृहमंत्री अमित शाह ने कांग्रेस समेत विपक्ष पर जमकर हमला किया। गृहमंत्री अमित शाह ने वादा किया है कि भाजपा किसी कीमत पर नगरिकता संशोधन अधिनियम से एक इंच भी पीछे नहीं हटेगी।

सारी पार्टियां भाजपा के खिलाफ एक साथ हो जाएं, फिर भी भाजपा सीएए से पीछे नहीं हटेगी

राजस्थान के जोधपुर में शुक्रवाक को नागरिकता संशोधन अधिनियम के समर्थन में आयोजित एक रैली के दौरान गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि, “अगर यह सारे राजनीतिक दल भाजपा के खिलाफ एक साथ भी हो जाएं, तो भी भाजपा नागरिकता संशोधन अधिनियम के मुद्दे से एक इंच भी पीछे नहीं हटेगी। आप जितनी चाहें, सीएए को लेकर उतनी अफवाह फैला लें।”

राहुल बाबा कानून पढ़ा है, तो कही पर भी चर्चा के लिए आ जाओ

गृहमंत्री शाह ने राहुल गांधी को सीएए पर बहस के लिए चुनौती देते हुए कहा कि, राहुल बाबा कानून पढ़ा है, तो कहीं पर भी चर्चा करने के लिए आ जाओ। नहीं पढ़ा है, तो मैं इतालवी में भी इसका अनुवाद करके आप को भेज देता हूं। उसको पढ़ लीजिए। गृहमंत्री शाह ने कहा कि, वोट बैंक की राजनीति के लिए कांग्रेस वीर सावरकर जैसे महान व्यक्ति के भी खिलाफ बोल रही है। कांग्रेस के लोगों को खुद पर शर्म आनी चाहिए।

नागरिकता लेने का नहीं, देने का कानून है

सीएए के समर्थन में जनता को संबोधित करते हुए गृहमंत्री शाह ने कहा कि, भारत में अल्पसंख्यक सम्मानपूर्वक रहते हैं। जबकि पड़ोसी देशों में उनका प्रतिशत कम हो गया है। नागरिकता संशोधन अधिनियम में किसी की नागरिकता लेने का प्रावधान है ही नहीं, यह नागरिकता देने का कानून है।

गहलोत जी, सीएए की बजाय कोटा में मर रहे बच्चों पर ध्यान केंद्रित करें

गृहमंत्री अमित शाह ने इस दौरान कोटा अस्पताल त्रासदी को लेकर राजस्थान सीम अशोक गहलोत पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि, गहलोत जी, नागरिकता संशोधन अधिनियम का विरोध करने के बजाय, जो बच्चे कोटा में रोज मर रहे हैं, उन पर अपना ध्यान केंद्रित करिए। उनके प्रति कुछ चिंताएं दिखाएं। बच्चों की माएं आपको कोस रही हैं। बता दें, गुरुवार को सीएम अशोक गहलोत ने कहा था कि, नागरिकता कानून को लेकर जो विरोध हो रहा है। उससे ध्यान हटाने के लिए विपक्ष इस मुद्दो को उठा रहा है।

About the author

विन्यास उपाध्याय

Add Comment

Click here to post a comment




फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!