होम खेल विराट कोहली की कप्तानी पर सवाल उठाते हुए पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने कहा कुछ ऐसा

विराट कोहली की कप्तानी पर सवाल उठाते हुए पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने कहा कुछ ऐसा

0
विराट कोहली की कप्तानी पर सवाल उठाते हुए पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने कहा कुछ ऐसा

पूर्व भारतीय सालामी बल्लेबाज गौतम गंभीर का मानना है कि विराट कोहली को आभारी होना चाहिए कि रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने अपने निराशाजनक परिणामों के बावजूद उनके साथ रहने का फैसला किया है।

गौतम गंभीर ने यह भी कहा कि कोहली की तुलना चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान एमएस धोनी और मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा से नही करनी चाहिए क्योंकि इन दोनो ने इंडियन प्रीमियर लीग के खिताब पर 3 बार कब्जा किया है।

गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स के विश्लेषण शो में आईपीएल 2019 से पहले कहा, “अभी उन्हे एक लंबा रास्ता तय करना है। मैं उन्हे एक कुशल कप्तान के रुप में नही देखता। इसलिए अंततः एक कप्तान केवल अपने रिकॉर्ड के रूप में अच्छा है जब तक आप आईपीएल नहीं जीतते। यह कुछ ऐसे लोग भी है जिन्होने आईपीएल ट्रॉफी तीन बार जीती है- एमएस धोनी औऱ रोहित शर्मा। तो मुझे लगता है उन्हे अभी बहुत लंबा रास्ता तय करना है। आप इस स्तर पर रोहित या धोनी जैसे किसी से उनकी तुलना नहीं कर सकते क्योंकि वह पिछले सात से आठ वर्षों से आरसीबी का हिस्सा है और आरसीबी की कप्तानी कर रहे है और वह बहुत भाग्यशाली रहे है और उन्हें फ्रेंचाइजी को धन्यवाद देना चाहिए कि वे उससे चिपके रहे क्योंकि कई नहीं कप्तानों को इतना लंबा समय नही मिला है, जहां उन्होंने एक टूर्नामेंट नहीं जीता है।”

कोहली ने 96 मैचों में आरसीबी का नेतृत्व किया है और उनकी टीम ने 45.83% के साथ इन मुकाबलों में से 44 में जीत हासिल की है।

शनिवार को बेंगलूरु में विराट कोहली ने कहा कि गलत फैसले ही वे कारण थे जिनकी वजह से रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) ने अब तक के सभी सत्रों में एक भी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) खिताब नहीं जीता।

कोहली ने कहा, “अगर आप गलत फैसले लेते हैं, तो आप हार जाएंगे। बड़े खेलों में हमारा निर्णय अच्छा नहीं था। जब टीम का निर्णय संतुलित होता है, तो उन टीमों ने आईपीएल में जीत हासिल की है।”

यहा देखे आईपीएल 2019 से पहले आरसीबी की प्रेस कॉन्फ्रेंस-

https://www.youtube.com/watch?v=G9I21iLm-RM

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here